NewsState

जिलों में बनेगा “खिलौना बैंक”

blank

आंगनवाड़ी केंद्रों पर अच्छा कार्य करने वाली आंगनवाडी कार्यकत्रियों को गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी को जिला मुख्यालयों पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में सम्मानित किया जाए- कमिश्‍नर

गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी को मंडलीय कार्यालय मुख्यालय पर आयोजित कार्यक्रम में अच्छा कार्य करने वाली आंगनवाड़ी कार्यकत्रियों को कमिश्‍नर करेंगे सम्मानित

गोवंश आश्रय स्थलों पर रात्रि में रहेंगे पीआरडी के जवान- दीपक अग्रवाल

प्रत्येक गोवंश आश्रय स्थलों पर डीएम की अध्यक्षता में समिति बनेगी

सड़कों पर चक्रमण करने वाले छुट्टा गोवंश गोवंश स्थल में रखे जाएं- कमिश्नर

स्मार्ट क्लास बनाना है तो शत-प्रतिशत विद्यालयों का कराना होगा विद्युत कनेक्शन

वाराणसी, जनवरी ।कमिश्‍नर दीपक अग्रवाल ने वर्ष 2013 से 2016 के मध्य 50 लाख के ऊपर धनराशि की मंडल के जनपदों में राजकीय निर्माण निगम द्वारा कराए गये लगभग 500 करोड़ रुपए धनराशि की 137 परियोजनाएं आधा-अधूरा पड़े होने की जानकारी को गंभीरता से लिया हैं। इस बाबत वे शीघ्र ही शासन को वस्तुस्थिति से अवगत कराएंगे। परियोजनाओं को आधा-अधूरा पड़े होने तथा कार्य की प्रगति के बाबत कमिश्‍नर द्वारा पूछे जाने पर विभागीय अभियंता द्वारा बताया गया कि गड़बड़ी एवं अनियमितता की जांच एसआईटी द्वारा किए जाने के कारण संबंधित परियोजनाओ पर कार्य रुका हुआ है, जिस कारण फिलहाल इन परियोजनाओं को पूरा नहीं कराया जा सकता। आधा-अधूरा पड़े परियोजनाओं में चिकित्सा विभाग के सामुदायिक एवं प्राथमिक चिकित्सालय भवन, पर्यटन विभाग के कई कार्य, विद्यालय भवन, फूड हाउसिंग सहित कई महत्वपूर्ण परियोजनाएं शामिल है। सर्वाधिक परियोजनाएं जनपद गाजीपुर एवं जौनपुर की हैं।
कमिश्‍नर दीपक अग्रवाल सोमवार को कमिश्नरी ऑडिटोरियम सभागार में मंडलीय समीक्षा बैठक में विकास एवं निर्माण कार्यों के प्रगति की विभागवार विस्तृत एवं गहन समीक्षा कर रहे थे। शौचालय निर्माण कार्य की समीक्षा के दौरान जौनपुर में 14000 शौचालयों का एमआईएस फीडिंग एवं जियो टैगिंग करा लिए जाने के बावजूद लाभार्थियों को अब तक पहली किस्त की धनराशि न दिए जाने की जानकारी पर गहरी नाराजगी व्यक्त करते हुए कमिश्‍नर ने मुख्य विकास अधिकारी जौनपुर सहित उपनिदेशक पंचायत को तत्काल प्रकरण को देखने तथा लाभार्थियों को धनराशि उपलब्ध करवाने का निर्देश दिया। जौनपुर में ग्राम पंचायतों के खातों में शौचालय निर्माण के 84 करोड़ रुपए पड़े होने की जानकारी को उन्होंने काफी गंभीरता से लिया। उन्होंने कहा कि किसी भी प्रकार की अनियमितता पर जिला पंचायत राज अधिकारी पर कार्रवाई होगी। शौचालय निर्माण के संबंध में उन्होंने ग्राम प्रधानों से भौतिक रूप से बन चुके शौचालय निर्माण की बाबत लिखित रिपोर्ट प्राप्त किए जाने का जिला पंचायत राज अधिकारियों को निर्देश दिया है। उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि जौनपुर एवं गाजीपुर में शौचालय निर्माण में कतिपय गड़बड़ी की शिकायत है। 14वें वित्त आयोग की ग्राम पंचायतों में पड़ी धनराशि का उपयोग प्रस्तावित संबंधित कार्यों पर कराने तथा ग्राम पंचायतों में पड़े धनराशि का डिटेल प्राप्त करने का भी निर्देश दिया। 14वें वित्त आयोग की धनराशि से ग्राम सभाओं में गोवंश आश्रय स्थल, गांव के विद्यालय के मरम्मत, गांव की सड़कों का निर्माण हुआ इंटरलॉकिंग आदि विकास कार्य कराए जाने का सुझाव दिया। गंगा किनारे के सभी गांवो में गीला कचरा के निस्तारण हेतु एसटीपी बनाए जाने पर जोर दिया। कमिश्‍नर ने गोवंश आश्रय स्थलों की समीक्षा के दौरान गोवंश आश्रय स्थल केंद्रों पर रात्रि में कम से कम एक सफाई कर्मी अथवा पीआरडी के जवानों स्थिति सुनिश्चित कराए जाने पर जोर दिया। उन्होंने जिलाधिकारियों की अध्यक्षता में “गो-आश्रय” केंद्रवार समिति बनाए जाने का निर्देश दिया। ताकि स्थानीय लोगों की सहभागिता एवं उनका सहयोग प्राप्त हो। कमिश्‍नर दीपक अग्रवाल ने सड़कों पर छुट्टा विचरने वाले गोवंश को गोवंश आश्रय स्थलों पर रखे जाने का निर्देश देते हुए मुख्य पशु चिकित्सा अधिकारियों को व्यक्तिगत रूचि लेकर इस कार्य को पूरा कराए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने रात्रि में मुख्य मार्गों पर प्रायः देखने वाले छुट्टा गोवंश को संज्ञान लेते हुए नाराजगी जताई तथा रात्रि में अभियान चलाकर सड़कों पर विचरने वाले गोवंश को पकड़कर गोवंश आश्रय स्थल पर उन्हें रखे जाने का निर्देश दिया।
कमिश्‍नर दीपक अग्रवाल ने महिला एवं बाल विकास तथा स्वास्थ्य विभाग के कार्यों की समीक्षा के दौरान कई ग्राम सभाओं में अभी भी आशाओं को थर्मामीटर एवं वजन मशीन न होने की जानकारी पर नाराजगी व्यक्त करते हुए ग्राम पंचायतों में उपलब्ध धनराशि से थर्मामीटर एवं वजन मशीन खरीदे जाने का निर्देश दिया। चंदौली में 492 आंगनवाड़ी केंद्रों पर वजन मशीन न होने पर उन्होंने गहरी नाराजगी जताई तथा तत्काल ग्राम पंचायत की उपलब्ध धनराशि से क्रय किए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि जनवरी महीने के अंदर शत-प्रतिशत आंगनवाड़ी केंद्रों पर वजन मशीन की उपलब्धता प्रत्येक दशा में सुनिश्चित कराया जाए। अन्यथा अब इसे गंभीरता से लेते हुए लापरवाह अधिकारियों पर कार्रवाई सुनिश्चित कराई जाएगी। जिलाधिकारियों को निर्देशित करते हुए उन्होंने आंगनवाड़ी केंद्रों पर अच्छा कार्य करने वाली आंगनवाडी कार्यकत्रियों को गणतंत्र दिवस के अवसर पर 26 जनवरी को जिला मुख्यालयों पर आयोजित होने वाले कार्यक्रमों में सम्मानित किए जाने पर भी उन्होंने विशेष जोर दिया। “चाइल्ड फ्रेंडली इंफ्रास्ट्रक्चर” शहरों में विकसित करने पर जोर देते हुए उन्होंने कहा कि बच्चों के स्वास्थ्य संबंधी आ रही समस्याओं का इसमें समाधान किया जा सकेगा। आंगनवाड़ी केंद्रों को प्रभावी बनाए जाने पर जोर देते हुए उन्होंने “खिलौना बैंक” बनाकर ग्राम पंचायतों में रहने वाले लोगों के घरों पर पढ़ाई से जुड़े खिलौनों को एकत्र कर आंगनवाड़ी केंद्रों पर आने वाले छोटे-छोटे बच्चों को पढ़ाई के दौरान उसे सदुपयोग किए जाने का निर्देश दिया। दुर्गाकुंड स्थित महिला वृद्ध आश्रम के पीछे खाली पड़े स्थान पर निर्माणाधीन “बालगृह” का निर्माण कार्य गत एक वर्ष से बंद होने की जानकारी देते हुए जिलाधिकारी वाराणसी कौशल राज शर्मा ने यूपीपीसीएल के अधिकारी को संबंधित विवरण के साथ तलब किया है। शत-प्रतिशत संस्थागत प्रसव जोर देते हुए उन्होंने वाराणसी जनपद के तीन विकास खंडों मे शत- प्रतिशत प्रसव संस्थागत होने पर प्रसन्नता जताई। उन्होंने शत-प्रतिशत विद्यालयों में विद्युत कनेक्शन कराए जाने का निर्देश देते हुए शिक्षा विभाग के अधिकारियों से रिपोर्ट तलब किया कि ऐसे कितने विद्यालय हैं जिनके विद्युत कनेक्शन नहीं हुए हैं। कमिश्‍नर ने कहा कि ग्राम शिक्षा निधि की धनराशि से ऐसे विद्यालयों के विद्युत कनेक्शन आवश्यकतानुसार कराए जाएंगे। उन्होंने राज्य वित्त की उपलब्ध धनराशि से विद्यालयों एवं आंगनवाड़ी केंद्रों का कायाकल्प कराए जाने पर विशेष जोर दिया। स्कूलों में शौचालय पूरी तरह क्रियाशील रहे। कमिश्‍नर ने सभी पात्र लोगों को वृद्धावस्था, निराश्रित महिला एवं दिव्यांग पेंशन उपलब्ध कराए जाने हेतु 31 जनवरी तक शत-प्रतिशत फीडिंग कराए जाने का निर्देश दिया। उन्होंने ग्रामीण क्षेत्रों के सड़कों को पूरी तरह गड्ढा मुक्त किए जाने पर विशेष जोर देते हुए लोक निर्माण विभाग के अधीक्षण अभियंता को निर्देशित किया कि युद्ध स्तर पर अभियान चलाकर शहर एवं ग्रामीण क्षेत्र के सड़कों को पूरी तरह गड्ढा मुक्त कराया जाए। इसमें किसी भी स्तर पर लापरवाही न बरती जाए।
बैठक में जिलाधिकारी वाराणसी कौशल राज शर्मा, जिलाधिकारी गाजीपुर ओ0पी0 आर्या, जिलाधिकारी जौनपुर दिनेश कुमार सिंह, मुख्य विकास अधिकारी वाराणसी मधुसूदन हुलगी सहित मंडल के जनपदों के मुख्य विकास अधिकारी तथा मंडलीय विभागीय अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close