Crime

अपहृत वकील 14 दिन बाद कराया गया मुक्त

फिरोजाबाद (उत्तर प्रदेश) । जिले के दक्षिण थाना क्षेत्र में रहने वाले एक वकील को आखिरकार 14 दिन बाद राजस्थान से सकुशल मुक्त करा लिया गया।

आगरा जोन के अपर पुलिस महानिदेशक अजय आनंद ने मंगलवार को संवाददाता सम्मेलन में बताया कि गत तीन फरवरी को अगवा हुए वकील अकरम अंसारी को सोमवार की रात राजस्थान के धौलपुर जिले के एक मकान से मुक्त कराया गया।

उन्होंने बताया कि अंसारी के लापता होने के बाद गत पांच फरवरी को उनके भाई के पास 55 लाख रुपये की फिरौती का फोन आया था। परिजन ने इसकी सूचना पुलिस को दी थी।

आनंद ने बताया कि परिजनों ने फिरौती की रकम देने में असमर्थतता जताते हुए अपहरणकर्ताओं से उसे कम करने का अनुरोध किया। फिरौती की रकम घटते हुए अंत में 15 लाख रुपए रही जिसे भरतपुर पहुंचाना था। परिजन के सहयोग से पुलिस टीम को भरतपुर के उक्त स्थान पर तैनात किया गया।

उन्होंने बताया कि एक अटैची में साढ़े 12 लाख रुपये भरकर उसे बताये गये स्थान पर रखा गया। जैसे ही एक व्यक्ति वहां से रकम को लेकर चला पुलिस ने उसकी लोकेशन पर काम करना शुरू कर दिया। पुलिस की प्राथमिकता अपहृत वकील को सकुशल मुक्त कराने की थी।

आनंद ने बताया कि पुलिस की सभी टीमों ने पूरी सतर्कता के साथ कार्रवाई करते हुए वकील को सकुशल मुक्त करा लिया।

उन्होंने बताया कि पुलिस ने इस अपहरणकांड की साजिश रचने वाले मुख्य अभियुक्त उग्रसेन समेत छह अपहरणकर्ताओं को मौके से गिरफ्तार किया है। फिरौती के साढ़े 12 लाख रुपये भी बरामद कर लिये।

मालूम हो कि अपने साथी के अपहरण के विरोध में लगभग 14 दिन तक जिला फिरोजाबाद तहसील बार एसोसिएशन ने हड़ताल की थी। वहीं जिले की सभी तहसीलों में भी कलम बंद हड़ताल रही थी।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: