National

योग को वैश्विक भलाई के शक्तिशाली माध्यम के रूप में देख रहा है पूरा विश्व : मोदी

मोदी ने श्रीनगर में छात्रों के साथ सेल्फी ली

श्रीनगर : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कहा कि पूरा विश्व योग को वैश्विक भलाई के एक शक्तिशाली माध्यम के रूप में देख रहा है।यहां डल झील के किनारे शेर-ए-कश्मीर इंटरनेशनल कॉन्फ्रेंस सेंटर (एसकेआईसीसी) में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस के समारोह को संबोधित करते हुए श्री मोदी ने कहा ,“इस वर्ष के अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस का विषय ‘स्वयं और समाज के लिए योग’ है। विश्व योग को वैश्विक भलाई के एक शक्तिशाली माध्यम के रूप में देख रहा है। योग हमें अतीत के बोझ से मुक्त होकर वर्तमान के क्षणों में जीने में मदद करता है। योग हमें यह एहसास कराता है कि हमारा कल्याण हमारे आसपास की दुनिया के कल्याण से जुड़ा है। जब हम भीतर से शांत होते हैं, तो हम दुनिया पर सकारात्मक प्रभाव भी डाल सकते हैं।

”उन्होंने कहा कि योग के विस्तार से रोजगार के अवसर पैदा हुए हैं और पूरी दुनिया से लोग प्रामाणिक योग सीखने के लिए भारत आ रहे हैं। इससे आतिथ्य, पर्यटन और परिधान से संबंधित क्षेत्र लोगों की भारी आमद से फल-फूल रहे हैं तथा युवाओं के लिए रोजगार के नये अवसर पैदा हो रहे हैं।”प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्होंने 2014 में संयुक्त राष्ट्र में अंतर्राष्ट्रीय योग दिवस मनाने का प्रस्ताव रखा था। इस प्रस्ताव को 177 देशों ने समर्थन दिया था, जो अपने आप में एक रिकॉर्ड है। उन्होंने कहा, “अब योग पूरी दुनिया में मनाया जा रहा है। पूरे जम्मू-कश्मीर में योग के प्रति आकर्षण ने पर्यटन क्षेत्र को नयी गति दी है।श्री मोदी तीसरी बार प्रधानमंत्री बनने के बाद केंद्र शासित प्रदेश के अपने पहले दौरे पर आज श्रीनगर पहुंचे।

अंतरराष्ट्रीय योग दिवस पर श्रीनगर में आयोजित कार्यक्रम का मोदी ने किया नेतृत्व

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को 10वें अंतराष्ट्रीय योग दिवस पर यहां आयोजित मुख्य योगाभ्यास कार्यक्रम का नेतृत्व किया और योगाभ्यास के लाभों को गिनाते हुए लोगों से योग को दैनिक जीवन का हिस्सा बनाने की अपील की।यहां शेरे कश्मीर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन कक्ष में आयोजित कार्यक्रम में काफी संख्या में स्त्री-पुरुष शामिल हुए। श्री मोदी ने कहा कि योग इस आपाधापी भरे जीवन और सूचनाओं के अंबार से प्रभावित मन को एकाग्रता की शक्ति प्रदान करता है। इससे स्वास्थ्य अच्छा रहता है।

उन्होंने कहा कि आज योग से प्रेरित पर्यटन बढ रहा है, जो कारोबार और रोजगार में भी योगदान कर रहा है।उन्होंने कहा कि योग के लाभों को देखते हुए आज सेना के लोगों से लेकर अंतरिक्ष यात्रियों तक को योगाभ्यास कराया जा रहा है। जेलों में कैदियों को भी योग-ध्यान कराये जा रहे हैं।प्रधानमंत्री ने कहा कि उन्हें जम्मू-कश्मीर के लोगों में योगाभ्यास के प्रति बड़ा उत्साह दिखा है। उन्होंने इस अवसर पर केंद्र शासित प्रदेश सहित देश और पूरी दुनिया के योग प्रेमियों को योग दिवस की शुभकामनाएं दी।

मोदी ने श्रीनगर में छात्रों के साथ सेल्फी ली

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को 10वें अंतरराष्ट्रीय योग दिवस समारोह के मौके पर यहां विश्वप्रसिद्ध डल झील के किनारे शेर-ए-कश्मीर अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन केंद्र (एसकेआईसीसी) में विभिन्न संस्थानों के छात्रों के साथ सेल्फी ली।श्री मोदी ने एक्स पर अपने पोस्ट में कहा , “डल झील पर बेजोड़ जीवंतता।”उन्होंने अपने पोस्ट में छात्रों के साथ कुछ तस्वीरें साझा कीं। श्रीनगर में बारिश के दौरान वह सफेद कपड़े और स्वेटर पहना हुआ था।

PM participates in 10th International Day of Yoga celebrations at Srinagar, in Jammu and Kashmir on June 21, 2024.

उन्होंने कहा , “बारिश के कारण यहां ठंड बढ़ जाती है, लेकिन स्थानीय लोगों के लिए यह अलग नहीं लग सकता है।”सफेद कपड़े पहने छात्र मुस्कुराते हुए पोज देते नजर आए। कुछ छात्र खुशी से झूम उठे और उन्होंने हाथ उठाकर उत्साह दिखाया।श्रीनगर और आसपास के इलाकों में सुबह से बारिश हुई जिससे तापमान में गिरावट आयी।इससे पहले प्रधानमंत्री ने एसकेआईसीसी श्रीनगर के इनडोर में ‘स्वयं और समाज के लिए योग’ थीम पर आयोजित अंतरराष्ट्रीय योग दिवस समारोह का नेतृत्व किया। उन्होंने अपने संबोधन में यह कहते हुए सभी से योग को अपने दैनिक जीवन का हिस्सा बनाने का आग्रह किया कि यह शक्ति, अच्छे स्वास्थ्य और कल्याण को बढ़ावा देता है।(वार्ता)

 

Website Design Services Website Design Services - Infotech Evolution
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Graphic Design & Advertisement Design
Back to top button