NewsState

लोगों ने दिलो-दिमाग में अमिट कर लीं गंगा यात्रा की यादें

घूघट थे तो बुर्के भी,उत्साही युवा तो हर जगह

पूरे रूट पर हर जगह जलसे का माहौल

गिरीश पांडेय

blank

लखनऊ जनवरी : ( बुलन्दशहर, अलीगढ़, सम्भल,बदायूं,शाहजहांपुर, फरुर्खाबाद ) कुछ यादें अनमोल होती हैं। ऐसी यादों को लोग दिलो-दिमाग में अमिट कर लेना चाहते हैं। योगी सरकार द्वारा निकाली गई गंगा यात्रा भी ऐसी ही यादों में शुमार हो गई। बिजनोर से लेकर फरुर्खाबाद तक जिस रुट से यात्रा गुजरी लोग इस यात्रा की यादों को अमिट बनाने को आतुर दिखे। पूरी यात्रा के दौरान ऐसा लगा मानों सड़कों पर लोग उग आए हों। अधिकांश के हाथ में मोबाइल था। लोग यात्रा की तस्वीरों और वीडीयोग्राफी के जरिए इसे सदा-सदा के लिए अमिट कर रहे थे। युवाओं में लेकर इसका खासा क्रेज दिखा।

गंगा यात्रा का तीसरा दिन। सुबह की बारिश के बावजूद मौसम पिछले दो दिनों की तुलना में बेहतर था। यात्रा की शुरुआत बाबू बनारसी दास के शहर बुलन्दशहर के अनूपशहर स्थित बसी घाट पर गंगा की आरती से हुई। आगे की यात्रा सम्भल(गुन्नौर) अलीगढ़ (संकरा), बदायूं (कछलाघाट), शाहजहांपुर ( ढाईघाट), कासगंज ( लहराघाट) और फरुर्खाबाद (पंचायतघाट) से गुजरी। यहां आज इसका तीसरा पड़ाव था। जिन जगहों से यह गुजरी सड़कों के किनारे लोग स्वागत को उमड़ आए। इसमें स्थानीय लोगों के अलावा,स्कूली बच्चे, एनसीसी और स्काउट के युवा शामिल थे। घूघट था तो बुर्के भी मजहब की दीवारें तो यात्रा के पहले ही दिन टूट चुकी थीं। आज भी टूटी। यहां घूघट भी था और बुर्का भी।सबके हाथ में गंगा को बचाने, स्वच्छता और अन्य सन्देशों को लेकर पोस्टर थे। हर सर और गले में भगवा टोपी और पटका, इस पर लिखे हर हर गंगे,नमामि गंगे का नारा और आजू-बाजू लगे सर्व कल्याणमयी गंगे के पोस्टर लोगों को गंगा यात्रा के उस संकल्प से जोड़ रहे थे जो गंगा को लेकर प्रधानमंत्री एवं मुख्यमंत्री ने लिया है। सड़क के दोनों किनारों पर लगे प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी और मुख्यमंत्री की होर्डिंग्स में भी यही संदेश थे। हाथ मे बैनर और जुबान पर बन्दे मातरम,भारत माता की जय के नारे के साथ गंगा को निर्मल और अविरल बनाने के संकल्पों से जुड़े नारे थे। लोग पुष्पवर्षा के जरिए गंगा रथ और इसके साथ चल रहे यात्रियों का स्वागत कर रहे थे। कुल मिलाकर उत्सव का माहौल था।

blank

जनप्रतिनिधियों ने दिलाया गंगा को साफ करने का संकल्प

इन सभाओं को केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद पटेल,प्रदेश सरकार के मंत्री सुरेश खन्ना, सुरेश राणा,ब्रजेश पाठक, कपिदेव अग्रवाल, बलदेव सिंह ओलख, गुलाबो देवी और स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने सम्बोधित किया। इन लोगों ने पतितपावनी,मोक्षदायिनी, करोडों की पालनहार माँ गंगा को अविरल और निरमल बनाने का संकल्प लिया और लोगों को दिलाया। गंगा की सफाई को लेकर सरकार द्वारा किये जा रहे और योजनाओं का जिक्र किया। लोगों से इनसे जुड़कर मोदी और योगी के संकल्पों से जुड़कर इनको सफल बनाने की अपील की।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close