NationalState

जेएमएम और कांग्रेस ने जनजातियों को सिर्फ वोट बैंक ही समझा है: नरेंद्र मोदी

प्रधानमंत्री ने 35 हजार करोड़ रुपये से अधिक की योजनाओं का झारखंड को तोहफा दिया

धनबाद : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि ‘न झुकेंगे, न हटेंगे, गरीबों के घर का चूल्हा जलता रहे, इसे लेकर मुफ्त अनाज की योजना को चालू रखेंगे।प्रधानमंत्री श्री मोदी ने लोकसभा चुनाव 2024 को लेकर आज धनबाद में चुनाव अभियान का शंखनाद किया। भाजपा की ओर से आयोजित जनसभा को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि झारखंड में तेज विकास के लिए जरूरी है कि यहां कानून व्यवस्था अच्छी हो, शासन-प्रशासन ईमानदार हो, लेकिन जब से जेएमएम और कांग्रेस की परिवारवदी, भ्रष्टाचारी और तुष्टिकरण वाली सरकार बनी है, तब से यहां स्थितियां बदली हैं। पीएम ने कहा- ‘जेएमएम’ का मतलब हो गया है- ‘जमकर खाओ’।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि भाजपा का मकसद है, विकास, विकास और तेज विकास। जबकि कांग्रेस हो या उसके सहयोगी दल, वो विकास के सबसे बड़े दुश्मन है। देश कहा रहा है, जहां दूसरों से उम्मीद खत्म हो जाती है, वहां से मोदी की गारंटी शुरू होती है। झारखंड के लोग मोदी की ऐसी अनेक गारंटियों के गवाह हैं, जो बीते वर्षों में पूरी हुई है। उन्होंने कहा कि जेएमएम-कांग्रेस ने झारखंड की जनता को लूटकर, आपके पसीने की कमाई को लूटकर अपने लिए बेनामी संपत्तियों के पहाड़ बना लिए हैं। आपने देखा कि यहां किस तरह से नोटों की गड्डियां निकल रही हैं।

उन्होंने कहा कि जेएमएम और कांग्रेस ने जनजातियों को सिर्फ वोट बैंक ही समझा है। ये लोग यहां के प्रतिभाशाली नौजवानों को कभी आगे नहीं बढ़ाएंगे, क्योंकि परिवारवादी अपने ही परिवार के बारे में सोचते हैं, लेकिन मोदी आपके बारे में सोचता है, आपके भविष्य में बारे में सोचता है। आप ही मेरे परिवारजन हैं, आपके बच्चों का भविष्य मेरी गारंटी है।

प्रधानमंत्री ने 35 हजार करोड़ रुपये से अधिक की योजनाओं का झारखंड को तोहफा दिया

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज धनबाद में 35 हजार करोड़ रुपये से अधिक की योजनाओं का झारखंड को तोहफा दिया।धनबाद जिले के सिंदरी हर्ल में आयोजित समारोह को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा- ‘ मैंने संकल्प लिया था कि सिंदरी के इस खाद कारखाने को जरूर शुरू कराएंगे, ये मोदी की गारंटी थी, आज ये गारंटी पूरी हुई है।’ उन्होंने यह भी कहा कि वो वर्ष 2018 में शिलान्यास करने आये थे। आज सिंदरी कारखाने का उद्घाटन ही नहीं, बल्कि रोजगार के हजारों नए अवसरों की शुरुआत हुई है। इस खाद कारखाने के लोकार्पण के साथ ही भारत ने यूरिया के क्षेत्र में आत्मनिर्भरता की ओर से बढ़ा कदम उठाया है।

प्रधानमंत्री श्री मोदी ने कहा कि देश में 360 लाख एमटी यूरिया की जरूरत होती है, जब 2014 में केंद्र में एनडीए की सरकार बनी तो उस वक्त देश में 225 एमटी ही यूरिया का उत्पादन होता था, जिसके कारण यूरिया का आयात करना पड़ता था। इसलिए सिंदरी के बंद खाद कारखने को फिर से शुरू कराने और देश को यूरिया के क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनाने का संकल्प लिया था। सरकार के प्रयासों से अब 310 एमटी यूरिया का उत्पादन हो गया है। इससे न सिर्फ पैसे की बचत होगी, बल्कि किसानों की जरूरतें भी पूरी होगी।(वार्ता)

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: