State

डल झील में आग लगने के बाद तीन शव बरामद, पांच हाउसबोट जलकर खाक

श्रीनगर : जम्मू-कश्मीर के विश्वप्रसिद्ध डल झील में शनिवार तड़के आग लगने की घटना के बाद कम से कम तीन शव बरामद किए गए, जिनके बारे में संदेह है कि वे बाहरी पर्यटक थे।यह जानकारी अधिकारियों ने दी। इस आगजनी की घटना में पांच हाउसबोट और एक दर्जन से ज्यादा आवासीय संरचनाएं जलकर खाक हो गई।राज्य आपदा मोचन बल (एसडीआरएफ) के एक अधिकारी ने कहा कि उन्हें तलाशी के दौरान डल झील में घटनास्थल से तीन शव बरामद किए हैं, हालांकि, अभी तक उनकी पहचान नहीं हुई है।

उन्होंने कहा कि हम उनकी पहचान करने की कोशिश कर रहे हैं, लेकिन हमें संदेह है कि वे गैर-स्थानीय हैं।इससे पहले, अग्निशमन और आपातकालीन अधिकारियों ने कहा कि डल झील की घाट संख्या नौ के समीप एक हाउसबोट में आज सुबह पांच बजे आग लग गई जिसके बाद उसकी चपेट में अन्य हाउसबोट और अन्य लकड़ी के आवासीय संरचनाएं आ गईं।उन्होंने कहा कि आग पर काबू पाने के लिए नेहरू पार्क, बटमालू और गावकादल रिवर स्टेशनों से दमकल गाड़ियां भेजी गईं। इससे पहले कि आग पर काबू पाया जा पाता, पांच हाउसबोट और लकड़ी के एक दर्जन से ज्यादा आवासीय संरचनाएं जलकर खाक हो गईं।आग लगने से जो हाउसबोट जलकर खाक हो गईं, उनमें सफीना, यंग सफीना, न्यू सफीना, लाला रूका और लंदन हाउस शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि आग लगने के कारणों का अभी पता नहीं चल पाया है लेकिन इसमें करोड़ों रुपये की संपत्ति का नुकसान होने का अनुमान है।श्रीनगर के उपायुक्त ऐजाज असद घटनास्थल का दौरा करने के बाद कहा कि डल झील में घाट संख्या 9 पर आगजनी की घटना हुई जिसमें पांच हाउसबोट और आसपास की आवासीय संरचनाएं जलकर खाक हो गईं।उन्होंने कहा कि आग लगने की घटना की जानकारी प्राप्त होने के बाद एसडीआरएफ, कश्मीर पुलिस और दमकल एवं आपात एजेंसियों हरकत में आ गईं और आग पर काबू पाने की कोशिश की। श्री असद ने कहा कि इन हाउसबोट में रह रहे पर्यटकों और निवासियों को पहले ही बचा लिया गया और सुरक्षित स्थानों पर पहुंचा दिया गया।

उपायुक्त ने कहा कि आग की चपेट में आने से बचाने के लिए आसपास की चार हाउसबोट को भी स्थानांतरित कर दिया गया। उन्होंने कहा कि जिला प्रशासन और सरकार आग पीड़ितों के साथ हैं और इस त्रादसी पर दुख व्यक्त करती है।श्री असद ने आश्वासन दिया कि सरकार की ओर से हरसंभव सहायता प्रदान की जाएगी। उन्होंने कहा कि ठंड के मौसम में आग पीड़ितों को कंबल सहित आवश्यक घरेलू सामान एवं अन्य सामान जल्द ही उपलब्ध कराया जाएगा।

डल झील में आग से तीन बंगलादेशी पर्यटकों की मौत, पांच हाउसबोट खाक

जम्मू-कश्मीर के प्रसिद्ध डल झील में शनिवार तड़के एक दुखद घटना में एक हाउसबोट में लगी भीषण आग में बंगलादेश के तीन पर्यटकों की जलकर मौत हो गई।पुलिस ने कहा कि आग में जले हाउसबोट से तीन पर्यटकों के जले हुए शव बरामद किए गए। पर्यटकों की पहचान अनिंदय कौशल, दास गुप्ता और मोहम्मद मोइनुद के रूप में की गई और वे डल झील में हाउसबोट सफीना में ठहरे हुए थे।घटना की जानकारी देते हुए पुलिस ने कहा कि आज तड़के श्रीनगर की डल झील के घाट नंबर 9 के किनारे हाउसबोट में भीषण आग लग गई। आग तेजी से फैली और पांच हाउसबोट – सफीना, सबरीना, यंग गुलशन, लाला रुख और खार पैलेस को अपनी चपेट में ले लिया।

उन्होंने बताया कि आसपास की सात अन्य आवासीय झोपड़ियां और पड़ोसी घर भी आग में जल गए।पुलिस ने कहा कि श्रीनगर पुलिस, एसडीआरएफ, पर्यटक पुलिस, एफ एंड ईएस और नागरिकों के संयुक्त प्रयासों द्वारा समय पर और साहसी कार्रवाई के माध्यम से इन हाउसबोटों में रहने वाले आठ लोगों को बचा लिया गया और सुरक्षित निकाल लिया गया।इससे पहले अग्निशमन और आपातकालीन अधिकारियों ने कहा था कि डल झील में घाट नंबर 9 के पास एक हाउसबोट में सुबह पांच बजे आग लग गई और आसपास के अन्य हाउसबोट तथा अन्य लकड़ी के आवासीय ढांचे को अपनी चपेट में ले लिया।

उन्होंने बताया कि आग की तेज लपटों को बुझाने के लिए रिवर स्टेशन नेहरू पार्क, बटमालू और गावकदल से दमकल की गाड़ियां भेजी गईं।आग पर काबू पाने से पहले इस घटना में पांच हाउसबोट और एक दर्जन से अधिक लकड़ी के आवासीय ढांचे जलकर खाक हो गए।उन्होंने बताया कि आग लगने का कारण अभी तक पता नहीं चल पाया है। आग लगने की घटना में करोड़ों रुपये की संपत्ति का नुकसान बताया जा रहा है।घटनास्थल का दौरा करने वाले श्रीनगर के उपायुक्त ऐजाज असद ने कहा कि डल झील के घाट नंबर 9 पर आग लगने की घटना हुई, जिसमें पांच हाउसबोट और आसपास की आवासीय झोपड़ियां जलकर खाक हो गईं।

उन्होंने कहा कि जैसे ही आग की घटना भड़की, एसडीआरएफ, कश्मीर पुलिस और फायर एंड इमरजेंसी एजेंसियों की टीमें हरकत में आईं और आग बुझाने की कोशिश की।श्री असद ने कहा कि इन हाउसबोटों में ठहरे पर्यटकों और निवासियों को पहले बचाया गया और सुरक्षित स्थानों पर ले जाया गया। (वार्ता)

Website Design Services Website Design Services - Infotech Evolution
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Graphic Design & Advertisement Design
Back to top button