NationalUttar Pradesh

अपनी उपलब्धियां बताने के साथ विपक्ष की पोल भी खोलें : मुख्यमंत्री

प्रोपगंडा के अलावा विजनलेस विपक्ष के पास गिनाने को कुछ नहीं: योगी आदित्यनाथ । विपक्ष की साजिशों से बेपरवाह होकर सिर्फ अपने लक्ष्य पर ध्यान दें: स्वतंत्रदेव ।

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ  ने कहा है कि विपक्ष विजनलेस है। उसकेेेे पास गिनाने को कुछ भी नहीं है। लिहाजा वह सिर्फ प्रोपगंडा फैला रहा है। इसके लिए वह किसी भी हद तक जा सकता है। हालिया घटनाएं इसका सबूत हैं। केंद्र और राज्य सरकार ने जनहित में अनेक ऐतिहासिक कार्य किए हैं। भाजपा कार्यकर्ता लोगों को केंद्र और प्रदेश सरकार की उपलब्धियां बताने के साथ-साथ विपक्ष की पोल भी खोलें।

मुख्यमंत्री मंगलवार को यहां अपने सरकारी आवास पर आज कानपुर देहात की घाटमपुर विधानसभा क्षेत्र सुरक्षित के मंडल, सेक्टर और बूथ के पदािधकारियों से ऑनलाइन मुखातिब थे। उन्होंने कहा कि विधानसभा के इस उपचुनाव में बूथ के गठन और उसके बाद मतदाताओं से गहन जनसंपर्क पर पूरा फोकस करें। कोरोना के कारण बदले परिदृश्य में यही जीत की कुंजी है। संपर्क के दौरान कोविड के प्रोटोकॉल का अनुपालन करते हुए लोगों को बताएं कि अब नौकरियां क्षेत्र या जाति के आधार पर नहीं, मेरिट के आधार पर पूरी पारदर्शिता के साथ मिलती हैं। इसी आधार पर साढ़े तीन साल में तीन लाख युवाओं को नौकरियाँ मिलीं हैं। जल्दी ही इतने ही युवाओं को और मिलेगी। अब सत्ता के संरक्षण में अपराधी और माफिया पनपते नहीं, बल्कि पनाह मांगते हैं। जंगलराज के नाते अब उद्यमी यहां से अपना कारोबार समेटते नहीं बल्कि लगाने को लालायित हैं और लगा भी रहे हैं। अब बिजली सिर्फ कुछ वीआईपी जिलों को नहीं, सबको तय समय तक मिलती है।

योगी  ने कहा जबसे केंद्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बने हैं तबसे देश को श्रेष्ठ, सशक्त और समृद्ध बनाने के लिए ढेरों काम हुए हैं। यहां तक कि कोरोना के अभूतपूर्व संकट के दौरान भी उनके मार्गदर्शन में असाधारण काम हुए हैं। दूसरे प्रदेशों में रहने वाले 40 लाख से अधिक श्रमिकों और कोटा एवं राजस्थान में रहने वाले हजारों छात्रों की सकुशल और ससम्मान वापसी हुई। हर आने वाले श्रमिको के अलावा लाखों की संख्या में जरूरतमंदों को भरण-पोषण भत्ता और राशन दिया गया। हमारी प्रतिबद्धता उप्र की 24 करोड़ जनता है। हमारे युवा और उनका कौशल हमारी पूंजी है। ओडीओपी, विश्वकर्मा श्रम सम्मान के जरिए प्रशिक्षण देकर लाखों युवाओं को स्वरोजगार दिया गया। विकास यह सिलसिला जारी रहेगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि गंगा हमारी आस्था की केंद्र है। इनके अविरलता और निर्मलता के लिए कानपुर में बहुत कुछ किया गया और किया जाएगा। करीब 100 साल बाद सीसामऊ में अब एक बूंद भी गंदा पानी नहीं गिरता है। प्रदेश सरकार मे मंत्री रही कमलरानी वरुण के असामयिक निधन पर शोक जताते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि वे लोकप्रिय, जुझारू और विचारधारा के प्रति समिर्पत जनप्रतिनिधि थीं। पार्षद से शुरू होकर देश की सबसे बड़ी पंचायत तक पहुंचाना इसका सबूत है। उनके परिवार और परिजनों के प्रति मेरी पूरी संवेदना है।

प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह ने कहा कि जिनका विकास से कभी कोई सरोकार नहीं रहा है उनके पेट में प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री की अगुआई में होने वाले चौतरफा विकास से मरोड़ होना स्वाभाविक है। उनकी कतई फिक्र न करें। उनकी साजिशों को बनेकाब करते हुए आप सदा राष्ट्र को सर्वोपरि मानते हुए कार्य करें। आप उस पार्टी के सदस्य हैं जिसमें श्यामा प्रसाद मुखर्जी, पंडित दीनदयाल उपाध्याय और अटल बिहारी वाजपेयी जैसे नेता हुए हैं। प्रधानमंत्री और मुख्यमंत्री उनकी ही परंपरा को संकल्प भाव से आगे बढ़ा रहे हैं। इनके आदर्शों पर चलकर इनके सपनों को साकार करना आपका भी फर्ज है। कार्यक्रम के शुरू में क्षेत्रीय अध्यक्ष मानवेंद्र सिंह ने सबका स्वागत किया। जिलाध्यक्ष कृष्ण कुमार शुक्ला ने आभार जताया। ऑनलाइन कार्यक्रम में सरकार की मंत्री नीलिमा कटियार, सांसद देवेंद्र सिंह भोले, प्रदेश मंत्री प्रांशु दत्त के अलावा सेक्टर, बूथ और मंडल के अन्य पदाधिकारी भी मौजूद थे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close