EducationNewsState

कस्तूरबा गांधी विद्यालयों में सुविधाओं से संबंधित आवश्यक कार्यों की सूची तैयार करें – डीएम

सांसद एवं विधायक निधि से कार्यों को कराए जाने हेतु जनप्रतिनिधियों से किया जाएगा अनुरोध

सांसद एवं विधायक निधि से कार्यों को कराए जाने हेतु जनप्रतिनिधियों से किया जाएगा अनुरोध

वाराणसी , जनवरी । जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने गुरुवार को विकास भवन सभागार में कस्तूरबा गांधी विद्यालय में अवस्थापना सुविधाओं के संबंध में समीक्षा बैठक की। कस्तूरबा गांधी विद्यालय की जिला समन्वयक ने बताया कि शिवपुर एवं चिरईगांव में जनरेटर तथा सेवापुरी में गार्ड रूम की आवश्यकता बताई तथा पिण्ड्रा एवं चोलापुर में फर्नीचर की आवश्यकता है। जिस पर जिलाधिकारी ने निर्देशित किया जो भी आवश्यकताएं हैं उनकी सूची बनाकर स्टीमेट बनवा लिया जाय। जिससे सांसद एवं विधायक निधि से इस कार्य को कराने हेतु अनुरोध किया जा सके। चिरईगांव एवं सेवापुरी में पानी निकासी की समस्या पर उन्होंने मुख्य विकास अधिकारी को निर्देशित किया कि सोख्ता गड़ढा ग्राम पंचायत के माध्यम से बनवाया जाय। विद्यालयों की चाहरदीवारी कराये जाने तथा बालिकाओं के हेल्थ चेकअप के लिए भी निर्देशित किया कि सप्ताह में एक दिन निश्चित कर इसको करायें। ग्रामीण इलाकों में सुरक्षा को दृष्टिगत रखते हुए पुलिस गस्त का भी निर्देश दिया ।
जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने जिला समन्वयक एवं उपस्थित वार्डेनगण को निर्देशित किया कि जिन बच्चों को कक्षा 9वीं में एडमिशन लेना है उनसे नवोदय विद्यालय का फार्म भरवाया जाय तथा इसकी तैयारी पहले से ही विद्यालय में करायी जाय। विद्यालय में ही बालिकाओं को आई0टी0आई0 की ट्रेनिंग एवं कौशल विकास मिशन के अन्तर्गत स्क्लि ट्रेनिंग के प्रोग्राम भी करवाये जाये । इसके लिए विशेष प्रशिक्षण दिया जाय। बैठक में मुख्य विकास अधिकारी सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

सरकारी विद्यालयों के 124 शौचालय क्रियाशील न होने की जानकारी पर जिलाधिकारी ने नाराजगी जताई

ग्राम पंचायतों से मरम्मत कराकर क्रियाशील कराए जाने का दिया निर्देश

विकास खण्डों में प्रधान एवं सचिव की कार्यशाला बुलाकर विद्यालयों के कायाकल्प के कार्यों की तकनीकी जानकारी भी दी जाय- कौशल राज शर्मा

जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने गुरुवार को विकास भवन सभागार में विद्यालयों में आपरेशन कायाकल्प के माध्यम से अब तक की प्रगति की समीक्षा की। बेसिक शिक्षा के अधिकारियों द्वारा बताया गया कि प्रेरणा एप पर अभी तक 1367 विद्यालयों के सापेक्ष 1180 विद्यालयों की अद्यतन स्थिति अपलोड की गयी है। विद्यालयों में शौचालय, पीने का पानी, सबमर्सिबल इत्यादि की स्थापना एंव किचन न होने की स्थिति की समीक्षा की। 124 शौचालय वर्किंग रूप में नहीं होने पर नाराजगी व्यक्त करते हुए तत्काल ग्राम पंचायतों के माध्यम से ठीक कराने का निर्देश दिया। उन्होंने अन्य सुविधाओं की समीक्षा करते हुए कहा कि जो भी कमियां हैं उनकों 31 मार्च तक पूर्ण कर प्रेरणा एप पर अवश्य अपलोड करें। प्लान प्लस साफ्टवेयर पर नई चीजें न जुडने की जानकारी पर उन्होंने कहा कि प्रमुख सचिव पंचायती राज व प्रमुख सचिव बेसिक शिक्षा को पत्र लिखकर अवगत कराया जाय। जिससे फिडिंग कराकर कार्य को ग्राम पंचायत के माध्यम से कराया जा सके।
जिलाधिकारी ने निर्देशित किया सभी विकास खण्डों में प्रधान एवं सचिव की कार्यशाला बुलाकर कायाकल्प के कार्यों की तकनिकी जानकारी भी दी जाय। उन्होंने शिक्षा में सुधार के लिए आध्यापकों की भी कार्यशाला आयोजित कर टिप्स दिये जायें। कार्यशाल के माध्यम से शिक्षण गुणवत्ता में सुधार किया जाये। जिन स्कूलों का शैक्षणिक स्तर खराब पाया गया वहां के अध्यापकों की जिम्मेदारी तयकर कार्यवाही किये जाने की चेतावनी दी।
बैठक में मुख्य विकास अधिकारी, समस्त खण्ड विकास अधिकारी, समस्त ए0डी0ओ0 पंचायत सहित विभागीय अधिकारी उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button