National

अनुच्छेद-370 हटाने को लेकर रही आशंकाएं इतिहास बन चुकी हैं : मुर्मु

रक्षा क्षेत्र में बढती आत्मनिर्भरता देश की ताकत बनी: मुर्मु

नयी दिल्ली : राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने बुधवार को कहा कि जम्मू – कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाने को लेकर जो शंकाएं थीं वे अब इतिहास बन चुकी हैं।राष्ट्रपति मुर्मु ने संसद के बजट अधिवेशन के पहले दिन दोनों सदनों की संयुक्त बैठक को संबोधित करते हुए कहा, ‘ पिछले 10 वर्षों में भारत ने राष्ट्र-हित में ऐसे अनेक कार्यों को पूरा होते हुए देखा है जिनका इंतजार देश के लोगों को दशकों से था।”श्रीमती मुर्मु ने कहा , ‘ राम मंदिर के निर्माण की आकांक्षा सदियों से थी। आज यह सच हो चुका है। जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद-370 हटाने को लेकर शंकाएं थीं। आज वहइतिहास हो चुकी हैं।’उन्होंने कहा कि इसी संसद ने तीन तलाक के विरुद्ध कड़ा कानून बनाया। हमारे पड़ोसी देशों से आए पीड़ित अल्पसंख्यकों को नागरिकता देने वाला कानून बनाया।

रक्षा क्षेत्र में बढती आत्मनिर्भरता देश की ताकत बनी: मुर्मु

राष्ट्रपति द्रौपदी मुर्मु ने कहा है कि रक्षा क्षेत्र में दिनों दिन बढती आत्मनिर्भरता देश की ताकत बन रही है और रक्षा उत्पादन एक लाख करोड रूपये को पार कर गया हैश्रीमती मुर्मु ने संसद के बजट सत्र के पहले दिन बुधवार को यहां दोनों सदनों के संयुक्त अधिवेशन काे संबोधित करते हुए कहा कि रक्षा क्षेत्र में आत्मनिर्भरता से जहां एक ओर देश में रक्षा उत्पादन बढ रहा है वहीं भारत की ताकत भी बढ रही है। उन्होंने कहा कि इसी का परिणाम है कि रक्षा उत्पादन एक लाख करोड़ रूपये के पार पहुंच गया है। ”उन्होंने कहा, “ भारत का डिफेंस प्रोडक्शन एक लाख करोड़ रुपए के पार पहुंच चुका है।” श्रीमती मुर्मु ने कहा कि अत्याधुनिक लड़ाकू विमानों और युद्धपोत के देश में ही बनाये जाने से देशवासियों को गौरव की अनुभूति हो रही है।

उन्होंने कहा ,“ आज हर भारतीय, देश में बने एयक्राफ्ट करियर आईएनएस विक्रांत को देखकर, गर्व से भरा हुआ है।Ø लड़ाकू विमान तेजस अब हमारी वायुसेना की ताकत बन रहे हैं। सी-295 ट्रांसपोर्ट एयरक्राफ्ट का निर्माण भारत में होने जा रहा है। आधुनिक एयरक्राफ्ट इंजन भी भारत में बनाया जाएगा। ”Ø उन्होंने कहा कि सरकार देश में रक्षा उत्पादन के लिए बुनियादी ढांचे का विस्तार कर रही है और उसने रक्षा क्षेत्र के दरवाजे निजी क्षेत्र के लिए भी खोल दिये हैं। उन्होंने कहा,“ उत्तर प्रदेश और तमिलनाडु में डिफेन्स कॉरिडोर का विकास हो रहा है। Øमेरी सरकार ने डिफेंस सेक्टर में निजी क्षेत्र की भागीदारी सुनिश्चित की है। स्पेस सेक्टर को भी हमारी सरकार ने युवा स्टार्ट-अप्स के लिए खोल दिया है।”

सरकार कृषि में सहकारिता को बढ़ावा दे रही है: मुर्मु

राष्ट्रपति द्राैपदी मुर्मु ने बुधवार को संसद के बजट सत्र के पहले दिन दोनों सदनों के संयुक्त अधिवेशन को संबोधित करते हुये कहा कि उनकी सरकार कृषि में सहकारिता को बढ़ावा दे रही है, इसलिये देश में पहली बार सहकारिता मंत्रालय बनाया गया है।श्रीमती मुर्मु ने कहा कि सहकारी क्षेत्र में दुनिया की सबसे बड़ी अनाज भंडारण योजना शुरू की गयी है, जिन गांवों में सहकारी समितियां नहीं हैं, वहां दो लाख समितियां बनायी जा रही हैं।(वार्ता)

रामलला की प्राण-प्रतिष्ठा भारतीय सभ्यता के कालखंड का अहम पड़ाव: मुर्मु

VARANASI TRAVEL VARANASI YATRAA
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: