Business

टॉप 5 निवेश प्रोजेक्ट में मीरजापुर मंडल यूपी में नंबर वन

मीरजापुर मंडल के तीन जिलों में टॉप फाइव प्रोजेक्ट के जरिए हुआ 86 हजार करोड़ से अधिक का निवेश.कभी नक्सल गतिविधियों के लिए देशभर में कुख्यात था मीरजापुर मंडल, योगीराज में उतरा सबसे अधिक निवेश.

  • दूसरे नंबर पर मेरठ मंडल, यहां 6 जिलों में टॉप 5 प्रोजेक्ट के जरिए हुआ 76 हजार करोड़ से अधिक का निवेश
  • तीसरे नंबर पर झांसी मंडल के 3 जिलों में हुआ ₹20 हजार करोड़ से अधिक का निवेश
  • चौथे नंबर पर लखनऊ और पांचवें पर मुरादाबाद मंडल ने बनाई अपनी जगह

लखनऊ । यूपी को उद्योग प्रदेश बनाने का संकल्प पूर्वांचल की धरती से आगे बढ़ता दिख रहा है। प्रदेश के 18 मंडलों के 75 जिलों में धरातल पर उतरे टॉप 5 निवेश के मामले में पूर्वांचल का मीरजापुर मंडल सबसे ऊपरी पायदान पर अपनी जगह बनाने में कामयाब हुआ है। इसमें भी प्रदेश के सभी 75 जिलों में हुए टॉप 5 निवेश के मामले में सोनभद्र का पलड़ा सबसे भारी है। कभी नक्सल गतिविधियों के लिए देशभर में कुख्यात रहे इस जिले ने गाजियाबाद और गौतमबुद्धनगर (नोएडा/ग्रेटर नोएडा) को भी पछाड़ दिया है।

5 सबसे भारी भरकम प्रोजेक्ट के मामले में मीरजापुर मंडल के सोनभद्र में ₹81 हजार करोड़ से अधिक का निवेश धरातल पर उतर रहा है। वहीं मंडल के तीनों जिलों (मीरजापुर, सोनभद्र और भदोही) में होने वाले निवेश को जोड़ लें तो ये रकम ₹86 हजार करोड़ से भी अधिक है। वहीं टॉप 5 निवेश के मामले में मेरठ, झांसी, लखनऊ और मुरादाबाद मंडल क्रमश: दूसरे, तीसरे, चौथे और पांचवें पायदान पर हैं। बता दें कि बीते 19 फरवरी को ही योगी सरकार ने ग्राउंड ब्रेकिंग सेरेमनी के जरिए एक ही दिन में प्रदेश में ₹10 लाख 24 हजार करोड़ के निवेश को धरातल पर उतारकर नया कीर्तिमान रचा है।

सोनभद्र बना स्वर्ण क्षेत्र
अपने नाम के ही अनुरूप सोनभद्र यूपी में निवेश के मामले में स्वर्ण क्षेत्र बनकर उभरा है। मीरजापुर मंडल में शामिल यूपी के पूर्वी छोर पर स्थित इस जनपद की सीमाएं बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़ और मध्य प्रदेश से लगती हैं। खनिज संसाधन की प्रचुरता वाला ये जनपद आजादी के बाद कई दशकों तक नक्सल गतिविधियों के लिए कुख्यात रहा है। आदिवासी और जनजातीय बहुलता वाला ये जनपद अब बड़े उद्योग समूहों की पसंद बनकर उभरा है। योगी सरकार में सुदृढ़ कानून व्यवस्था, बेहतर कनेक्टिविटी, बिजली, सड़क और अन्य इन्फ्रास्ट्रक्चर सुविधाओं के विकसित होने तथा सोनभद्र और मीरजापुर में नक्सलियों के खिलाफ चलाई गई प्रभावी कार्रवाई के बाद मंडल के तीनों जिलों में स्थापित हो रहीं पांच-पांच बड़ी परियोनाओं ने ₹86207 करोड़ रुपए इन्वेस्ट किये हैं।

सोनभद्र में निवेश करने वाले टॉप 5 प्रोजेक्ट्स थर्मल पावॅर और पम्प्ड स्टोरेज प्लांट के हैं। खास बात ये है कि सोनभद्र में टॉप 5 निवेशक कंपनियों में कोई भी ऐसी नहीं है जिसने ₹13 हजार करोड़ से कम का निवेश किया हो। वहीं मीरजापुर में सिमेंट, इथेनॉल, खनिज के क्षेत्र में कार्य कर रही कंपनियों ने निवेश किया है। इसी प्रकार भदोही में कालीन उद्योग में सबसे अधिक निवेश किया गया है। मीरजापुर मंडल में टॉप 5 निवेश से ही 16,197 रोजगार सृजित होंगे।

मेरठ मंडल में सबसे अधिक रोजगार
मेरठ मंडल के 6 जनपदों में टॉप 5 निवेश से ₹76,204 करोड़ का निवेश किया गया है। इसमें भी गौतमबुद्ध नगर (नोएडा/ग्रेटर नोएडा) में सर्वाधिक ₹56,800 करोड़ रुपए का निवेश किया गया है। इसके अलावा मंडल के अन्य जिलों में शामिल बागपत में ₹1,558 करोड़, बुलंदशहर में ₹7,553 करोड़, गाजियाबाद में ₹4,900 करोड़, मेरठ में ₹2,777 करोड़ और हापुड़ में ₹2,616 करोड़ का निवेश किया गया है। वहीं रोजगार के दृष्टिकोण से देखें तो मेरठ मंडल इन मामले में प्रदेश में सबसे ऊपर है। यहां के सभी 6 जनपदों में लग रहे 5-5 बड़े निवेश से ही 1,25,047 रोजगार के अवसर सृजित होंगे।

मुरादाबाद मंडल में 22,520 रोजगार
टॉप 5 निवेश के मामले में झांसी मंडल तीसरे स्थान पर है। मंडल में शामिल तीन जिले झांसी, जालौन और ललितपुर में ₹20,548 करोड़ का निवेश धरातल पर उतर रहा है। तीनों जिलों में हो रहे 5-5 बड़े निवेश से 6,550 रोजगार के अवसर सृजित होंगे। इसी प्रकार टॉप 5 निवेश के मामले में चौथे पायदान पर लखनऊ मंडल शामिल है। प्रदेश की राजधानी समेत 6 जिले वाले इस मंडल में ₹18,347 करोड़ की टॉप 5 परियोजनाएं धरातल पर उतर रही हैं। मंडल के सभी जिलों में उतरने वाली टॉप 5 परियोजनाओं की बात करें तो हरदोई में ₹2,628 करोड़, लखीमपुर खीरी में ₹719 करोड़, लखनऊ में ₹7,374 करोड़, रायबरेली में ₹539 करोड़, सीतापुर में ₹3,502 करोड़ और उन्नाव में ₹3,585 करोड़ की परियोजनाएं शामिल हैं।

लखनऊ मंडल में टॉप 5 निवेश से 21,650 रोजगार के अवसर सृजित होंगे। इसी प्रकार पांचवें पायदान पर मुरादाबाद मंडल शामिल है। मंडल के पाच जनपदों में हुए टॉप 5 निवेश से ₹16,369 करोड़ के प्रोजेक्ट शुरू हो रहे हैं। पांचों जनपदों में टॉप 5 प्रोजेक्ट की बात करें तो बिजनौर में ₹2,319 करोड़, अमरोहा में ₹3,472 करोड़, मुरादाबाद में ₹6,978 करोड़, रामपुर में ₹2,822 करोड़ और संभल में ₹778 करोड़ का निवेश हुआ है। मुरादाबाद मंडल के सभी जिलों में हो रहे टॉप 5 निवेश से 22,520 रोजगार के अवसर सृजित होंगे।

प्रदेश के 18 मंडलों की टॉप 5 निवेश के आधार पर रैंकिंग

1 – मिर्जापुर मंडल – 3 जिले – ₹86,607 करोड़

2 – मेरठ मंडल – 6 जिले – ₹76,204 करोड़

3 – झांसी मंडल – 3 जिले – ₹20,548 करोड़

4 – लखनऊ मंडल – 6 जिले – ₹18,347 करोड़

5 – मुरादाबाद मंडल – 5 जिले – ₹16,369 करोड़

6 – कानपुर मंडल – 6 जिले – ₹13,521 करोड़

7 – बरेली मंडल – 4 जिले – ₹13,427 करोड़

8 – वाराणसी मंडल – 4 जिले – ₹13,111 करोड़

9 – अयोध्या मंडल – 5 जिले – ₹10,143 करोड़

10 – आगरा मंडल – 4 जिले – ₹9,257 करोड़

11 – चित्रकूट मंडल – 4 जिले – ₹8,637 करोड़

12 – सहारनपुर मंडल – 3 जिले – ₹5,225 करोड़

13 – देवीपाटन मंडल – 4 जिले – ₹4,317 करोड़

14 – गोरखपुर मंडल – 4 जिले – ₹4,162 करोड़

15 – प्रयागराज मंडल – 4 जिले – ₹3,871 करोड़

16 – अलीगढ़ मंडल – 4 जिले – ₹3,821 करोड़

17 – बस्ती मंडल – 3 जिले – ₹1,763 करोड़

18 – आजमगढ़ मंडल – 3 जिले – ₹1,462 करोड़

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: