NewsOpinion

मेघालय झड़प: फिर लगा कर्फ्यू, मोबाइल इंटरनेट सेवा बंद

शिलांग :  मेघालय में सीएए और इनर लाइन परमिट (आईएलपी) पर बैठक के दौरान केएसयू कार्यकर्ताओं और गैर आदिवासियों के बीच झड़प में एक व्यक्ति की मौत के बाद शिलांग शहर के कुछ इलाकों में शनिवार दोपहर को फिर से कर्फ्यू लगा दिया गया। अधिकारियों ने यह जानकारी दी।

शुक्रवार रात को झड़प के बाद कर्फ्यू लगा दिया गया था जिसे शनिवार सुबह आठ बजे हटा लिया गया था।

उन्होंने बताया कि छह जिलों में मोबाइल इंटरनेट सेवा पर प्रतिबंध जारी है।

शिलांग के लुमदिएंज्री और सदर पुलिस थाना अंतर्गत इलाकों में दोपहर को फिर से कर्फ्यू लगा दिया गया। उन्होंने बताया कि संवेदनशील इलाकों में सशस्त्र पुलिस बल की अतिरिक्त कंपनियां तैनात की गई हैं।

एक अधिकारी ने बताया कि राज्य में हालात नियंत्रण में हैं और स्थिति पर करीब से नजर रखी जा रही है।

बांग्लादेश की सीमा से सटे ईस्ट खासी हिल्स जिले के इचामति इलाके में शुक्रवार को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के विरोध में और आईएलपी के समर्थन में एक बैठक के दौरान खासी स्टूडेंट्स यूनियन (केएसयू) के कार्यकर्ताओं और गैर आदिवासियों के बीच झड़प हो गई थी।

उन्होंने बताया कि छह जिलों ईस्ट जयंतिया हिल्स, वेस्ट जयंतिया हिल्स, ईस्ट खासी हिल्स, री भोई, वेस्ट खासी हिल्स और साऊथ वेस्ट खासी हिल्स में शुक्रवार रात से 48 घंटों के लिए मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद कर दी गईं।

अधिकारियों ने बताया कि एसएमएस सेवा को सीमित कर पांच एसएमएस प्रतिदिन कर दिया गया है।

अधिकारियों ने बताया कि शुक्रवार को इचामति में रैली पर हमले के संबंध में पुलिस ने छह लोगों को गिरफ्तार किया है जिसमें आईएलपी समर्थक एक कार्यकर्ता की मौत हो गई।

मेघालय के राज्यपाल तथागत रॉय ने लोगों से शांति बनाए रखने और अफवाहों पर ध्यान नहीं देने की अपील की है।

राज्यपाल ने एक बयान में कहा, ‘‘मैं मेघालय में सभी नागरिकों, आदिवासियों या गैर आदिवासियों से शांत रहने की अपील करता हूं। अफवाहें नहीं फैलाएं और उन पर ध्यान नहीं दें। मुख्यमंत्री ने मुझसे बात की है। उन्होंने मुझे आवश्यक कदम उठाने का आश्वासन दिया है। अब सबसे बड़ी जरूरत कानून व्यवस्था की स्थिति बनाए रखना है।’’

मेघालय के गृह मंत्री एल रिमबुई ने इचामति में घटना की निंदा की है।

उन्होंने कहा कि सच्चाई का पता लगाने के लिए घटना की मजिस्ट्रेट जांच के आदेश दे दिए गए हैं।

उन्होंने बताया कि एहतियात के तौर पर कर्फ्यू लगाया गया है और मोबाइल इंटरनेट सेवाएं बंद की गई हैं।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close