State

महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री मनोहर जोशी का निधन

मुंबई । पूर्व लोकसभा स्पीकर और अविभाजित शिवसेना के पहले मुख्यमंत्री मनोहर जोशी का शुक्रवार को मुंबई के एक अस्पताल में निधन हो गया। मनोहर जोशी 86 वर्ष के थे और बीते काफी समय से अस्पताल में भर्ती थे। दिल का दौरा पड़ने से शुक्रवार को उनका निधन हो गया। मनोहर जोशी, शिवसेना के संस्थापक बाला साहेब ठाकरे के करीबी थे और शिवसेना के गठन में उनकी अहम भूमिका थी। हालांकि मनोहर जोशी ने कुछ साल पहले उद्धव ठाकरे की सार्वजनिक तौर पर आलोचना की थी, जिसके बाद वे शिवसेना की राजनीति में हाशिए पर चले गए थे।

मनोहर जोशी का राजनीतिक करियर
2 दिसंबर, 1937 को महाराष्ट्र के तटीय कोंकण इलाके में मनोहर जोशी का जन्म हुआ था। उन्होंने मुंबई के प्रतिष्ठित वीरमाता जीजाबाई टेक्नोलॉजिकल इंस्टीट्यूट से सिविल इंजीनियरिंग में स्नातक की डिग्री हासिल की थी। मनोहर जोशी की पत्नी अनघा जोशी थीं, जिनका निधन साल 2020 में 75 साल की उम्र में हो गया था। मनोहर जोशी के परिवार में एक बेटे और दो बेटियां हैं। मनोहर जोशी के राजनीतिक करियर की शुरुआत आरएसएस के साथ हुई थी, लेकिन बाद में वे शिवसेना में शामिल हो गए थे और करीब चार दशकों तक शिवसेना के साथ जुड़े रहे। 1980 के दशक में मनोहर जोशी, शिवसेना के ताकतवर नेताओं में से एक बनकर उभरे थे और पार्टी संगठन पर अपनी पकड़ के लिए जाने जाते थे। साल 1995-1999 तक मनोहर जोशी अविभाजित शिवसेना के पहले मुख्यमंत्री रहे।

वाजपेयी की सरकार में लोकसभा स्पीकर भी रहे
अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार में साल 2002 से लेकर 2004 तक वे लोकसभा स्पीकर भी रहे। मनोहर जोशी ने अपने प्रोफेशनल करियर की शुरुआत साल 1967 में बतौर अध्यापक की थी। इसके बाद वे 1968-70 तक मुंबई नगर निगम के पार्षद रहे और बाद में मुंबई नगर निगम की स्टैंडिंग कमेटी के अध्यक्ष भी रहे। साल 1976-77 के बीच मनोहर जोशी मुंबई के मेयर भी रहे। मनोहर जोशी 1972 में महाराष्ट्र विधान परिषद के सदस्य चुने गए और तीन कार्यकाल तक इसके सदस्य रहे। साल 1990 में मनोहर जोशी महाराष्ट्र विधानसभा के सदस्य चुने गए और इस दौरान नेता विपक्ष भी रहे।

मनोहर जोशी 1999 में हुए आम चुनाव में मुंबई की नॉर्थ-सेंट्रल लोकसभा सीट से चुनकर संसद पहुंचे और बाद में केंद्रीय मंत्री के रूप में भी काम किया। मनोहर जोशी के निधन पर उन्हें श्रद्धांजलि देते हुए केंद्रीय मंत्री और वरिष्ठ भाजपा नेता नितिन गडकरी ने कहा कि मनोहर जोशी के निधन से महाराष्ट्र की राजनीति का ‘सभ्य चेहरा’ चला गया। मनोहर जोशी की सरकार में नितिन गडकरी ने बतौर मंत्री काम किया था। मनोहर जोशी का अंतिम संस्कार दादर इलाके में शिवाजी पार्क श्मशान घाट में किया जाएगा।(वीएनएस)

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: