HealthUP Live

रायबरेली में शुरु हुआ एम्स, पीएम मोदी ने कहा- आपके सेवक ने पूरी की गारंटी

  • नए भारत में हर नागरिक को उत्तम स्वास्थ्य सेवा की गारंटी मिल रही है: सीएम योगी
  • सीएम योगी ने कहा- आज प्रदेश के 75 जनपदों में मिल रही है डायलिसिस की सुविधा

रायबरेली। प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी रविवार को देश के अलग-अलग राज्यों में नवनिर्मित अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान (एम्स) का उद्घाटन किया। उद्घाटित होने वाले एम्स में रायबरेली (उत्तर प्रदेश) राजकोट (गुजरात), मंगलगिरी (आंध्र प्रदेश), बठिंडा (पंजाब) और कल्याणी (पश्चिम बंगाल) शामिल हैं। रायबरेली के उद्घाटन समारोह से पीएम मोदी वर्चुअली जुड़े। इस दौरान पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने यूपी के रायबरेली को एम्स की गारंटी दी थी। कांग्रेस के शाही परिवार ने रायबरेली में सिर्फ राजनीति की, काम मोदी ने किया। पीएम मोदी ने कहा कि उन्होंने रायबरेली एम्स का पांच साल पहले शिलान्यास किया और आज लोकार्पण किया। आपके सेवक ने गारंटी पूरी की।

रायबरेली एम्स के उद्घाटन समारोह में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी शामिल हुए। इस दौरान उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में पिछले 10 वर्षों में देश में क्रांतिकारी परिवर्तन देखने को मिला है। उन्होंने कहा कि आज नए भारत में हर नागरिक को सुरक्षा और उत्तम स्वास्थ्य सेवा की गारंटी मिल रही है। सीएम योगी ने का कि नए भारत के पास विकास की बड़ी-बड़ी परियोजनाओं को धरातल पर उतारने की क्षमता है। साथ ही आज डबल इंजन की सरकार के पास हर युवा को काम और आम नागरिक की आस्था को सम्मान देने की हिम्मत भी है।

सीएम योगी ने समारोह को संबोधित करते हुए कहा कि रायबरेली एम्स के उद्घाटन के साथ ही उत्तर प्रदेश देश के उन अग्रणी राज्यों में शामिल हो गया, जहां दो-दो एम्स है। पहला एम्स गोरखपुर में शुरु हुआ था आज रायबरेली में शुरु हो रहा है। उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष रायबरेली एम्स में 100 छात्रों ने एमबीबीएस में प्रवेश लिया था।

सीएम योगी ने कहा कि 2017 में जब प्रदेश में डबल इंजन की सरकार आई थी तो हमारे सामने स्वास्थ्य सेवा एक बड़ी चुनौती थी। प्रदेश में इंसेफेलाइटिस, मलेरिया, कालाजार और डेंगू का प्रकोप था। स्वास्थ्य सेवाएं बहुत खराब थी। 1947 से 2017 तक प्रदेश के 75 जनपदों में केवल 12 मेडिकल कॉलेज संचालित थे। उन्होंने कहा कि आज प्रदेश में सरकारी और निजी मिलाकर 65 मेडिकल कॉलेज चल रहे हैं। इसके अलावा प्रदेश में 15 मेडिकल कॉलेज निर्माणाधीन है। सीएम योगी ने कहा कि आज प्रदेश के 75 जनपदों में डायलिसिस और टेली मेडिसिन की सुविधा उपलब्ध है।

रायबरेली एम्स नामदार और कामगार के फर्क का सबसे बड़ा उदाहरण: केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी
केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने कहा कि रायबरेली एम्स नामदार और कामगार के फर्क का सबसे बड़ा उदाहरण है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद से 2013 तक देश में 380 मेडिकल कॉलेज बने थे। वहीं 2014 से 2024 के बीच आज देश में 706 मेडिकल संचालित हैं। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अमेठी में जो तीस साल में नहीं हो पाया वो मुख्यमंत्री योगी ने तीन माह में कर दिखाया। उन्होंने कहा कि 2019 में हुए लोकसभा चुनाव का परिणाम आने के तीन माह के अंदर अमेठी को मेडिकल मिल गया। यह मुख्यमंत्री योगी के कारण संभव हो पाया। आज अमेठी में डायलिसिस सेंटर, ट्रामा सेंटर और ब्लड बैंक है, लोगों को इलाज के लिए कहीं बाहर नहीं जाना पड़ता है।

कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री एसपी सिंह बघेल, उत्तर प्रदेश के स्वास्थ्य राज्य मंत्री मयंकेश्वर शरण सिंह, उद्यान कृषि विपणन राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार दिनेश प्रताप सिंह सहित रायबरेली और अमेठी के जनप्रतिनिधि और भरी संख्या में भाजपा कार्यकर्ता एवं आम लोग मौजूद रहे।

जलमग्न द्वारका शहर में प्रार्थना करना दिव्य अनुभव: मोदी

मैं विकसित भारत के संकल्प को और मजबूत करके आया हूं: मोदी

‘परमार्थ परमो धर्मः’ के मार्ग पर चलने वाले लोग सशक्त राष्ट्र के निर्माण में सबसे महत्वपूर्ण: मोदी

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: