UP Live

पांच करोड़ आयुष्मान कार्ड बनाने वाला देश का पहला राज्य बना उत्तर प्रदेश

प्रदेश में अब तक 92.48 प्रतिशत हेल्थ क्लेम का निस्तारण किया जा चुका है.प्रभु श्रीराम की नगरी अयोध्या में बन चुके हैं आठ लाख से ज्यादा आयुष्मान कार्ड.स्वास्थ्य से जुड़ी पांच प्रमुख योजनाओं में उत्तर प्रदेश नंबर-1 पर.

  • सीएम योगी के नेतृत्व में स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में उत्तर प्रदेश ने हासिल की बड़ी उपलब्धि

लखनऊ। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में स्वास्थ्य सुविधाओं के मामले में शुक्रवार को उत्तर प्रदेश ने बड़ी उपलब्धि हासिल की है। अब उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य हो गया है, जहां पांच करोड़ आयुष्मान कार्ड बन चुके हैं। साथ ही अन्य राज्यों की तुलना में सबसे अधिक आयुष्मान कार्ड बनाने के रिकॉर्ड को भी उत्तर प्रदेश ने बरकरार रखा है।

सीएम योगी की मंशा है कि उत्तर प्रदेश का प्रत्येक व्यक्ति स्वस्थ एवं निरोगी रहे। इसके लिए वह अधिकारियों को हर जरूरतमंद व्यक्ति का प्राथमिकता के आधार पर आयुष्मान कार्ड बनाने का निर्देश देते रहते हैं। इसी का परिणाम है कि आज प्रदेश में हर गरीब और वंचित व्यक्ति भी प्राइवेट अस्पताल में अपना उपचार करा पा रहा है।

उत्तर प्रदेश में अब तक 50017920 आयुष्मान कार्ड बनाए जा चुके हैं। वहीं प्रदेश के 74382304 लोगों को इस योजना का लाभ मिल चुका है। प्रदेश में कुल 3716 अस्पताल इस योजना के अंतर्गत इंपैनल्ड हैं। आयुष्मान भारत योजना के तहत प्रदेश में अब तक कुल 3481252 हेल्थ क्लेम किए गए हैं, जिसमें से 3275737 लोगों क्लेम निस्तारित हो चुके हैं। इस तरह से प्रदेश में 92.48 प्रतिशत क्लेम का निस्तारण किया जा चुका है।

अयोध्या में बनें आठ लाख 37 हजार से ज्यादा कार्ड
प्रभु श्रीराम की नगरी अयोध्या में अब तक अयोध्या जनपद में 8 लाख 37 हजार 700 लाभाथियों के आयुष्मान कार्ड वितरित किए जा चुके हैं। इस योजना का लाभ जनपद के 19 निजी अस्पताल व 16 सरकारी अस्पताल दे रहे हैं। अयोध्या में इस योजना के तहत पंचायत सहायक, कोटेदार एवं आशा कार्यकत्रियों द्वारा घर घर जाकर पीएमजेएवाई मोबाइल एप्प के माध्यम से कार्ड बनाये जा रहे हैं। इसके अलावा गांव के ग्राम पंचायत भवन पर भी पात्र लाभाथियों का आयुष्मान कार्ड बन रहे हैं।

स्वास्थ्य से जुड़ी इन योजनाओं में उत्तर प्रदेश नंबर-1
स्वास्थ्य से जुड़ी पांच प्रमुख योजनाओं में उत्तर प्रदेश नंबर-1 पर है। 1- 5 करोड़ से ज्यादा आयुष्मान भारत हेल्थ कार्ड उत्तर प्रदेश में बन चुके हैं। 2- प्रधानमंत्री सुरक्षित मातृत्व अभियान के तहत 31,86,006 महिलाओं की प्रदेश में प्रसव पूर्व जांच की जा चुकी है। 3- प्रदेश में 1267 जनौषधि केंद्र संचालित हैं। वहीं 21882 हेल्थ एंड वेलनेस सेंटर भी उत्तर प्रदेश में चल रहे हैं। इसके अलावा प्रदेश की 54.44 लाख महिलाओं को प्रधानमंत्री मातृत्व वंदना योजना लाभ प्राप्त हुआ है।

सीएम योगी ने प्रदेश वासियों को दी बधाई
प्रदेश वासियों को बधाई! सीएम योगी ने अपने सोशल मीडिया अकाउंट एक्स पर पोस्ट किया कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के मार्गदर्शन में उत्तर प्रदेश अपने 5 करोड़ नागरिकों को आयुष्मान कार्ड का ‘सुरक्षा कवच’ प्रदान करने वाला देश का पहला राज्य बन गया है।यह उपलब्धि ‘नए उत्तर प्रदेश’ में पात्र जन तक योजनाओं की शत-प्रतिशत पहुंच को सुनिश्चित करने के हमारे संकल्प की एक झांकी है।’नए उत्तर प्रदेश’ में धनाभाव के कारण कोई निर्धन इलाज से वंचित न रहे, यह डबल इंजन सरकार की शीर्ष प्राथमिकता है।

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: