UP Live

उत्तर प्रदेश को ‘मोस्ट फेवरिट टूरिस्ट डेस्टिनेशन’

सीएम योगी के विजन अनुसार उत्तर प्रदेश को 'मोस्ट फेवरिट टूरिस्ट डेस्टिनेशन' के तौर पर देश-विदेश में प्रोजेक्ट करने की विस्तृत कार्ययोजना हुई निर्धारित.जापान, इजरायल, चीन, अमेरिका, फ्रांस, सिंगापुर, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, इजरायल, रूस व यूएई में होने वाले इंटरनेशनल ट्रैवल व ट्रेड एक्सपो पर सबसे ज्यादा फोकस.

  • कुल 28 देशों के 50 शहरों में उत्तर प्रदेश के टूरिस्ट डेस्टिनेशंस के प्रति जागरुकता व रुचि विकसित करने के लिए वृहद अभियान चलाएगी योगी सरकार

लखनऊ । उत्तर प्रदेश को देश के फोस्ट फेवरिट डेस्टिनेशन के तौर पर स्थापित करने में लगी योगी सरकार पर्यटन के लिहाज से भी राज्य को मोस्ट फेवरिट टूरिस्ट डेस्टिनेशन के तौर पर देश-दुनिया में प्रोजेक्ट करने की तैयारी में है। उत्तर प्रदेश के आध्यात्मिक पर्यटन के साथ ही अन्य प्रमुख पर्यटन आकर्षण केंद्रों के प्रति देश-दुनिया में एक सकारात्मक रुचि उत्पन्न करने की मंशा से सीएम योगी आदित्यनाथ के निर्देशन में एक विस्तृत कार्ययोजना के माध्यम से रूपरेखा तय की गई है। इसके अंतर्गत यह तय किया गया है कि दुनिया के प्रमुख 12 इंटरनेशनल ट्रेड फेयर्स, ट्रैवल फेयर्स व एक्सपो में उत्तर प्रदेश रोड-शो, कैंपेनिंग समेत तमाम माध्यमों से अपनी उपस्थिति दर्ज कराते हुए ब्रांड यूपी और डेस्टिनेशनल यूपी को प्रमोट किया जाएगा।

इनमें जापान, इजरायल, चीन, अमेरिका, फ्रांस, सिंगापुर, ब्रिटेन, ऑस्ट्रेलिया, जर्मनी, इजरायल, रूस व यूएई प्रमुख हैं। वहीं, देश समेत कुल 28 राष्ट्रों के लगभग 50 शहरों में विभिन्न आयोजनों के दौरान उत्तर प्रदेश को टूरिस्ट हब के तौर पर प्रोजेक्ट करने की भी विस्तृत रूपरेखा तय कर ली गई है। इन सभी कार्ययोजनाओं पर उत्तर प्रदेश पर्यटन विभाग ने कार्रवाई भी शुरू कर दी है तथा नेशनल व इंटरनेशनल रोड शो के आयोजन के दृष्टिगत इंटरनेशनल ब्रांड बिल्डिंग, मार्केटिंग, पब्लिसिटी व संचालन के लिए एजेंसी को आबद्ध करने की प्रक्रिया जारी है।

दुनिया के सभी प्रमुख टूरिस्ट हब में होगा ब्रांड यूपी का प्रचार-प्रसार
सीएम योगी के विजन अनुसार तैयार की गई विस्तृत कार्ययोजना में उत्तर प्रदेश को ब्रांड यूपी तथा मोस्ट फेवरिट टूरिस्ट डेस्टिनेशन के तौर पर देश-दुनिया में प्रोजेक्ट करने के लिए जो मास्टर प्लान तैयार किया गया है उसमें इंटरनेशनल ट्रेड शो, ट्रैवल फेयर्स व एक्सपो की प्रमुख भूमिका है। जिन इंटरनेशनल आयोजनों को इस प्रक्रिया के जरिए टारगेट किया जाएगा उनमें आईटीबी एशिया (सिंगापुर), आईएफटीएम टॉप आरईएसए पेरिस (फ्रांस), जेएटीए टोक्यो (जापान), डब्लयूटीएम लंदन (ब्रिटेन), यूएसटीओए अमेरिका, एफआईटीयूआर मैड्रिड (स्पेन), एआईएमई मेलबर्न (ऑस्ट्रेलिया), आईएमटीएम तेल अवीव (इजरायल), एमआईटीटी मॉस्को (रूस), एटीएम दुबई (यूएई), व सीओटीटीएम बीजिंग (चीन) जैसे आयोजन मुख्य हैं। सभी चयनित इंटरनेशनल लोकेशंस पर प्रचार और ब्रांड विकास अभियान आयोजित करने के साथ ही भारतीय दूतावासों के साथ समन्वय स्थापित कर इस प्रक्रिया को पूर्ण किया जाएगा।

पड़ोसी देशों समेत दुनिया के 50 शहरों में होगी यूपी की ब्रांडिंग
कार्ययोजना के अनुसार, ब्रिटेन के लंदन, मैनचेस्टर, बर्मिंघम व ग्लासगो, स्पेन के मैड्रिड, बिलबाओ, बार्सिलोना, इटली के रोम, मिलान व जर्मनी के बर्लिन, म्यूनिख, फ्रैंकफर्ट में इंटरनेशनल रोड शो का आयोजन किया जाएगा। इसी प्रकार, पुर्तगाल के लिस्बन, नॉर्वे के ओस्लो, स्वीडन के स्टॉकहोम, फ्रांस के पेरिस, नीदरलैंड के हेग व फिनलैंड के हेलसिंकी में भी रोड शो व एग्जिबीशन स्टॉल्स लगाए जाएंगी। अमेरिका के प्रमुख शहरों सैन फ्रांसिस्को, लॉस एंजिल्स, न्यूयॉर्क व शिकागो में भी बड़े स्तर पर ब्रांड यूपी और उत्तर प्रदेश पर्यटन को प्रमोट किया जाएगा।

इसके अतिरिक्त, अर्जेंटीना के ब्यूनस आयर्स, ब्राजील के ब्रासीलिया, चीन के शंघाई, बीजिंग व ऑस्ट्रेलिया के सिडनी, मेलबर्न तथा ब्रिस्बेन में इंटरनेशनल रोड शो आयोजित किए जाएंगे। खाड़ी देशों में संयुक्त अरब अमीरात के दुबई, ओमान के मस्कट, कतर के दोहा, कुवैत के कुवैत शहर, लेबनान के बेरूत, रूस के मॉस्को, इज़राइल के तेल अवीव में भी इस प्रक्रिया को पूर्ण किया जाएगा। दक्षिण पूर्व देशों में सिंगापुर, थाईलैंड के बैंकॉक, जापान के टोक्यो, कंबोडिया के नोम पेन्ह, फिलीपींस के मनीला, वियतनाम के हनोई, इंडोनेशिया के जकार्ता, मलेशिया के कुआलालंपुर, साउथ कोरिया के सियोल, श्रीलंका के कोलंबो, भूटान के थिम्पू तथा नेपाल के काठमांडू में ब्रांड यूपी को प्रमोट करने के लिए विभिन्न प्रकार की गतिविधियों का सहारा लिया जाएगा।

विदेशों के मैक्सिमम फुटफॉल प्लेसेस पर होगी यूपी की ब्रांडिंग
जिन वैश्विक शहरों में उत्तर प्रदेश पर्यटन व ब्रांड यूपी को प्रमोट करने की कार्य योजना बनाई गई है वहां इस बात को भी सुनिश्चित किया जाएगा कि मैक्सिमम फुटफॉल वाले स्थानों पर उत्तर प्रदेश की ब्रांडिंग हो सके। इन स्थानों पर चैनल पार्टनर्स, मीडिया हाउस के मालिकों, सभी प्रमुख हवाई अड्डों, रेलवे स्टेशनों, बस स्टेशनों, मेट्रो स्टेशनों, मेट्रो-सिटी में मीडिया आउटलेट के मालिकों से प्रस्ताव प्राप्त कर कार्य पूर्ण किया जाएगा। इसके अतिरिक्त, देश-विदेश में प्राइम और नॉनप्राइम टाइम स्थान, टीवी और रेडियो मीडिया हाउस, प्रिंट, डिजिटल और अन्य मीडिया स्रोत में व्यापक प्रचार और ब्रांडिंग अभियान को भी पूर्ण करने की तैयारी शुरू हो गई है। एजेंसी के माध्यम से पर्यटन विभाग के निर्देशानुसार चयनित राष्ट्रीय स्थानों पर वृहद स्तर पर प्रचार और ब्रांड विकास अभियान भी चलाया जाएगा।

VARANASI TRAVEL VARANASI YATRAA
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: