HealthNewsPoliticsState

जिस समाज में भेदभाव होता है, वह आगे नहीं बढ़ सकता है-मुख्यमंत्री

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कुशीनगर में प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर ‘मुख्यमंत्री आरोग्य मेला’ की छठी कड़ी के दौरान जनसभा को किया सम्बोधित

कुशीनगर । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि इन दिनों दुनिया में कोरोना वायरस को लेकर हलचल है। इससे डरे नहीं, बल्कि सावधान बरतें, क्योंकि बीमारी में उपचार से महत्वपूर्ण बचाव होता है। हमारी सरकार ने संदिग्ध मरीजों के लिए हर जनपद में एक आइसोलेशन वार्ड बनाया है, जहां उनके इलाज की पूरी व्यवस्था है।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को कुशीनगर के अहिरौली बाजार स्थित प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र पर मुख्यमंत्री आरोग्य मेला की छठी कड़ी के दौरान एक जनसभा को सम्बोधित किया। इस दौरान उन्होंने सभी को ‘अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस’ की बधाई दी। मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हमारी सरकार प्रदेश के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर ‘मुख्यमंत्री आरोग्य मेला’ आयोजित कर मातृशक्ति के प्रति सम्मान व्यक्त करने व उनके सशक्तिकरण के लिए अपनी प्रतिबद्धता को दोहरा रही है।
मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि जिस समाज में जाति, मत, मजहब, लिंग अथवा किसी भी आधार पर भेदभाव होता है, वह समाज आगे नहीं बढ़ सकता है। सामूहिकता का प्रयास ही हमारे सशक्तिकरण का आधार बन सकता है। भारतीय परंपरा में मातृशक्ति का बहुत बड़ा महत्त्व है। जीवन के प्रत्येक क्षेत्र में उन्हें सम्मान मिला है। यही कारण रहा है कि सबसे प्राचीन समाज तमाम विपरीत परिस्थितियों का सामना करते हुए भी निरंतर प्रगति के पथ पर आगे बढ़ता गया।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि 2 फरवरी से प्रदेश के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर मुख्यमंत्री आरोग्य मेला आयोजित हो रहा है। जिन प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों के बारे में कहा जाता था कि यहां डॉक्टर नहीं आते, वहां अब हर रविवार को 3-4 डॉक्टरों की टीम मरीजों को निःशुल्क परामर्श दे रही है। इसके साथ ही इस मेले में लोगों को दवा और जांच की सुविधा भी उपलब्ध कराई जा रही है। उन्होंने कहा कि प्रदेश के सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों पर लगने वाले इस मेले में टीबी, कुष्ठ रोगियों या किसी अन्य बीमारी से ग्रसित रोगियों को आवश्यक दवा दी जा रही है। साथ ही आयुष्मान भारत और मुख्यमंत्री जन आरोग्य योजना के गोल्डन कार्ड उपलब्ध कराने के साथ ही पोषण मिशन का प्रचार-प्रसार भी किया जा रहा है।

मुख्यमंत्री योगी ने कहा कि हमारे शरीर का यदि एक भी अंग कमजोर हो जाता है, तो वह शरीर पूरा नहीं माना जाता। यदि समाज में कोई व्यक्ति किसी भी प्रकार से कमजोर रह जाए, तो वह समाज की क्षति होती है और इसकी कीमत समाज को चुकानी पड़ती है। इस बात को ध्यान में रखकर हमारी सरकार पोषण मिशन के कार्यक्रम में तेजी ला रही है। जिसके तहत आज से 15 दिन के लिए एक विशेष पोषण मिशन कार्यक्रम का शुभारम्भ भी किया जा रहा है। इसके तहत प्रत्येक गांव में हर एक बच्चे तक आंगनबाड़ी और आशा कार्यकत्रियों को पहुंचना होगा। उन्होंने कहा कि हमारी सरकार कुशीनगर में भगवान बुद्ध को समर्पित एक मेडिकल कॉलेज का निर्माण करने जा रही है, जो यहां के लोगों को बेहतर स्वास्थ्य की सुविधा उपलब्ध कराएगा। इलाज के लिए लोगों गोरखपुर नहीं जाना पड़ेगा।

दस महिलाओं को किया सम्मानित

कार्यक्रम में अपने सम्बोधन से पहले मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र का निरीक्षण। वहीं सम्बोधन के बाद उन्होंने ‘ अंतरराष्ट्रीय महिला दिवस’ के अवसर पर अलग-अलग क्षेत्रों में उत्कृष्ट कार्य करने वाली 10 महिलाओं को सम्मानित भी किया। सम्मानित होने वाली महिलाओं मंजू लता, सरोज देवी, गुंजा गौड़, रोशनी, फातिमा खातून, वीभा पाण्डेय, नीरज पाण्डेय, शशिकला, ज्योति सिंह और सुनैना देवी शामिल रहीं।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close