NationalState

युवा गढ़ रहे नए भारत के नए यूपी की नई तस्वीर: सीएम योगी

पिछली सरकारें 'मंगल दलों' और 'पीआरडी जवानों' को पूछती तक न थीं, 05 साल में बदल गई तस्वीर: सीएम योगी

  • गांव-गांव में बन रहे खेल मैदान, ओपन जिम, पीआरडी जवानों का मानदेय भी बढ़ा
  • सीएम ने दिए मंगल दलों को खेल सामग्री, कोविड काल के कार्यों को सराहा
  • 77,935 मंगल दलों का गठन अभूतपूर्व, खेल-कूद के साथ जनजागरूकता में निभा रहे अहम भूमिका

लखनऊ : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मंगल दलों से जुड़ रहे लाखों युवाओं का अभिनन्दन किया है। उन्होंने कहा है कि मंगल दल खेल-कूद के साथ युवाओं को सामाजिक सरोकारों से जोड़ने का शानदार मंच है। पिछली सरकारों ने इन मंगल दलों को उपेक्षित रखा, लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने युवाओं की ऊर्जा को पहचाना और उन्हें निखरने का मौका दिया। नतीजतन आज प्रदेश में अकेले 77,935 मंगल दल पंजीकृत हैं , जिनमें से 42,042 युवक मंगल दल एवं 35,893 महिला मंगल दल हैं।मंगल दलों द्वारा फिट इंडिया, नमामि गंगे, वृक्षारोपण, रक्तदान, स्वच्छता, कोविड से राहत एवं बचाव आदि जैसे महत्वपूर्ण कार्यों में किए गए योगदान की सराहना करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि यह युवा अपनी प्रतिभा और क्षमता से दुनिया के सबसे युवा देश भारत में सबसे ज्यादा युवाओं वाले नए उत्तर प्रदेश की नई तस्वीर गढ़ रहे हैं।

सीएम योगी ने शनिवार को अपने सरकारी आवास पर विभिन्न जनपदों से आए युवक व महिला मंगल दलों को प्रोत्साहन स्वरूप खेल सामग्री प्रदान क़िया। मंगल दलों के पदाधिकारियों और सदस्यों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा कि प्रदेश के ग्रामीण क्षेत्रों में खेल इंफ्रास्ट्रक्चर के विकास कर खिलाड़ियों को राष्ट्रीय स्तर तक की खेल प्रतियोगिताओं में भाग लेने के लिए लगातार प्रयास किया जा रहा है। गांव-गांव में खेल मैदान बन रहे हैं, ओपन जिम की व्यवस्था हो रही है। कई जिलों में तो परिषदीय विद्यालयों के पास ही खेल मैदान विकसित कराये जा रहे हैं। युवाओं के सांस्कृतिक विकास एवं लोक सांस्कृतिक विरासत को सहेजने के उद्देश्य से स्वामी विवेकानंद की जयंती से लेकर पूरे साल आयोजन होते रहते हैं। सांस्कृतिक प्रतियोगिताओं, युवा नेतृत्व प्रशिक्षण शिविरों एवं ग्रामीण खेल प्रतियोगिताओं का आयोजन कराया जा रहा है। पीआरडी जवानों की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि अब तो पीआरडी स्वयंसेवकों का ड्यूटी भत्ता ₹375 से बढ़ाकर ₹395 प्रतिदिन कर दिया गया है। पहले की सरकारें इनसे काम तो लेती थीं लेकिन इनके बारे में सोचती नहीं थीं।

मुख्यमंत्री ने युवा कल्याण विभाग के मंत्री उपेंद्र तिवारी और अपर मुख्य सचिव डिम्पल वर्मा सहित पूरी टीम की सराहना भी की। उन्होंने कहा कि साल 2018-19 में 20,000 मंगल दलों को एवं 2019-20 में 25,000 मंगल दलों को खेलकूद प्रोत्साहन सामग्री का वितरण किया गया। यह अभूतपूर्व है। प्रधानमंत्री मोदी द्वारा शुरू की गई स्टार्ट अप इंडिया, स्टैंड अप इंडिया, डिजिटल इंडिया, खेलो इंडिया कार्यक्रमों की बात करते हुए सीएम ने कहा कि इन योजनाओं ने हमारे युवाओं को एक राह दिखाई है। कोरोना काल में कोटा (राजस्थान) में फंसे यूपी के 15000 बच्चों की पीड़ा साझा करते हूए उन्होंने कहा कि उस समय हमने बसें भेजकर बच्चों की सुरक्षित वापसी कराई लेकिन फिर ‘अभ्युदय’ योजना भी शुरू की, ताकि नीट, एनडीए, यूपीएससी, बैंकिंग, जेईई जैसी प्रतियोगी परीक्षाओं की तैयारी हमारे युवा यूपी में ही कर सकें। उन्होंने कहा कि आज राज्य सरकार 01 करोड़ युवाओं को टैबलेट/स्मार्टफोन दे रही है। यह उन्हें डिजिटली सशक्त बनाएगा।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: