PoliticsUP Live

अलका राय, पूजा-जया पाल के मंगलसूत्र का हिसाब दे सपाः सीएम योगी

  • बोले- कांग्रेस पिछड़ी जाति के आरक्षण में कटौती कर मुसलमानों को देना चाह रही है
  • सीएम ने कहा- इंडी गठबंधन बाप-दादा की संपत्ति पर लगाएगी टैक्स, कांग्रेस-सपा के गुंडे हड़पेंगे प्रॉपर्टी
  • बोले- शिवपाल को बैठने के लिए कुर्सी तक नहीं मिलता, हारने के लिए दे दिया था बदायूं का चूरन

इटावा : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ गुरुवार को समाजवादी पार्टी के गढ़ में अपने तेवर में दिखे। उन्होंने सपा सरकार में हुई हत्याओं का हिसाब मांगा। सीएम योगी ने दिवंगत विधायक कृष्णानंद राय, राजू पाल व अधिवक्ता उमेश पाल की नृशंस तरीके से की गई हत्या का मुद्दा उठाया। उन्होंने कहा कि अलका राय, पूजा पाल, जया पाल और कारसेवकों की पत्नियों के मंगलसूत्र का हिसाब समाजवादी पार्टी कब देगी। सपा नेत्री जवाब दें, माफिया के द्वारा गाजीपुर में भाजपा के विधायक कृष्णानंद राय के साथ मारे गए छह लोगों की विधवाओं का क्या हुआ। सपा सरकार में पाले गए माफिया ने विहिप के अंतरराष्ट्रीय कोषाध्यक्ष नंदकिशोर रूंगटा की अपहरण कर निर्मम हत्या कर दी थी। उनकी विधवा का क्या हुआ। सपा ने अपने कृत्यों पर कभी पश्चाताप नहीं किया। यह देश की कीमत पर राजनीति करना चाहते हैं और भाजपा देश के लिए राजनीति करती है।

योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को जसवंत नगर में जनसभा को संबोधित किया और जयवीर सिंह के पक्ष में मतदान की अपील की। इस दौरान समाजवादी पार्टी के कई कार्यकर्ताओं ने भारतीय जनता पार्टी की सदस्यता ग्रहण की। जनसभा को संबोधित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या में जिन रामभक्तों का लहू सपा सरकार ने बहाया था। उन नौजवानों की विधवाओं के मंगलसूत्र पर सपा नेत्री जवाब कब देंगी। उन्होंने सपा के परिवारवाद पर तंज कसते हुए पूछा कि क्या परिवार के बाहर सपा को कोई यदुवंशी कार्यकर्ता नहीं मिला, जिसे वे सदन में भेज सकें। सीएम ने कहा कि कांग्रेस और इंडी गठबंधन की कुदृष्टि मां-बहनों के मंगलसूत्र पर है। माताएं-बहनें एक-एक पैसा जोड़कर स्त्रीधन के रूप में जेवर मंगलसूत्र, लॉकेट, गले का हार खरीदती हैं। यही हमारी मां- बहनों की अमानत होती है, जिसे वह अपनी आने वाली पीढ़ियों (बेटी-बहू) को विरासत में देती हैं। कांग्रेस की निगाह मां-बहनों की अमानत पर है।

कांग्रेस आएगी तो मुसलमानों की वकालत करेगी
सीएम योगी ने कहा कि कर्नाटक के अंदर कांग्रेस की सरकार ने कल कहा कि ओबीसी के आरक्षण में 32 फीसदी मुस्लिमों को दे दिया है। कांग्रेस पिछड़ी जाति के आरक्षण को बांटने का कार्य कर रही है। यह पहली बार नहीं हो रहा, जब कांग्रेस नेतृत्व की यूपीए सरकार थी और सपा-बसपा यूपीए का समर्थन कर रही थी। उस समय भी पिछड़ी व अनुसूचित जाति के आरक्षण में कटौती कर मुसलमानों को देने का प्रयास किया गया था। कांग्रेस फिर कह रही है कि आएंगे तो देश के संसाधनों पर फिर से मुसलमानों के अधिकार की वकालत करेंगे। वह यह नहीं बता रहे हैं कि भारत के हिंदू, पिछड़ी, अनुसूचित जाति व जनजाति के लोग कहां जाएंगे।

आपके पिता-दादा की संपत्ति में से आधी संपत्ति कांग्रेस व सपा के लोग हड़प लेंगे
सीएम योगी ने सैम पित्रोदा के बयान का हवाला देते हुए कहा कि कांग्रेस के सलाहकार का कहना है कि कांग्रेस की सरकार आएगी तो विरासत टैक्स लगाएगी। यह टैक्स आपके बाप-दादा की संपत्ति पर लगेगा, उसके बाद आपकी आधी संपत्ति कांग्रेस के लोग हड़प लेंगे। आपको आपकी संपत्ति से वंचित कर देंगे। उन्होंने कहा कि कांग्रेस गरीबी हटाने के लिए अब कह रही है कि आपके प्रॉपर्टी का सर्वे कराएंगे। यदि माता-पिता, बाप-दादा ने शहर-गांव में चार कमरे का मकान बनवा लिया है और दो में रह सकते हैं तो दो कमरे सपा-कांग्रेस के गुंडे हड़प लेंगे।

माफिया की कब्र पर फातिहा पढ़ा, लेकिन कल्याण सिंह के निधन पर शोक संवेदना तक नहीं व्यक्त किया
सपा पर बिफरे सीएम योगी ने कहा कि कल्याण सिंह ने पूरा जीवन यूपी के विकास व राम जन्मभूमि के लिए समर्पित किया था। उन्होंने बताया कि मुलायम सिंह की मृत्यु पर वह खुद उनके पैतृक गांव सैफई आकर श्रद्धांजलि दिए थे। पीएम मोदी ने शोक व्यक्त किया था, लेकिन कल्याण सिंह के निधन पर सपा अध्यक्ष व पार्टी की तरफ से कोई संवेदना नहीं व्यक्त की गई। वहीं एक माफिया मरा था, उसके लिए फातिहा पढ़ने के लिए सपा के लोग विलाप कर रहे थे।

शिवपाल केवल चूरन खाने वाले रह गए
सीएम योगी ने कहा कि बेचारे शिवपाल पर तरस आती है। शिवपाल केवल चूरन खाने वाले रह गए हैं। कभी मुलायम सिंह के मुख्य सिपहसालार हुआ करते थे। पूरे प्रदेश में तूती बोलती थी। आज क्या हालत है। उन्हें बैठने के लिए सोफा नहीं, बल्कि हत्था मिलता है। शिवपाल चूरन खाने के आदी हो गए हैं।

सपा के लोगों से पूछिए कि श्रीराम मंदिर की प्राण-प्रतिष्ठा का बहिष्कार क्यों किया
सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि एक तरफ विकास व विकसित भारत की संकल्पना के साथ मोदी जी आपके बीच में हैं तो दूसरी तरफ सपा-कांग्रेस का इंडी गठबंधन व बसपा के लोग अपने कुनबे के साथ चुनाव में है। चुनाव के पहले यह लोग दिखाई नहीं देते। चुनाव के समय यह राग अलापते दिखाई देते हैं। एक बार सपा-कांग्रेस से पूछिए कि जब अयोध्या में प्रभु श्रीरामलला के प्राण-प्रतिष्ठा की बात आई तो इन लोगों ने आयोजन का बहिष्कार क्यों किया। सीएम योगी ने कहा कि राम-कृष्ण के अस्तित्व पर प्रश्न उठाने वालों के साथ इंडी गठबंधन को जनता कभी स्वीकार्य नहीं करेगी।

इस अवसर पर भाजपा कानपुर-बुंदेलखंड के क्षेत्रीय अध्यक्ष प्रकाश पाल, योगी सरकार के पर्यटन/संस्कृति मंत्री व भाजपा के लोकसभा उम्मीदवार जयवीर सिंह, विधायक रामनरेश अग्निहोत्री, प्रेम सिंह शाक्य आदि मौजूद रहे।

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button