Breaking News

सबका संबल बन रही संवेदनशील सरकार : सीएम योगी

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के 82 लाभार्थियों को मिला लैपटॉप.मेधावी छात्राओं को प्राप्त हुआ प्रोत्साहन पुरस्कार राशि का चेक.20 महिला मंगल दलों में स्पोर्ट्स किट का हुआ वितरण.

गोरखपुर । मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन में उत्तर प्रदेश की संवेदनशील सरकार सबका संबल बन रही है। मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना, बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ जैसे अभियान सरकार की इसी संवेदनशीलता के प्रयास हैं।सीएम योगी सोमवार को योगिराज बाबा गंभीरनाथ प्रेक्षागृह में मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के 82 लाभार्थियों को लैपटॉप गिफ्ट करने, मेधावी छात्राओं को प्रोत्साहन पुरस्कार राशि का चेक और बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ योजना के तहत 20 महिला मंगल दलों को स्पोर्ट्स किट वितरित करने के समारोह को संबोधित कर रहे थे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि सदी की सबसे बड़ी महामारी कोरोना के दौरान जिन बच्चों ने अपने माता पिता दोनों या किसी एक को खोया था या कोरोना काल में जो बच्चे किसी अन्य बीमारियों से निराश्रित हुए थे, उन सभी के लिए पीएम मोदी की प्रेरणा से प्रदेश सरकार ने मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना शुरू की।

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के तहत ऐसे बच्चों को प्रतिमाह 4000 रुपये छात्रवृत्ति स्वरूप दिए जा रहे हैं जिनके माता पिता दोनों, या किसी एक की मृत्यु कोरोना के कारण हुई। जबकि राज्य में मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (सामान्य) के अंतर्गत चयनित बच्चों को प्रतिमाह 2500 रुपये दिए जा रहे हैं जिनके माता- पिता दोनों या किसी एक की मृत्यु कोरोना काल में किसी अन्य कारणों से हुई। इसी योजना में 9वीं या इससे ऊपर की कक्षाओं में पढ़ रहे विद्यार्थियों को लैपटॉप देने की कार्यवाही शुरू की गई है।

पीएम मोदी के नेतृत्व में देश ने पेश किया कोरोना प्रबंधन का बेहतरीन मॉडल

सीएम योगी ने कहा कि कोरोना ने पूरी दुनिया में बड़ी तबाही मचाई थी। कोई ऐसा देश नहीं जहां बड़ी संख्या में मौतें न हुई हों। इस संकट की परिस्थिति में दुनिया के सबसे बड़े लोकतंत्र भारत ने पीएम मोदी के नेतृत्व में कोरोना प्रबंधन का बेहतरीन मॉडल पेश किया। फ्री टेस्ट, फ्री उपचार, फ्री वैक्सीन और फ्री राशन की व्यवस्था की गई। आज भी देश में 80 करोड़ लोगों को मुफ्त राशन का लाभ मिल रहा है। 200 करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज मुफ्त दी गई।

मुख्यमंत्री ने कहा कि कोरोना प्रबंधन के दौरान अनेक नवाचार भी हुए। पहले लॉकडाउन फिर जहां बीमार-वहीं उपचार के साथ ही भरण पोषण भत्ता देने की व्यवस्था बनाई गई कोरोना से जो बच्चे निराश्रित हुए, उनकी परवरिश का बड़ा प्रश्न था। इसके लिए मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना की शुरुआत की गई। आज हर तीसरे माह बच्चों के भरण पोषण व पढ़ाई के लिए धनराशि खातों में पहुंच जा रही है। मुख्यमंत्री ने बताया कि गोरखपुर में 603 बच्चों को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना और 218 को मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना (सामान्य) का लाभ मिल रहा है। 2021-22 में 115 बच्चों को लैपटॉप दिया गया था, आज 82 बच्चों को लैपटॉप प्राप्त हो रहा है।

डिजिटल लाइब्रेरी से जुड़ें बच्चे

सीएम योगी ने कहा लैपटॉप मिलना डिजिटल दुनिया से संवाद बनाने का अच्छा अवसर है। उन्होंने बच्चों को डिजिटल लाइब्रेरी से जुड़ने की नसीहत देते हुए कहा कि यह दुनिया ज्ञान का अथाह भंडार है। इससे तारतम्य स्थापित कर लिया जाए तो कुछ भी असंभव नहीं है।

कोरोना की विपत्ति को भूलकर नई दिशा में आगे बढ़ें

बच्चों को प्रेरित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि कोरोना की विपत्ति को भूलकर नई दिशा में आगे बढ़ने की जरूरत है। आपको 18 वर्ष की आयु पूर्ण करने के बाद, 23 वर्ष होने तक पीएम केयर्स फंड से भी हैंडसम धनराशि मिलेगी। उन्होंने कहा कि माता पिता की कमी कोई पूरा नहीं कर सकता लेकिन सरकार से मिलने वाली यह धनराशि आपके लिए संबल है। यह सरकार की संवेदनशीलता का भी उदाहरण है।

बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पीएम मोदी का मंत्र

मुख्यमंत्री ने कहा कि बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओ पीएम मोदी का मंत्र है। इसी के तहत आज उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली बेटियों, संस्थाओं और महिला मंगल दलों को प्रोत्साहित किया जा रहा है। गांव गांव में खेल के मैदान बनाए जा रहे हैं ताकि बेटियां भी शारीरिक और मानसिक रूप से स्वस्थ बनें। इसमें महिला मंगल दल की महत्वपूर्ण भूमिका होगी। सरकार हर ग्राम पंचायत को स्पोर्ट्स किट से जोड़ने का प्रयास कर रही है।

मुख्यमंत्री ने बताया कि आज 10वीं बोर्ड परीक्षा में उत्कृष्ट प्रदर्शन करने वाली 10-10 बालिकाओं को पांच-पांच हजार रुपये, 12वीं की जिला टॉपर को 20 हजार, कक्षा 5-6 में बालिकाओं के शत प्रतिशत रिजल्ट वाले चार शिक्षण संस्थाओं को 10-10 हजार, कक्षा 8-9 में बालिकाओं के शत प्रतिशत रिजल्ट वाले चार संस्थाओं को 15-15 हजार तथा 10वीं-11वीं में बालिकाओं के शत प्रतिशत रिजल्ट वाले तीन संस्थाओं को 20-20 हजार रुपये की प्रोत्साहन धनराशि दी जा रही है।

बालिकाओं को मुफ्त शिक्षा दे रही डबल इंजन सरकार

मुख्यमंत्री ने कहा कि डबल इंजन सरकार बालिकाओं को मुफ्त शिक्षा दे रही है। इसके साथ ही मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना में बालिका के जन्म से स्नातक स्तर की शिक्षा तक 15 हजार रुपये का पैकेज बनाया गया है। बालिका के विवाह योग्य होने पर मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के तहत 51 हजार रुपये दिए जाते हैं।

यूपी के विद्यालय हुए दर्शनीय

सीएम योगी ने कहा कि आज उत्तर प्रदेश के विद्यालय दर्शनीय हो चुके हैं। ऑपरेशन कायाकल्प से स्मार्ट क्लास, अच्छी फ्लोरिंग, टॉयलेट, शुद्ध पेयजल की व्यवस्था की गई है। उन्होंने कहा कि बच्चे भगवान का रूप होते हैं। सरकार का प्रयास है कि उनमें निखार लाकर उनका भविष्य उज्ज्वल बनाया जाए ताकि वे अपने गांव, समाज, देश की समृद्धि में योगदान दे सकें।

मेहनत को प्रोत्साहित कर रही सरकार

बच्चों को प्रोत्साहित करते हुए सीएम योगी ने कहा कि आपको अपनी प्रतिभा सकारात्मक दिशा में आगे बढ़ाने की आवश्यकता है। इसके लिए खूब मेहनत करिए क्योंकि मेहनत का कोई विकल्प नहीं होता है। सरकार आपकी मेहनत को प्रोत्साहित करने आई है।

होली की दी बधाई, कहा-हताशा में नहीं होता कोई जीवन

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी को होली की बधाई देते हुए कहा कि होली का पावन पर्व वैरभाव भुलाकर उत्साह और उमंग से आगे बढ़ने की प्रेरणा देता है। उन्होंने कहा कि हताशा और निराशा में कोई जीवन नहीं होता। बुराई त्याग कर हम जीवन में उत्साह और उमंग की तरफ बढ़ सकते हैं।

सीएम से मिला चिड़ियाघर भ्रमण का तोहफा

कार्यक्रम में मौजूद सभी बच्चों को मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से एक खास तोहफा और मिला। मुख्यमंत्री ने प्रशासन को निर्देशित किया कि आज इन सभी बच्चों को नाश्ता कराने के बाद गोरखपुर चिड़ियाघर का भ्रमण कराया जाए। सीएम की इस घोषणा पर बच्चे खुशी से झूम उठे और उन्होंने जोरदार तालियों से सीएम के प्रति आभार जताया। उन्होंने बच्चों को पर्यावरण व जीव संरक्षण का संदेश देते हुए कहा कि मानव के साथ ही जीव जंतुओं से सृष्टि की रचना हुई है। पेड़ पौधों और जीव जंतुओं की रक्षा करना हम सबका दायित्व है। चिड़ियाघर घूमने से आप सबका मनोरंजन के साथ ज्ञानवर्धन भी होगा।

बच्चों से आत्मीय संवाद कर सीएम ने पूछा, कोई दिक्कत तो नहीं

मुख्यमंत्री बाल सेवा योजना के लाभार्थियों को लैपटॉप वितरण के दौरान सीएम योगी ने एक अभिभावक की तरह उनसे आत्मीय संवाद किया। पूछा, कोई दिक्कत तो नहीं। छात्रवृत्ति का पैसा मिलने में कोई समस्या तो नहीं आ रही। पढ़ाई कैसी चल रही है। बच्चों से बात करते हुए उन्होंने कहा कि खूब पढ़िए और आगे बढिए। सरकार हर वक्त आपके साथ खड़ी है। उन्होंने अपने हाथों से 10 बच्चों को लैपटॉप, दो को प्रमाण पत्र, दो महिला मंगल दलों को स्पोर्ट्स किट, मेधावी छात्राओं को प्रोत्साहन राशि का चेक सौंपा। सभी को मिष्ठान भी दिया गया।

स्टालों का अवलोकन किया मुख्यमंत्री ने

सीएम योगी ने कार्यक्रम स्थल के बाहरी परिसर में बेसिक शिक्षा विभाग, बाल विकास परियोजना आदि के स्टालों का अवलोकन किया। इस अवसर पर उन्होंने गोदभराई व बच्चों को अन्नप्राशन भी कराया। साथ ही बेसिक स्कूलों के बच्चों से बात कर उन्हें उपहार प्रदान किया।

कार्यक्रम को गोरखपुर के सांसद रविकिशन शुक्ल, बांसगांव के सांसद कमलेश पासवान एवं गोरखपुर ग्रामीण के विधायक विपिन सिंह ने भी संबोधित किया। इस अवसर पर प्रमुख रूप से भाजपा के क्षेत्रीय अध्यक्ष एवं एमएलसी डॉ धर्मेंद्र सिंह, विधायक विपिन सिंह, फतेह बहादुर सिंह, महेंद्रपाल सिंह, लराजेश त्रिपाठी, डॉ विमलेश पासवान, प्रदीप शुक्ल, प्रशासन एवं विभिन्न विभागों के अधिकारियों, योजनाओं के लाभार्थियों, विद्यार्थियों, शिक्षकों व अभिभावकों की उपस्थिति रही।

VARANASI TRAVEL VARANASI YATRAA
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: