Uttar Pradesh

ट्रांसफार्मर जलने से 48 घंटे ठप रही बिजली आपूर्ति

विद्युत अभियंताओं के मोबाइल स्वीच आफ होने से बढ़ रहा गुस्सा , ट्रांसफार्मर जलने के बाद अभियंताओं ने हाथ खड़े किये।

कुशीनगर। शुक्रवार को सुबह 10 बजे से रविवार को देर शाम तक पडरौना नगर की बिजली आपूर्ति लगातार ठप रहने से हाहाकार मच गया। पूरी रात लोगों ने भीषण गर्मी में सड़क और छत पर टहल कर बितायी। सुभाष चौक का ट्रांसफार्मर जलने से 48 घंटे से लगातार बिजली आपूर्ति ठप है। इस दौरान सभी विद्युत् अभियंता का मोबाईल बंद रहा और विद्युत् कर्मचारियों से संपर्क कट गया । क्योंकि इन्होंने भी अपने मोबाईल बंद कर रखे थे।
बताया जाता है कि नगर के सुभाष चौक स्थित ट्रांसफार्मर का इंसुलेटर दिन भर पंचर था, जिसके चलते ओमकारवाटिक कालोनी समेत आधा दर्जन मोहल्ले बिन बिजली के तड़पते रहे। रात में 10 बजे इसे ठीक किया गया तो आधे घंटे बाद ट्रांसफार्मर ही गड़बड़ हो गया। इसके बाद सभी अभियंता और कर्मचारियों ने अपने मोबाइल बंद कर लिए। सुबह से लोग बिजली पानी के लिए तरस गए और भीषण गर्मी से बच्चे और बुजुर्ग बिलबिलाने लगे। इनकी सुधि किसी ने नहीं ली। कुछ नागरिकों ने सत्ता पक्ष के नेताओं से संपर्क किया की वो अपने प्रयास से बिजली ठीक करवा दें किन्तु ये भी असहाय ही नजर आये। इनकी बिजली अभियंताओं से गरमागरम बहस भी हो गयी, पुलिस के अधिकारियों को भी हस्तक्षेप करना पड़ा फिर भी हालत जस की तस रही। बहुत प्रयासों के बाद शुक्रवार को शाम 4 बजे बिजली आपूर्ति बहाल हो सकी। इसके बाद 3 घंटे तक बिजली आपूर्ति बहाल रही और शाम 7 बजे सुभाष चौक का ट्रांसफार्मर ही जल गया। इसके बाद बिजली अभियंताओं ने रात में ट्रांसफार्मर बदलने से हाथ खड़ा कर दिया। फिर पिछली रात की तरह एक बार फिर शनिवार की पूरी रात नागरिकों ने रतजगा कर बितायी। सुबह से मूसलाधार बारिश के कारण कोई बिजली कर्मचारी यह बताने को तैयार नहीं था कि ट्रांसफार्मर कब तक बदलेगा। इसके बाद लोगो की तकलीफ को देखते हुए सरकार में मंत्री स्वामी प्रसाद मौर्य के अत्यंत करीबी युवा चिंटू शुक्ला और इनके साथियों ने मंत्री से बात की और भाग दौड़ कर रविवार को शाम 3 बजे गोरखपुर से ट्रांसफार्मर मंगवाया। इसके बाद इसे बदलने की कवायद शुरू हुई।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close