Politics

उपचुनाव : मतगणना को लेकर पुलिस की सुरक्षा व्यवस्था चाक चौबंद : प्रशांत कुमार

लखनऊ । मैनपुरी लोकसभा सीट के अलावा रामपुर और खतौली विधानसभा सीट पर पांच दिसम्बर को उपचुनाव हुए थे। आठ दिसम्बर यानि की गुरुवार को इसके परिणाम आने हैं। इसको लेकर इन जिलों में सुरक्षा व्यवस्था का पुख्ता इंतजाम पुलिस प्रशासन की ओर से किया गया है।

अपर पुलिस महानिदेशक (कानून एवं व्यवस्था) प्रशांत कुमार ने बताया कि मैनपुरी लोकसभा सीट के अलावा रामपुर और खतौली विधानसभा सीट पर हुए उपचुनाव के परिणाम को लेकर गुरुवार को मतगणना का कार्यक्रम प्रस्तावित हैं। जिन जिलों में मतगणना होनी है उसके लिए सुरक्षा व्यवस्था के व्यापक इंतजाम किए गए हैं। ईवीएम को केंद्रीय सुरक्षा बल की निगरानी में रखा गया है।

मतगणना से पहले त्रिस्तरीय चेकिंग की जाएगी ताकि कोई भी अवांछनीय तत्व मतगणना स्थल पर न जाने पाए। इसके साथ ही साथ कोई भी व्यक्ति अस्त्र-शस्त्र न लेकर पहुंचने पाए। इसके अतिरिक्त बैरियर लगाकर चेकिंग की जाए। मतगणना के दौरान स्थल पर सभी वरिष्ठ अधिकारी एवं पुलिस बल मौके पर मौजूद रहेगी। वहां के मजिस्ट्रेट मतगणना पंडाल के अंदर से समय-समय पर अपडेट देते रहेंगे।। निर्वाचन आयोग के निर्देश का मतगणना स्थल पर सख्ती से पालन कराया जाएगा।

उत्तर प्रदेश के रामपुर उपचुनाव का मसला सुप्रीम कोर्ट पहुंचा

उत्तर प्रदेश के रामपुर उपचुनाव का मसला सुप्रीम कोर्ट पहुंच गया है। आज एक वकील ने चीफ जस्टिस डीवाई चंद्रचूड़ की बेंच के उठते वक्त रामपुर उपचुनाव के दौरान पुलिस की ज़्यादती का मसला रखा।वकील ने कहा कि पुलिस ने हज़ारों लोगों को वोट नहीं डालने दिया। पुलिस ने लोगों की पिटाई की। वकील ने कहा कि मैं भी वहां का वोटर हूं। इस पर चीफ जस्टिस ने कहा कि ये गम्भीर मसला है। चीफ जस्टिस ने वकील को कल फिर से मामला कोर्ट में रखने को कहा।(हि.स.)।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: