PoliticsUP Live

देश में वही शासन करेगा, जो प्रभु राम को मानता है : सीएम योगी

बोले सीएम, अयोध्या में परिंदा भी पर न मारने की बात करने वाले देख लें, आज रामभक्तों को रेला उमड़ रहा

  • बोले, इंडी गठबंधन प्रभु राम पर नहीं बल्कि हम सभी के अस्तित्व पर खड़ा करती है सवाल

बहराइच : देश में राम मंदिर निर्माण पर रामद्रोहियों को ही आपत्ति हो सकती है क्योंकि यह हमेशा राम के अस्तित्व पर सवाल खड़ा करते आए हैं और आज भी सवाल खड़े कर रहे हैं। इंडी गठबंधन में शामिल लोग पाकिस्तान और आतंकवाद की पैरवी करते हैं। यह प्रभु राम पर नहीं बल्कि हम सब लोगों के अस्तित्व पर सवाल खड़ा करते हैं क्योंकि हम सभी जागने से लेकर सोने तक प्रभु श्रीराम का स्मरण करते हैं। अब वक्त आ गया है जब हमें इन्हे बताना है कि देश में वहीं शासन कर सकता है, जो प्रभु राम को मानता है। यह चुनाव रामभक्त और रामद्रोहियों के बीच का है। यही वजह है कि देश की जनता एक स्वर में तीसरी बार मोदी सरकार और 400 पार का नारा लगा रही है। देश में 500 वर्षों के बाद भव्य, दिव्य और नव्य राम लला का मंदिर बनकर तैयार हो गया है।

वहीं कांग्रेस और सपा के लोग कहते थे कि अयोध्या में राम मंदिर कभी नहीं बन पाएगा। आज भव्य मंदिर भी बनकर तैयार हो गया है और देश-विदेश श्रद्धालु बड़ी संख्या में दर्शन करने भी आ रहे हैं। यह वही सपा है, जो कहती थी कि अयोध्या में परिंदा भी पर नहीं मार सकता है। आज वह अपनी आंखें खाेलकर देख लें कि अयोध्या में रोजाना रामभक्तों का रेला उमड़ रहा है। यही मोदी की गारंटी है। ये बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने रविवार को बहराइच के पयागपुर के कैसरगंज लोकसभा क्षेत्र में जनसभा को संबाेधित करते हुए कही। इस दौरान उन्होंने लोकसभा प्रत्याशी करण भूषण सिंह के पक्ष में वोट की अपील की।

एससी, एसटी के अधिकारों में घुसपैठ का बीजेपी ने किया था घोर विरोध
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि देश की सुरक्षा हो या प्रदेश में कानून व्यवस्था। युवाओं की आजीविका हो या आस्था का सम्मान ये सभी कार्य केवल भाजपा ही कर सकती है। कांग्रेस ने देश को आतंकवाद, नक्सलवाद, परिवारवाद, जातिवाद, क्षेत्रवाद की समस्या दी है। उन्होंने कहा कि आज वह देश में जहां भी जा रहे हैं वहां से एक ही आवाज आ रही है कि ‘जो राम को लाए हैं, हम उनको लाएंगे। सीएम योगी ने कहा कि कांग्रेस की मंशा एससी, एसटी के अधिकारों में भी घुसपैठ करने की है। इसका सबसे बड़ा उदाहरण यूपीए सरकार में आई सच्चर कमेटी की रिपोर्ट है, जिसे भाजपा के भारी विरोध के कारण उन्हें वापस लेना पड़ा था। उन्होंने कहा कि कांग्रेस अपने घोषणात्र में संपत्ति का सर्वे कराने की बात कर रही है। वे लोग उसके बाद संपत्ति का अपने अनुसार बंदरबांट करेंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा कि भाजपा ने देश में चार जातियों की बात की है गरीब, किसान, युवा और महिला। इसमें किसी जाति, मत-मजहब की बात नहीं है। सीएम योगी ने कहा कि बहराइच वही भूमि है, जहां सोमनाथ मंदिर के गुनहगार सालार मसूद को जहन्नुम में पहुंचाया गया। देश के धर्म की रक्षा के लिए महाराज सुहेलदेव के शौर्य को कभी भुलाया नहीं जा सकता है। हमने उनका भव्य स्मारक बनाया है क्योंकि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपनी विरासत का सम्मान करना जानते हैं। वहीं सपा, कांग्रेस और बसपा के लोग दरगाह तो जाएंगे, लेकिन कभी यहां पुष्पांजलि के लिए नहीं आएंगे क्योंकि इनको भय है कि कहीं मुस्लिम वोट न खसक जाए। इन लोगों ने पहले हमें जाति, नाम, क्षेत्र और भाषा के नाम पर बांटा। अब इनकी नजर हमारी प्रॉपर्टी पर है, लेकिन हम ऐसा होने नहीं देंगे।

हमारे पूर्वजों की संपत्ति पर नजर गड़ाने वालों को देंगे मुंह तोड़ जवाब
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में दुनिया में भारत का सम्मान बढ़ा है। देश सुरक्षित हुआ है। आज कहीं अगर जोर से पटाखा भी फट जाए तो पाकिस्तान सफाई देने लगता है। उसे पता है कि कोई चूक हो गई तो लेने के देने पड़ जाएंगे। देश में हुए इन्फ्रास्ट्रक्चर डेवलपमेंट और गरीब कल्याणकारी योजनाओं का कोई सानी नहीं है। विकसित भारत की संकल्पना पर आधारित भाजपा का संकल्प पत्र इस बात को दोहरा रहा है कि हमें हर क्षेत्र में आत्मनिर्भर बनना है।

उन्होंने बताया कि अगले पांच साल में देश में तीन करोड़ गरीबों को मकान दिया जाएगा। सीएम योगी ने कहा कि इंडी गठबंधन के घोषणा पत्र में विरासत टैक्स लगाने की बात कही गयी है यानी यह सत्ता में आने पर हमारे पूर्वजों की संपत्ति को जबरन हड़पने का काम करेंगे। इंडी गठबंधन यह काम सपा के गुंडों से कराएगी क्योंकि इनका लोगाें की संपत्ति पर कब्जा करना पुराना काम है। वहीं भारतीय जनता पार्टी इसे स्वीकार नहीं करेगी। हमें देश को जाति और धर्म के नाम पर बांटने वालों को मुंह तोड़ जवाब देना है। इसके लिए सभी को अपने एक-एक वोट की कीमत को समझना होगा।

इस अवसर पर बीजेपी के जिलाध्यक्ष बृजेश पांडेय, विधायक सुरेश सुभाष त्रिपाठी, अनुपमा जायसवाल, बावन सिंह, प्रेम नारायण पांडेय, अजय कुमार, विधान परिषद सदस्य डॉ. प्रज्ञा त्रिपाठी आदि उपस्थित थे।

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button