UP Live

तीसरे चरण में प्रदेश की 10 लोक सभा सीटों पर शाम 6 बजे तक 57.34 प्रतिशत मतदान

मतदान प्रक्रिया के दौरान 10,208 मतदेय स्थलों पर की गई वेबकास्टिंग की व्यवस्था .कुल 3503 मतदेय स्थलों पर वीडियोग्राफी की भी व्यवस्था की गई.

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी श्री नवदीप रिणवा ने बताया कि लोकसभा सामान्य निर्वाचन-2024 के तृतीय चरण में प्रदेश के 10 लोक सभा निर्वाचन क्षेत्रों संभल, हाथरस, आगरा, फतेहपुर सीकरी, फिरोजाबाद, मैनपुरी, एटा, बदायूं, आंवला और बरेली में मतदान शान्तिपूर्वक सम्पन्न हुआ। उन्होंने बताया कि तृतीय चरण की 10 लोकसभा सीटों में जनपदों से प्राप्त जानकारी के अनुसार सायं 6 बजे तक 57.34 प्रतिशत मतदान हुआ, जिसमें संभल में 62.81 प्रतिशत, हाथरस में 55.36 प्रतिशत, आगरा में 53.99 प्रतिशत, फतेहपुर सीकरी में 57.09 प्रतिशत, फिरोजाबाद में 58.22 प्रतिशत, मैनपुरी में 58.59 प्रतिशत, एटा में 59.17 प्रतिशत, बदायूं में 54.05 प्रतिशत, आंवला में 57.08 प्रतिशत तथा बरेली में 57.88 प्रतिशत मतदान हुआ।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने निर्वाचन कार्यालय के 7वें तल स्थित सभाकक्ष में प्रेसवार्ता कर बताया कि प्रदेश में तृतीय चरण के मतदान की प्रक्रिया को स्वतंत्र एवं निष्पक्ष बनाए रखने के उद्देश्य से प्रभावी पर्यवेक्षण के लिए कुल 10208 मतदेय स्थलों पर वेबकास्टिंग की गई, जिसका पर्यवेक्षण जिला निर्वाचन अधिकारी, मुख्य निर्वाचन अधिकारी एवं भारत निर्वाचन आयोग तीनों स्तर पर किया गया। इसके अतिरिक्त 3503 मतदेय स्थलों पर वीडियोग्राफी की गई। तृतीय चरण के पोस्टल बैलेट मतदान हेतु अर्ह श्रेणियां (85 वर्ष की आयु से अधिक के मतदाता, दिव्यांग, अनिवार्य सेवाएं तथा मतदान कार्मिक) में 17,278 मतदाताओं द्वारा पोस्टल बैलेट कास्ट किया गया। 85 वर्ष की आयु से अधिक के मतदाता एवं दिव्यांग मतदाताओं में जिनके द्वारा पोस्टल बैलेट का विकल्प चुना गया था, उनके घर पर जाकर मतदान कराया गया। प्रक्रिया को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं पारदर्शी बनाए जाने के लिए मतदान दल के साथ एक माइक्रो आब्जर्वर तथा वीडियोग्राफर की तैनाती की गई थी। इसके अतिरिक्त कुल 41,908 सेवा मतदाताओं को भी रिटर्निंग अधिकारी द्वारा इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से (ईटीपीबीएस) पोस्टल बैलेट का प्रेषण किया गया। 13,515 कार्मिकों को ईडीसी जारी किया गया है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि तृतीय चरण के मतदान पर सतर्क दृष्टि रखने के लिए आयोग द्वारा 10 सामान्य प्रेक्षक, 6 पुलिस प्रेक्षक तथा 14 व्यय प्रेक्षक भी तैनात किए गए थे। इसके अतिरिक्त 1887 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 241 जोनल मजिस्ट्रेट, 668 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तथा 2859 माइक्रो ऑब्जर्वर भी तैनात किए गए थे। निर्वाचन आयोग द्वारा राज्य स्तर पर एक वरिष्ठ सामान्य प्रेक्षक, 1 वरिष्ठ पुलिस प्रेक्षक तथा 1 वरिष्ठ व्यय प्रेक्षक भी तैनात किए गए थे। उन्होंने बताया कि मतदान के दौरान विभिन्न राजनैतिक दलों द्वारा ईमेल के माध्यम से कतिपय शिकायतें प्राप्त हुई, जिन्हें जनपद के अधिकारियों से निस्तारण कराते हुए राजनैतिक दलों को ईमेल के माध्यम से अवगत भी करा दिया गया है। चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने हेतु पर्याप्त मात्रा में अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई थी। ईवीएम के स्ट्रांग रूम की सुरक्षा की जिम्मेदारी भी अर्द्ध सैनिक बलों को दी गई है।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने बताया कि तृतीय चरण के निर्वाचन में सभी 20415 मतदेय स्थलों (पोलिंग बूथों) हेतु मतदान के लिए आवश्यक ईवीएम एवं वीवीपैट तथा अलग-अलग जनपदों में पर्याप्त मात्रा में रिजर्व ईवीएम एवं वीवीपैट की व्यवस्था की गई थी। मतदान के दौरान जहां कहीं भी शिकायत प्राप्त हुई हैं, वहां तत्काल प्रभावी कार्यवाही करते हुए ईवीएम एवं वीवीपैट को बदलने की कार्यवाही की गई है। जनपदों से प्राप्त सूचना के अनुसार मॉक पोल के दौरान 167 बैलट यूनिट, 295 कंट्रोल यूनिट और 478 वीवीपैट बदले गए। वास्तविक मतदान के बाद कुल 48 बैलट यूनिट और 152 वीवीपैट बदले गए। कुल मिलाकर 152 पोलिंग स्टेशन पर मशीनों को बदला गया। निर्वाचन के दौरान करीब 250 शिकायतें प्राप्त हुईं। चुनाव पूरी तरह शांतिपूर्ण रहा और किसी प्रकार की अप्रिय घटना की कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई है।

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button