PoliticsUP Live

दोनों लड़के जीते तो मिलकर लूटेंगे और हारेंगे तो फिर टूटेंगेः सीएम

प्रभु श्रीराम के दर्शन करने से आपकी दुआ का सर्वाधिक सौभाग्य मोदी और मुझे मिल रहाः योगी

  • पाकिस्तान समर्थक जान लें, हमारे एटम बम फ्रिज में रखने के लिए नहींः योगी
  • योगी आदित्यनाथ ने सपा-कांग्रेस की नीतियों व नेताओं को खूब धोया

बाराबंकी : इस देश में रामभक्त और रामद्रोही हैं। रामभक्त राम मंदिर से उत्साहित हैं तो रामद्रोही नाखुश हैं। रामभक्तों पर गोलियां चलाने वाले यह लोग कहते हैं कि राम मंदिर बेकार है। मोदी का विरोध सिर्फ रामद्रोही और पाकिस्तान ही कर रहे हैं। रामभक्त ही राष्ट्रभक्त हैं। वे भारत के उत्थान के बारे में सोचते हैं तो रामद्रोही पाकिस्तान का राग अलाप रहे हैं। वे कहते हैं कि पाकिस्तान के खिलाफ मत बोलो-उसके पास एटम बम है। पाकिस्तान समर्थक रामद्रोही जान लें कि हमारे पास भी एटम बम है, हमारा एटम बम फ्रिज में रखने के लिए नहीं बना है। यह लोग एक तरफ एटम बम की धमकी से भारत के दुश्मनों का उत्साह बढ़ा रहे हैं तो दूसरी तरफ राम मंदिर का विरोध कर राम को अपमानित कर रहे हैं।

सपा-कांग्रेस पर बरसते हुए यह बातें मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहीं। फैजाबाद के सांसद व भाजपा प्रत्याशी लल्लू सिंह के लिए दरियाबाद रेलवे स्टेशन के पास मैदान में मंगलवार को जनसभा में योगी आदित्यनाथ ने कांग्रेस-सपा की नीतियों और नेताओं को खूब धोया। बोले कि रामद्रोही नाखुश हैं। वे कहते हैं कि राम मंदिर बेकार है, यह राम भक्तों पर गोलियां चलाते थे। इनके समय में जन्मभूमि पर आतंकी हमला होता था और आतंकियों पर दायर मुकदमे वापस लिए जाते थे।

आपकी दुआओं का सर्वाधिक सौभाग्य मोदी  और मुझे मिलता है
सीएम ने कहा कि रामलला के विराजमान होने में अयोध्या के आमजन का बड़ा योगदान है, क्योंकि आपके वोट के बल पर मोदी जी को ताकत मिलती है। विदेशी आक्रांताओं ने हमारी आस्था से खिलवाड़ कर अयोध्या में रामलला के मंदिर को क्षतिग्रस्त कर गुलामी के ढांचे को स्थापित किया था, लेकिन आपके वोट की बदौलत इसे हटाने और मंदिर बनाने की ताकत मिली। 22 जनवरी को जब 500 वर्ष का इंतजार समाप्त हुआ और प्रभु रामलला अपने दिव्य-भव्य मंदिर में विराजमान हुए। आपके दर्शन करने से प्रभु श्रीराम के आशीर्वाद का सर्वाधिक सौभाग्य मुझे और मोदी जी को प्राप्त होता है, क्योंकि आप की दुआ हमें लगती है। अब अयोध्या में लाखों का जनसैलाब दर्शन करने उमड़ रहा है।

श्रीराम को खुद साक्ष्य जुटाना पड़ा
सीएम ने कहा कि भारत में शासन की सबसे अच्छी व्यवस्था रामराज्य मानी गई। फिर भी ऐसे कौन लोग थे, जिनकी वजह से रामलला को उनकी जमीन से वंचित किया गया। विडंबना है कि स्वतंत्र भारत में 70 वर्षों तक कहना पड़ा कि अयोध्या धाम राम की जन्मभूमि है। यहां मंदिर बनना चाहिए। हमें प्रमाण और श्रीराम को खुद साक्ष्य जुटाना पड़ा। यह परिस्थिति उन लोगों ने पैदा की, जो राम मंदिर बनने से प्रसन्न नहीं हैं। आपने लल्लू सिंह को वोट दिया तो मोदी जी प्रधानमंत्री बने और सतीश शर्मा को वोट दिया तो मैं मुख्यमंत्री बना। आपकी वजह से रामभक्त सत्ता में आए तो रामलला विराजमान हुए।

एयरपोर्ट महर्षि वाल्मीकि तो भोजनालय मां शबरी के नाम पर बने
सीएम योगी ने कहा कि अयोध्या का अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट त्रिकालदर्शी महर्षि वाल्मीकि के नाम पर बना। गरीबों के लिए बने भोजनालय माता शबरी के नाम पर हैं। आश्रय स्थल निषादराज के नाम पर हैं। विकास के अनेक कार्य हुए। यहां एयरपोर्ट, भव्य रेलवे स्टेशन व फोरलेन-सिक्सलेन सड़के हैं। पहले माफिया हावी होते थे। अब उनका राम नाम सत्य हो रहा है। हमें रामराज्य की परिकल्पना को साकार करना है तो इसके लिए भारत को आत्मनिर्भर व विकसित बनाना है।

लल्लू सिंह को पिछले बार से दोगुने से अधिक वोट से जीत दिलानी है
सीएम ने अपील की कि जो राम को लाए हैं, कमल पर बटन दबाकर आप उनको लाएंगे। सीएम ने 20 मई को अधिक से अधिक मतदान कर लल्लू सिंह को कमल के फूल पर बटन दबाकर पिछली बार से दोगुने वोट से जिताने का संकल्प दिलाया। बोले तब मेहनत सार्थक होनी चाहिए अन्यथा कांग्रेस व सपा के लोग पहले से ही हमें कठघरे में खड़ा करते हैं। मोदी जी ने बिना चेहरा देखे सबका विकास किया है। अयोध्या में महाराजा राजर्षि दशरथ के नाम पर मेडिकल कॉलेज भी बन गया। जो कभी नहीं हुआ, वह मोदीराज में हुआ है। दोनों लड़के (राहुल-अखिलेश) झूठ बोलकर गुमराह कर रहे हैं। यह जीते तो मिलकर लूटेंगे और हारेंगे तो टूटेंगे।

रामलला के विराजमान होने का पुण्य सपा-कांग्रेस को वोट देकर न खोना
सीएम ने कहा कि महाराज दिलीप ने गोमाता को बचाने के लिए शेर के सामने अपना शरीर प्रस्तुत कर दिया था। वहीं इंडी गठंबधन कहता है कि हमारी सरकार बनी तो अल्पसंख्यकों को रूचि के अनुसार खानपान की छूट देंगे। बहुसंख्यक समाज कहता है कि गो हमारी माता है, इसकी हत्या स्वीकार नहीं करेंगे लेकिन बहुसंख्यक समाज को चिढ़ाने के लिए अल्पसंख्यक गोमांस खाते हैं। सीएम ने कहा कि हमें रामलला के विराजमान होने का पुण्य मिला है, सपा-कांग्रेस को वोट देकर पाप का भागीदार नहीं बनना है।

इस अवसर पर फैजाबाद के सांसद व प्रत्याशी लल्लू सिंह, दरियाबाद विधायक व प्रदेश सरकार के खाद्य व रसद राज्यमंत्री सतीश चंद्र शर्मा, विधायक दिनेश रावत, विधान परिषद सदस्य अंगद सिंह,भाजपा जिलाध्यक्ष अरविंद कुमार मौर्य, जिला प्रभारी अवनीश सिंह, क्षेत्रीय उपाध्यक्ष राजीव मिश्र, पूर्व सांसद बैजनाथ रावत आदि मौजूद रहे।

‘फिर एक बार मोदी सरकार’ की अगुआई करेगी काशीः योगी

पीएम मोदी ने कार्यकर्ताओं को कहा, ‘थैंक्यू’

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: