State

अपने वेतन से करें राहत कार्य


गाजीपुर,। वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के संक्रमण को रोकने के लिए पूरे देश में लॉक डाउन किया गया और जिला प्रशासन लाकडाउन का पालन कराने में पूरी तरह मुश्तैद है।राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिलाध्यक्ष दुर्गेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि कोरोना वायरस के चलते लाकडाउन के बीच जिले के समाजसेवी और अनेकों संगठनों तथा यहां की जनता ने गरीब बेसहारा परिवारों को भोजन व खाद्य सामग्री देकर अपने मानवीय पहलू को उजागर किया है,तो वहीं कर्मचारियों ने भी इस वैश्विक महामारी से जूझ रही जनता के सहायतार्थ अपने वेतन से राशि देकर सराहनीय कार्य किया है। उन्होंने जनप्रतिनिधियों को आड़े हाथों लेते हुए कहा कि सांसद निधि या विधायक निधि तो जनता का ही पैसा है,उसे देकर वे कोई उपकार नहीं कर रहे हैं। अब तक एक भी जनप्रतिनिधि ने अपने वेतन से मदद नहीं की है। जिसकी कर्मचारी संघ आलोचना करता है। आज माननीयों को वेतनभोगी कर्मचारियों से सीख लेकर स्वयं अपने वेतन और राहत सामग्री से लोगों की मदद करने की आवश्यकता है।
इसी बीच एआरएम रोडवेज सुहैल अहमद ने प्रशासनिक निर्देशों को धता बताते हुए, गत रविवार 29मार्च को, बगैर जिला प्रशासन और कन्ट्रोल रूम को सूचना दिए ही, तुगलकी फरमान जारी कर एक धर्म विशेष समुदाय के यात्रियों सहित रोडवेज के चार चालकों व दो परिचालकों की जान भी मुसीबत में डाल दिया।
रोडवेजकर्मी, एआरएम सुहैल अहमद के फरमान पर बस नंबर यूपी 65 एफटी -0293 और यूपी65 ईटी-6326 से 102 यात्रियों को लेकर दिल्ली की तरफ रवाना हो गये। चर्चा है कि एक विशेष समुदाय के यात्रियों को बिना कोई मेडिकल परीक्षण या क्वारेन्टाइन कराये ही भेजना जिला प्रशासन के आदेशों की अनदेखी है।
राज्य कर्मचारी संयुक्त परिषद के जिलाध्यक्ष दुर्गेश कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि वायरस से बचाव की उन बसों में कोई व्यवस्था नहीं थी। उन्होंने इस प्रकरण की उच्चस्तरीय जांच कराने पर बल दिया।
उन्होंने राज्य सरकार के विभिन्न विभागों में कार्यरत कर्मचारियों द्वारा कोरोना पीड़ितों की मदद करने पर उनकी हौसला अफजाई करते हुए कहा कि देश में आई इस आपात की घड़ी में सबके सहयोग की जरूरत है। यह वक्त सिद्ध करने का होता है कि प्रदेश का राज्य कर्मचारी पूरी लगन और ईमानदारी से सरकार के दिशा निर्देशों का पालन करते हुए सहयोग करता है। उन्होंने कहा कि हम इस आपदा की घड़ी में सरकार के साथ खड़े हैं। उन्होंने आपातकालीन सेवाओं में लगे स्वास्थ्य विभाग में कर्मचारियों की सराहना की।

Related Articles

Back to top button
Close
Close