CrimeState

गुरुद्वारा श्री नानकमत्ता साहिब के कार सेवा प्रमुख तरसेम सिंह की गोली मारकर हत्या

तरसेम सिंह हत्याकांड का वीडियो आया सामने, बदमाशों ने मारी दो गोलियां

नैनीताल : उत्तराखंड के ऊधम सिंह नगर में गुरुवार को सुबह गुरुद्वारा श्री नानकमत्ता साहिब के कार सेवा प्रमुख बाबा तरसेम सिंह की अज्ञात हमलावारों ने गोली मारकर हत्या कर दी।इस घटना के बाद पूरी तराई में सनसनी फैल गयी। पुलिस हत्यारों की तलाश में जुट गयी है। लोगों में घटना को लेकर रोष बताया जा रहा है।प्राप्त जानकारी के अनुसार घटना आज सुबह 6.30 से 7.00 बजे के बीच डेरा के बाहर हुई। बताया जा रहा है कि दो हत्यारे मोटर साइकिल में आये और बाबा तरसेम सिंह को पर ताबड़तोड़ गोलियां बरसा दीं। इससे वह गंभीर रूप से घायल हो गये।मौके पर अफरातफरी मच गयी। इस बीच हत्यारे फरार हो गये। समर्थक कार सेवा प्रमुख को तत्काल खटीमा के एक निजी अस्पताल ले गये, जहां उपचार के दौरान उनकी मौत हो गयी।

इस घटना के बाद समर्थकों और लोगों में रोष है। मामले की गंभीरता को देखते हुए ऊधम सिंह नगर जिले की पुलिस तत्काल हरकत में आ गयी। एसएसपी मंजूनाथ टीसी दल बल के साथ खुद मौके पर पहुंचे और पूरे घटनाक्रम की जानकारी ली।हत्यारों की तलाश के लिये पुलिस की कई टीमें गठित कर दी गयी हैं। पुलिस सीसीटीवी और सर्विलांस की मदद से हत्यारों की तलाश कर रही है।कांग्रेस नेता यशपाल आर्य ने इस घटना की निंदा करते हुए भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने कहा कि भाजपा राज में डेरा प्रमुख भी सुरक्षित नहीं हैं। उन्होंने कहा कि यह कार सेवा प्रमुख की हत्या नहीं कानून व्यवस्था की हत्या है।श्री आर्य के आगे कहा कि भाजपा सरकार में कानून व्यवस्था एकदम ध्वस्त हो गयी है। अपराधियों का स्वर्णिम काल चल रहा है।

तरसेम सिंह हत्याकांड का वीडियो आया सामने, बदमाशों ने मारी दो गोलियां

उत्तराखंड के ऊधमसिंह नगर जिले के नानकमत्ता स्थित गुरुद्वारा श्री नानकमत्ता साहिब के कार सेवा प्रमुख बाबा तरसेम सिंह हत्याकांड का वीडियो सामने आया है। इस वीडियो में दिख रहा है कि हत्यारे खुलेआम एक मोटर साइकिल में आये और दो गोली मारकर फरार हो गये।दूसरी ओर पुलिस ने हत्यारों की तलाश शुरू कर दी है। आठ से दस टीमें हत्यारों की तलाश में जुटी हैं। ऊधम सिंह नगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक (एसएसपी) मंजूनाथ टीसी के अनुसार घटना सुबह 6.15 से 6.30 के बीच घटित हुयी। हत्यारे दोनों सिख समुदाय से हैं।पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गयी। साफ दिखायी दे रहा है कि हमलावरों के चेहरे पर नकाब भी नहीं थे। पीछे बैठे हमलावर के हाथ में आधुनिक लंबी बंदूक दिखायी दे रही है।

एसएसपी के अनुसार बाबा तरसेम सिंह घटना के वक्त गुरुद्वारा के अदंर मुख्य गेट के सामने एक कुर्सी पर बैठे थे। हमलावर मुख्य गेट से आये और इस बीच कार सेवा प्रमुख कुछ समझ पाते इससे पहले ही पीछे बैठे हमलावर में दूर से ही एक गोली मार दी।इसी बीच बाबा जी कुछ समझ पाते और बचाव के लिये खड़े हुए, तो हमलावर ने दूसरी गोली मार दी। गोली लगते ही वह गिर गये और हमलावर फरार हो गये। गोली की आवाज सुनकर कार सेवक दौड़ कर आये और उन्हें खटीमा अस्पताल ले गये, जहां उनकी उपचार के दौरान मौत हो गयी।एसएसपी के अनुसार सबसे पहले हमलावरों की पहचान की जा रही है।

साथ ही दस टीमें हमलावरों की तलाश में जुट गयी हैं। एसटीएफ, एसओजी और जिले के तेजतर्रार अधिकारियों की टीमें गठित कर दी गयी हैं। पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अभिनव कुमार खुद इस मामले पर नजर बनाये हुए हैं।श्री मंजूनाथ ने कहा कि हमलावरों को पकड़ने के साथ ही जिले में कानून व्यवस्था न बिगड़े इसका विशेष ध्यान रखा जा रहा है।

तरसेम सिंह की हत्या मामले की जांच के लिए एसआईटी गठित

उत्तराखंड के उधम सिंह नगर जनपद अंतर्गत, स्थित प्रमुख सिक्ख गुरुद्वारा नानकमत्ता साहिब के कारसेवा प्रमुख की हत्या मामले की उच्च प्राथमिकता से जांच की जाएगी। इसके लिए, पुलिस के विशेष कार्य बल (एसटीएफ) और स्थानीय पुलिस अधिकारियों की एक संयुक्त विशेष अन्वेषण दल (एसआईटी) का गठन किया जा रहा है। यह जानकारी हत्या के बाद,राज्य के पुलिस महानिदेशक (डीजीपी) अभिनव कुमार ने दी।श्री कुमार ने बताया कि केंद्रीय जांच एजेंसी से भी इस मामले में उनके पास कोई लाभप्रद जानकारी होने पर राज्य पुलिस से साझा करने का आग्रह किया गया है।

उन्होंने बताया कि सुबह लगभग सवा छह से साढ़े छह बजे के मध्यबाबा तरसेम सिंह की हत्या दो नकाबपोश लोगों ने कर दी। मामले की सूचना मिलते ही, कुमायूं परिक्षेत्र के पुलिस उप महानिरीक्षक और उधम सिंह नगर के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक घटना स्थल पर पहुंच गए हैं। उन्होंने विश्वास दिलाया कि हत्या कांड के कारणों और अपराधियों की गिरफ्तारी उच्च प्राथमिकता से करने के एसआईटी को निर्देश दिए गए हैं और जल्दी ही इसका खुलासा कर दिया जाएगा।(वार्ता)

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: