Crime

नशे की फैक्ट्री का खुलासा : छापे में 230 करोड़ के नशीले पदार्थ बरामद

जोधपुर । एनसीबी ने (नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो ऑफ इंडिया) की टीम ने 2 राज्यों में 4 जगह छापेमारी की है। नशे की तस्करी के खिलाफ चलाए जा रहे अभियान के तहत जालोर के भीनमाल और जोधपुर के ओसियां और गुजरात के गांधीनगर और अमरेली में सुबह चार बजे से रेड की गई। इसके तहत 13 आरोपियों को हिरासत में लिया गया है। इनसे हुई पूछताछ के आधार पर अब गैंग के मुख्य सरगना की तलाश की जा रही है। साथ ही नशा बनाने वाली 4 हाईटेक लैब का खुलासा किया गया है। यहां से कुल 149 किलो एमडी, 50 किलो एफेड्रिन, 200 लीटर एसिटोन भी बरामद की गई है। इस ड्रग्स की कीमत करीब 230 करोड़ रुपये बताई गई है।

गुजरात के डीजीपी विकास सहाय ने बताया कि ओसियां जोधपुर में रेड डाली गई। यहां से एमडी नहीं मिली, लेकिन एमडी बनाने के रॉ मैटेरियल बरामद किया गया। यहां से ओसियां जोधपुर निवासी रामप्रताप को हिरासत में लिया गया। यह मेडिकल स्टोर संचालक भी है। सहाय ने बताया कि चौथी रेड अमरेली गुजरात में की। जिसमें तिरुपति कैंप इंडस्ट्री में रेड कर 6:30 किलो एमडी और 4 लीटर लिक्विड एमडी बरामद की। यहां से अमरेली निवासी नितिन काबड़िया और किरीट मंडाविया को हिरासत में लिया गया। चारों जगहों से बरामद ड्रग की कीमत करीब 230 करोड़ बताई जा रही है।

रॉ मैटेरियल लाकर लैब में एमडी ड्रग तैयार करते
सहाय ने बताया एटीएस के डीवाईएसपी एसएल चौधरी को आज से करीब दो माह पहले सूचना मिली थी की अहमदाबाद निवासी मनोहर लाल और गांधीनगर निवासी कुलदीप सिंह किसी ड्रग को बनाने के लिए कहीं से रॉ मैटेरियल लाकर लैब में एमडी ड्रग तैयार करते हैं। इस पर एटीएस ने एनसीबी के साथ मिलकर इस सूचना पर काम करना शुरू किया। जिसके फलस्वरूप आज इतनी बड़ी सफलता मिली। एनसीबी और एटीएस की टीम ने चार जगह रेड की।(वीएनएस)

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: