NationalPolitics

ईवीएम पर सुप्रीम कोर्ट के फैसले से मतपेटियों को लूटने का इरादा रखने वालों के सपने चूर-चूर हुए :मोदी

मोदी ने सीएए का विरोध करने के लिए की कांग्रेस, टीएमसी की तीखी आलोचना

फारबिसगंज : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कांग्रेस और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के इंडियन नेशनल डेवलपमेंटल इंक्लूसिव एलायंस (इंडी गठबंधन) को लोकतंत्र, संविधान और गरीब विरोधी बताया और कहा कि इलेक्ट्रॉनिक वोटिंग मशीन (ईवीएम) पर उच्चतम न्यायालय के आज के फैसले से मतपेटियों को लूटने इरादा रखने वालों को ऐसा गहरा झटका लगा कि उनके सारे सपने चूर-चूर हो गए।

श्री मोदी ने शुक्रवार को अररिया संसदीय क्षेत्र के फारबिसगंज में चुनावी सभा को संबोधित करते हुए कहा कि राजद, कांग्रेस के इंडी गठबंधन को न देश के संविधान की परवाह है और न ही लोकतंत्र की परवाह है। गठबंधन के हर नेता ने ईवीएम को लेकर जनता के मन में संदेह पैदा करने का पाप किया है लेकिन आज देश के लोकतंत्र और बाबा साहेब अंबेडकर के संविधान की ताकत देखिए, सुप्रीम कोर्ट ने मतपेटियों को लूटने का इरादा रखने वालों को ऐसा गहरा झटका दिया है कि उनके सारे सपने चूर-चूर हो गए ।

प्रधानमंत्री ने कहा कि पहले पोलिंग बूथ और बैलट पेपर लूट लिए जाते थे। ये वे लोग हैं, जिन्होंने दशकों तक बैलट पेपर की लूट के जरिए गरीबों का अधिकार छीना लेकिन जब गरीबों को ईवीएम की ताकत मिली है तो चुनाव के दिन लूट करने वालों से ये बर्दाश्त नहीं हो रहा था इसलिए वे ईवीएम को हटाना चाहते हैं। उन्होंने कहा कि सुप्रीम कोर्ट ने आज साफ-साफ कह दिया है कि बैलेट पेपर वाला पुराना दौर अब वापस लौटकर नहीं आएगा। आज जब पूरी दुनिया भारत के लोकतंत्र, चुनाव प्रक्रिया और चुनाव में टेक्नोलॉजी के उपयोग की वाहवाही करती है, तब ये लोग अपने निजी स्वार्थ के लिए ईवीएम को बदनाम करने पर लगे पड़े थे। इन्होंने लोकतंत्र के साथ लगातार विश्वासघात करने की कोशिश की है।

मोदी ने सीएए का विरोध करने के लिए की कांग्रेस, टीएमसी की तीखी आलोचना

मालदा : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को कांग्रेस और तृणमूल कांग्रेस (टीएमसी) पर अपने वोट बैंक को संतुष्ट करने के लिए ‘तुष्टीकरण’ नीतियों में शामिल होने तथा नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के कार्यान्वयन का विरोध करने का आरोप लगाया।श्री मोदी ने दोहराया,“सीएए उन शरणार्थियों को भारतीय नागरिकता देने के लिए है, जो धार्मिक आधार पर अपने मूल देशों में उत्पीड़न का सामना करने के बाद भारत आए हैं।”श्री मोदी ने भारतीय जनता पार्टी के उम्मीदवारों श्रीरूपा मित्रा चौधरी (मालदा दक्षिण) और मालदा उत्तर के मौजूदा सांसद खगेन मुर्मू के लिए एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए इस आशय की बात कही।

उन्होंने कहा,“बंगाल में सत्तारुढ़ तृणमूल जीवन के हर पहलू में भ्रष्टाचार में लिप्त है, जिससे लगभग 26,000 परिवार पीड़ित हैं। न्यायपालिका ने शिक्षा प्रणाली में घोटाले के संबंध में शिक्षण और गैर-शिक्षण कर्मचारियों की नियुक्ति रद्द कर दी है। तृणमूल भ्रष्टाचार करती है और बंगाल के लोग इसका खामियाजा भुगत रहे हैं।”श्री मोदी ने एमएससी को आड़े हाथों लेते हुए कहा,“भर्ती घोटाले के साथ तृणमूल ने बंगाल के युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ किया है।” उन्होंने कहा कि राज्य में ‘भ्रष्टाचार’ और ‘कट मनी’ व्यवस्था व्याप्त है।प्रधानमंत्री ने तृणमूल पर निहित स्वार्थ के लिए हर केंद्रीय योजना का विरोध करने का आरोप लगाया ताकि लाभार्थियों को ऐसे विकास का सीधा आवंटन न मिल सके।

उन्होंने कहा,“सारदा से लेकर कोयला, शिक्षा, पशु तस्करी तक, धन की हेराफेरी टीएमसी शासन का राज्य की भावी पीढ़ी को नष्ट करने का आदेश बन गया है।”उन्होंने मतदाताओं से अपने संवैधानिक अधिकारों का प्रयोग करने का आग्रह किया और दावा किया है कि उनके पास रिपोर्ट है कि पहले चरण का मतदान भाजपा के पक्ष में था और दूसरे चरण का मतदान भी भगवा पार्टी के पक्ष में होगा।उन्होंने आगे कहा,“मैं उन लोगों को बधाई देता हूं जो उत्साहपूर्वक मतदान करने आए हैं। आप वोट डालकर भारत के लोकतंत्र में अपना योगदान दें।”श्री मोदी ने कहा,“आपने हमें जो समर्थन दिया है उससे मैं अभिभूत हूं जैसे कि मैं अपने पिछले जन्म में बंगाल में पैदा हुआ था या राज्य में किसी मां के गर्भ से पैदा हुआ हूं।

”उन्होंने कहा,“कांग्रेस-टीएमसी पहले चरण में हार गई और दूसरे चरण में ध्वस्त हो जाएगी।”श्री मोदी ने कांग्रेस और टीएमसी दोनों पर निशाना साधते हुए कहा कि टीएमसी के शासन में बंगाल में सिर्फ एक ही चीज चल रही है- हजारों करोड़ के घोटाले, सारदा चिटफंड, पशु तस्करी घोटाला, राशन घोटाला, कोयला घोटाला और न जाने क्या-क्या।(वार्ता)

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: