मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बोले, भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र

लखनऊ, जनवरी । उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि सीपीए सम्मेलन की भूमिका को सभी ने स्वीकार किया है। भारत दुनिया का सबसे बड़ा लोकतंत्र है।

योगी ने कहा कि हमारा लोकतंत्र समय की कसौटी पर खरा उतरा है। लोकतंत्र आमजन की खुशहाली के लिए है। अनेकता में एकता भारत के लोकतंत्र का मूलमंत्र है। एकता -विविधता को देश के लोकतंत्र ने सहजता से अपना लिया है। तमाम चुनौतियां हैं जिनका समाधान ऐसे सम्मेलन से निकलेगा।

इससे पहले विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कहा कि सामाजिक बदलाव की स्थिति पूरे विश्व में बदली है। इसलिए कॉमनवेल्थ देशों में भी बदलाव की जरूरत है। हमें ऐसी व्यवस्था करनी है कि आपसी सामन्जस्य से संसदीय गतिरोध रोकने के लिए गहन विचार करना चाहिए।

विधानसभा अध्यक्ष हृदय नारायण दीक्षित ने कहा कि ये वो प्रदेश है जिसने देश को 9 प्रधानमंत्री दिए। उन्होंने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी भी यूपी की वाराणसी से सांसद हैं। उन्होंने कहा कि इसके पहले पटना में भी इस तरह का सम्मेलन हुआ था। इस पर मुख्यमंत्री जी के कहने पर पिछले दिनों गांधी जयंती पर 36 घंटे अनवरत सत्र चला था। उसी के बाद सीपीए सम्मेलन की कल्पना बनी।

उन्होंने कहा कि यह सदन ऐतिहासिक सदन है जो देश की सबसे बड़ी जनसंख्या का नेतृत्व करता है। यहां हम दो दिन तक विचार विमर्श करेंगे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close