National

पर्यटन के साथ कृषि एवं ग्रामीण विकास से भी रोजगार बढ़ेगा : मोदी

नयी दिल्ली : प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गोवा में पुलिस समेत विभिन्न सरकारी विभागों में नवनियुक्त नौजवानों को नियुक्ति पत्र प्रदान किये और कहा कि डबल इंजन की सरकार गोवा में पर्यटन के साथ साथ कृषि एवं ग्रामीण विकास की योजनाओं के साथ रोजगार के अवसर बढ़ाने के लिए प्रभावी कदम उठा रही है।श्री मोदी ने गोवा रोज़गार मेला को वीडियो लिंक के माध्यम से संबोधित किया। श्री मोदी ने कहा, “युवाओं को रोजगार देने की दिशा में आज गोवा सरकार ने अहम कदम उठाया है। गोवा सरकार के विभिन्न विभागों में अनेकों नौजवानों को आज सामूहिक नियुक्ति पत्र दिए जाएँगे। नियुक्ति पत्र पाने वाले सभी युवाओं को और उनके माता पिता को बहुत-बहुत बधाई।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि आने वाले कुछ महीनों में गोवा पुलिस समेत अन्य विभागों में भी भर्तियां होने वाली हैं। इससे गोवा पुलिस और मजबूत होगी और नागरिकों की, ख़ास कर के पर्यटकों की सुरक्षा के क्षेत्र में बहुत बड़ी सुविधा बढ़ने वाली है। उन्होंने कहा कि पिछले कुछ हफ्तों से देश के अलग-अलग राज्यों में लगातार रोजगार मेले का आयोजन हो रहा है। केंद्र सरकार भी रोजगार मेले के माध्यम से हर महीने हजारों युवाओं को नौकरी दे रही है। उन्होंने कहा, “मुझे खुशी है कि जहां-जहां भाजपा सरकारें हैं, डबल इंजन की सरकारे हैं, वहां राज्य सरकारें भी अपने स्तर पर ऐसे रोजगार मेले का आयोजन कर रही हैं।”

उन्होंने कहा कि बीते 8 वर्षों में केंद्र सरकार ने गोवा के विकास के लिए हजारों करोड़ रुपए का निवेश किया है। लगभग 3000 करोड़ रूपए की लागत से मोपा में बने नए हवाई अड्डे का लोकार्पण भी जल्द ही होने जा रहा है। इस हवाईअड्डे के निर्माण से जुड़े कार्यो में गोवा के हजारों लोगो को रोजगार मिला है। इसी तरह आज जो गोवा में कनेक्टिविटी एवं बुनियादी ढांचे की परियोजनाएं चल रही हैं, उनसे भी गोवा के युवाओं को रोजगार के अवसर मिले हैं।उन्होंने कहा कि स्वयंपूर्ण गोवा का विजन गोवा में बुनियादी सुविधाओं को बेहतर बनाने के साथ ही राज्य में बुनियादी ढांचे को भी बेहतर बना रहा है। गोवा पर्यटन मास्टर प्लान एवं नीति के जरिए राज्य सरकार ने गोवा के विकास का नया खाका तैयार किया है। इससे पर्यटन क्षेत्र में निवेश और बड़ी संख्या में रोजगार बढ़ने की नई संभावनाएं बनी हैं।

उन्होंने कहा कि गोवा के ग्रामीण क्षेत्रों को भी आर्थिक मजबूती देने और पारंपरिक खेती में रोजगार बढ़ाने के लिए कदम उठाए जा रहे हैं। धान, फ्रूट प्रोसेसिंग, नारियल, जूट, और मसालों का उत्पादन करने वाले किसानों को, स्वसहायता समूह से जोड़ा जा रहा है। ये सारे प्रयास गोवा में रोजगार और स्वरोजगार के अनेकों नए अवसर बना रहा है।श्री मोदी ने नियुक्ति पत्र पाने वाले युवाओं को नसीहत देते हुए कहा, “आज जिन युवाओं को गोवा में नियुक्ति पत्र मिला है, उनसे मैं एक और बात कहूंगा। अब आपके जीवन के सबसे अहम 25 वर्ष अब शुरू होने जा रहे हैं। अब आपके सामने गोवा के विकास के साथ ही 2047 के नए भारत का भी लक्ष्य है। आपको गोवा के विकास के लिए भी काम करना है, देश के विकास के लिए भी काम करना है। मुझे विश्वास है कि आप सभी पूरी निष्ठा और तत्परता से अपने कर्तव्य पथ का अनुसरण करते रहेंगे।”

प्रधानमंत्री ने धनतेरस पर केंद्रीय स्तर पर रोजगार मेला की अवधारणा का शुभारंभ किया था। यह केंद्र सरकार के स्तर पर 10 लाख नौकरियां देने के अभियान की शुरुआत थी। तब से, प्रधान मंत्री ने गुजरात, जम्मू-कश्मीर और महाराष्ट्र सरकारों के रोजगार मेलों को संबोधित किया है। एक दिन पहले गुजरात रोज़गार मेले के दौरान विभिन्न सरकारी विभागों में नव नियुक्त लोगों को लगभग 71 हजार नियुक्ति पत्र वितरित किए हैं और सभी नए नियुक्तियों के लिए ऑनलाइन अभिविन्यास पाठ्यक्रमों के लिए एक कर्मयोगी प्रारंभ मॉड्यूल भी शुरू किया है।(वार्ता)

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: