UP Live

प्रदेश के 08 लोक सभा निर्वाचन क्षेत्रों में शाम 5 बजे तक 57.54 प्रतिशत मतदान

मतदान प्रक्रिया को स्वतंत्र एवं निष्पक्ष बनाए रखने को 7582 मतदेय स्थलों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई .कुल 1510 मतदेय स्थलों पर वीडियोग्राफी की भी व्यवस्था की गई.

  • उत्तर प्रदेश में प्रथम चरण की 8 लोकसभा निर्वाचन क्षेत्रों के लिए मतदान शांतिपूर्ण व सकुशल संपन्न
  • प्रदेश में निष्पक्ष एवं शांतिपूर्ण चुनाव हेतु व्यापक इंतजाम एवं सुरक्षा व्यवस्था सुनिश्चित कराई गई

लखनऊ । उत्तर प्रदेश के मुख्य निर्वाचन अधिकारी नवदीप रिणवा ने बताया कि प्रदेश के प्रथम चरण में 08 लोक सभा निर्वाचन क्षेत्रों में शुक्रवार को मतदान शान्तिपूर्वक सम्पन्न हुआ। मतदान प्रातः 7.00 बजे से शुरू होकर सायं 6.00 बजे समाप्त हुआ। सायं 5ः00 बजे तक जनपदों से प्राप्त सूचना के आधार पर प्रदेश के 08 लोक सभा निर्वाचन क्षेत्रों में कुल 57.54 प्रतिशत मतदान हुआ है, जिसमें सहारनपुर में 63.29 प्रतिशत, कैराना में 58.68 प्रतिशत, मुजफ्फरनगर ने 54.91 प्रतिशत, बिजनौर में 54.68 प्रतिशत, नगीना (अ0जा0) ने 58.05 प्रतिशत, मुरादाबाद में 57.65 प्रतिशत, रामपुर ने 52.42 प्रतिशत और पीलीभीत में 60.23 प्रतिशत मतदान हुआ।

मुख्य निर्वाचन अधिकारी ने अपने कार्यालय कक्ष के 7वें तल पर स्थित सभाकक्ष में आयोजित प्रेस कान्फ्रेंस बताया कि मतदान की प्रक्रिया को स्वतंत्र एवं निष्पक्ष बनाए रखे जाने के उद्देश्य के लिए प्रभावी पर्यवेक्षण हेतु कुल 7582 मतदेय स्थलों पर वेबकास्टिंग की व्यवस्था की गई, जिसका पर्यवेक्षण जिला निर्वाचन अधिकारी, मुख्य निर्वाचन अधिकारी एवं भारत निर्वाचन आयोग तीनों स्तरों पर किया गया। इसके अतिरिक्त 1510 मतदेय स्थलों पर वीडियोग्राफी की भी व्यवस्था की गई थी। प्रथम चरण के पोस्टल बैलेट मतदान हेतु अर्ह श्रेणियों (85 वर्ष की आयु से अधिक के मतदाता, दिव्यांग, अनिवार्य सेवाएं तथा मतदान कार्मिक) में 14264 मतदाताओं द्वारा पोस्टल बैलेट कास्ट किया गया।

85 वर्ष की आयु से अधिक के मतदाता एवं दिव्यांग मतदाताओं में जिनके द्वारा पोस्टल बैलेट का विकल्प चुना गया था, उनके घर पर जाकर मतदान दल द्वारा मतदान कराया गया। प्रक्रिया को स्वतंत्र, निष्पक्ष एवं पारदर्शी बनाए जाने के लिए मतदान दल के साथ एक माइक्रो आब्जर्वर तथा वीडियोग्राफर की तैनाती की गई थी एवं प्रत्याशियों को सम्पूर्ण प्रक्रिया को देखने के लिए स्वयं अथवा अपने अभिकर्ता को भेजने के लिए मतदान दल का शिड्यूल उपलब्ध कराया गया था एवं इस श्रेणी के अर्ह मतदाताओं की सूची भी प्रत्याशियों को उपलब्ध कराई गई थी। इस मतदान प्रक्रिया की पूरी वीडियोग्राफी भी कराई गई है।

इसके अतिरिक्त कुल 27938 सेवा मतदाताओं को भी रिटर्निंग अधिकारी द्वारा इलेक्ट्रॉनिक माध्यम से (ईटीपीबीएस) पोस्टल बैलेट का प्रेषण किया गया। 7943 कार्मिकों को ईडीसी जारी किया गया है। मतदान पर सतर्क दृष्टि रखने के लिए आयोग द्वारा 08 सामान्य प्रेक्षक, 05 पुलिस प्रेक्षक तथा 10 व्यय प्रेक्षक भी तैनात किये गये थे। उक्त के अतिरिक्त 1272 सेक्टर मजिस्ट्रेट, 150 जोनल मजिस्ट्रेट, 103 स्टैटिक मजिस्ट्रेट तथा 1861 माइक्रो ऑब्जर्वर भी तैनात किए गए थे। इसके अतिरिक्त भारत निर्वाचन आयोग द्वारा राज्य स्तर पर एक वरिष्ठ सामान्य प्रेक्षक, 01 वरिष्ठ पुलिस प्रेक्षक तथा 01 वरिष्ठ व्यय प्रेक्षक भी तैनात किये गये थे, जिनके द्वारा क्षेत्र में रहकर सम्पूर्ण निर्वाचन प्रक्रिया का पर्यवेक्षण किया गया।

19 अप्रैल, 2024 को विभिन्न राजनैतिक दलों द्वारा ईमेल के माध्यम से कतिपय शिकायतें प्राप्त हुई, जिन्हें जनपद के अधिकारियों से तत्परता से निस्तारण कराते हुए राजनैतिक दलों को ईमेल के माध्यम से अवगत भी कराया गया है। चुनाव को शांतिपूर्ण ढंग से सम्पन्न कराने हेतु पर्याप्त मात्रा में अर्द्ध सैनिक बलों की तैनाती की गई थी। ईवीएम के स्ट्रांग रूम की सुरक्षा की जिम्मेदारी अर्द्ध सैनिक बलों को दी गई है।

चुनाव में सभी 14845 मतदेय स्थलों हेतु मतदान के लिए आवश्यक ईवीएम एवं वीवीपैट तथा अलग-अलग जनपदों में पर्याप्त मात्रा में रिजर्व ईवीएम एवं वीवीपैट की व्यवस्था की गई थी एवं मतदान के दौरान जहां कहीं भी शिकायत प्राप्त हुई हैं, वहां तत्काल प्रभावी कार्यवाही करते हुए ईवीएम एवं वीवीपैट को बदलने की कार्यवाही की गई है। जनपदों से प्राप्त सूचना के अनुसार मॉक पोल के दौरान कुल 85 बीयू, 184 सीयू एवं 259 वीवीपैट बदले गए एवं मतदान प्रारम्भ होने के पश्चात सायं 5ः00 बजे तक कुल 50 बी0यू0, 50 सी0यू0 एवं 152 वीवीपैट बदले गए। चुनाव पूरी तरीके से शांतिपूर्ण तरीके से सम्पन्न कराया गया एवं कहीं से भी किसी प्रकार की अप्रिय घटना की कोई सूचना प्राप्त नहीं हुई।

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: