CrimeUttar Pradesh

निदेशक हत्याकांड में दो आरोपित गिरफ्तार, तीन फरार

पुलिस हत्या नहीं बता पाई कई एंगल से कर रही पड़ताल -प्रभारी एसपी ने पुलिस लाइन में किया खुलासा

मि‍र्जापुर । चुनार आयरन में के निदेशक की हत्याकांड के 10 दिन बाद पुलिस ने दो हत्‍यारोपितों को मोहम्मदपुर गांव से गिरफ्तार किया। जबकि मुख्य आरोपित समेत तीन बदमाश अब भी फरार हैं। पुलिस ने आरोपितों के पास से पुलिस हत्या में उपयोग किये गये पस्टिल, आठ कारतूस भी बरामद किया है। दो आरोपितों की गिरफ़तारी के बावजूद पुलिस ने निदेशक की हत्या किस वजह से हुई,किसी ठोस नतीजे पर नहीं पहुंच सकी है। वैसे पुलिस हत्या के मामले की कई एंगल से पड़ताल कर रही है। इसमें रंगदारी से लेकर कंपनी में विवाद व मुख्य आरोपित से झगड़े की पुलिस जांच कर रही है।

पुलिस लाइन स्थित मनोरंजन कक्ष में बुधवार को प्रभारी एसपी संजय वर्मा ने वार्ता कर निदेशक हत्याकांड का खुलासा किया। उड़ीसा के अंगुल जिले के तलचर थाना क्षेत्र के गुरुदावली साही निवासी जीवेंदू रथ चुनार इस्पात कंपनी में निदेशक थे। 27 सितबंर की रात जीवेंदू रथ अपने साथी किशोर कुमार दास व सुमित मोहंती के साथ चुनार कबीर मठ कस्बा में खरीदारी करने आए थे। खरीदारी कर वापस लौटते समय अज्ञात बदमाशों ने जीवेंदू रथ की गोली मारकर हत्या कर दी थी। साथी किशोर कुमार दास भी गोली लगने से जख्मी हो गया था। वहीं, सुमित मोहंती बाल बाल बच गए। सुमित मोहंती की तहरीर पर चुनार पुलिस ने अज्ञात बदमाशों के खिलाफ मामला दर्ज कर पड़ताल में जुटी थी।

निदेशक हत्याकांड के खुलासे के लिए चुनार पुलिस, स्वाट, एसओजी व सर्विलांस टीम लगी थी। टीम ने मंगलवार की रात लगभग आठ बजे मोहम्मदपुर गांव से निदेशक के दो हत्यारोपितों को धर दबोचा, जबकि मुख्य आरोपित समेत फरार तीन अन्य बदमाशों की पुलिस तलाश कर रही है। हत्यारोपित चुनार कोतवाली के सरैया सिकंदरपुर निवासी भोनू उर्फ अजय यादव ने फायरिंग की थी। दूसरा आरोपित इसी कोतवाली के बेलबीर निवासी अनिल यादव ने रेकी करने का काम किया था। आरोपित भोनू की निशानदेही पर पुलिस ने 32 बोर का पस्टिल, दो मैगजीन, आठ कारतूस व एक बाइक बरामद हुआ। प्रभारी एसपी ने बताया कि प्रथम दृष्टया रंगदारी के लिए निदेशक की हत्या की बात सामने आई है। कंपनी विवाद, मुख्य आरोपित से झगड़े सहित अन्य विवाद के पहलु सामने आए हैं। जिनकी जांच चल रही है। मुख्य आरोपित सहित फरार तीन बदमाशों की गिरफ्तारी के लिए टीम लगी हुयी है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close