State

प्रदेश में 46 लाख से अधिक वृद्धावस्था पेंशन दी जा रही है – रमापति शास्त्री

blank

मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में प्रदेश में 96 हजार से अधिक लड़कियों के विवाह कराए जा चुके हैं

ढाई वर्ष में रिकॉर्ड सामाजिक सहायता कार्य हुए

कोई पात्र व्यक्ति पेंशन पाने से वंचित नहीं रहेगा- मंत्री, उत्तर प्रदेश

उत्तर प्रदेश के मंत्री रमापति शास्त्री ने समाज कल्याण विभाग की मंडलीय समीक्षा की

वाराणसी आदर्श मंडल बने- रमापति शास्त्री, मंत्री, उत्तर प्रदेश

वाराणसी जनवरी । उत्तर प्रदेश के मंत्री रमापति शास्त्री ने रविवार को सर्किट हाउस सभागार में समाज कल्याण विभाग की मण्डलीय समीक्षा की। मंत्री रमापति शास्त्री ने अधिकारियों को निर्देशित किया कि समाज कल्याण विभाग की योजनाएं गरीब व असहाय व्यक्तियों के लिए है। जो बहुत संवेदनशील है। इसमें समय से पात्र को लाभ हर हाल में उपलब्ध हो। कोई पात्र व्यक्ति पेंशन पाने से वंचित नहीं रहने पाये। उन्होंने बताया कि वर्तमान प्रदेश सरकार द्वारा समाज कल्याण के रिकॉर्ड कार्य किए गए हैं। प्रदेश में 46 लाख से अधिक लोगो को वृद्धा पेंशन दी जा रही है। 27 लाख से ज्यादा छात्रवृत्ति दी जा रही है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में 96 हजार से अधिक लड़कियों के विवाह कराए जा चुके हैं। गरीब परिवार की लड़कियों को शादी अनुदान आर्थिक सहायक सहित मिलाकर 3 लाख लड़कियों की शादी में सहायता दी गई। वाराणसी आदर्श मंडल बने। यहां के कार्य का देश-दुनिया में संदेश जाता है।
मंडलीय समीक्षा बैठक में बताया गया कि वाराणसी मंडल में 328471 वृद्धावस्था पेंशन दी जा रही है। इसमें अब तक 113 करोड़ 61 लाख रुपए मंडल को उपलब्ध हो चुके हैं। किस्तों में पेंशन लाभार्थियों के खाते में जा रही है। इसी वित्तीय वर्ष में मंडल में 67452 नई वृद्धावस्था पेंशन स्वीकृत हुई है। जो एक रिकॉर्ड है। मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना में मंडल में इस वर्ष 1717 लड़कियों की शादी कराई गई। जिसमें आठ करोड़ 55 लाख रुपए आर्थिक सहायता व्यय किए गए। सामूहिक विवाह योजना में 55 शादियां अल्पसंख्यक समुदाय की हुई। पारिवारिक लाभ योजना में 2353 परिवारों को 07 करोड़ 06 लाख रुपये की सहायता मंडल में इस वर्ष दी जा चुकी है। अनुसूचित जाति की निर्धन परिवार की 2019 लड़कियों की शादी के लिए 04 करोड़ 23 लाख रुपए दिया गया। इसके अतिरिक्त गरीब सामान्य परिवारो की भी 509 लड़कियों की शादी हेतु 01 करोड़ 35 लाख दिया गया। अत्याचारों से उत्पीड़ित अनुसूचित जाति के मंडल में कुल 1318 मामलों में इस वर्ष 11 करोड़ 15 लाख रुपए की आर्थिक सहायता दी गई। सितंबर, 2019 तक जो छात्रवृत्ति के योग्य पाए गए थे, उन्हें के बैंक खाते के माध्यम से 2 अक्टूबर, 2019 को उनके बैंक खाता में सीधे छात्रवृत्ति की धनराशि भेजी गई। इसके बाद अवशेष पात्र छात्रों को 26 जनवरी, 2020 को छात्रवृत्ति की धनराशि उनके बैंक खाते में सीधे भेजा जाएगा। बैठक में मंत्री रमापति शास्त्री ने राजकीय आश्रम पद्धति विद्यालय, प्रशिक्षण केंद्रों, राजकीय अनुसूचित जाति छात्रावास, वृद्ध आश्रमों की समीक्षा के दौरान अधिकारियों को निर्देशित किया कि जिला स्तरीय अधिकारी इनका आकस्मिक रूप से समय-समय पर निरीक्षण व जांच करें। छात्रों व बृद्धाओ की सही खाना-पीना मिले व रहने की व्यवस्था ठीक-ठाक हो। छात्रावासों में पठन-पाठन का अच्छा माहौल हो। मंत्री रमापति शास्त्री ने यूपी सिडको को द्वारा कराए जा रहे विभिन्न निर्माण कार्यो की भी समीक्षा की और समय से गुणवत्तायुक्त निर्माण के निर्देश दिए। इस अवसर पर समाज कल्याण विभाग के मंडल के जनपदों के अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close