Politics

गृहराज्यमंत्री बोले, अब पीछे हटने का सवाल ही नहीं

वाराणसी, 01 जनवरी । बनारस आये केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी किशन रेड्डी ने नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) के मुद्दे पर विपक्षी दलों पर जमकर हमला बोला।उन्होने कहा कि विपक्ष के सभी दल जागरूक करने की बजाय राजनीति कर रहे हैं। चाहे वह राहुल गांधी हो या प्रियंका या पूर्व सीएम अखिलेश यादव। सभी की जिम्मेदारी सही जानकारी देने की है, न कि गुमराह करने की। सीएए किसी के खिलाफ नहीं, इसलिए पीछे हटने का सवाल ही नहीं है।

सर्किट हाउस में बुधवार को मीडिया से बातचीत में गृह राज्यमंत्री ने कहा कि जिस बिल को लोकसभा व राज्यसभा से पास कराने के बाद अब एक्ट बन चुका है, उसका विरोध करना गलत है। स्पष्ट किया कि यह कानून संविधान का एक हिस्सा है, इसे सभी राज्यों को लागू करने की जिम्मेदारी है।कांग्रेस पर निशाना साधा कि 2011 में उनकी पार्टी के शासनकाल में ही एनपीआर की व्यवस्था तय हुई थी। उसी समय 2021 में एनपीआर में प्रत्येक व्यक्ति का रजिस्ट्रेशन अनिवार्य किया था। पिछले दिनों उनकी पार्टी के एक वरिष्ठ नेता कह चुके हैं। अब वहीं पार्टी इसे अस्वीकार कर रही है।

सीएए को लेकर पिछले दिनों अलग-अलग राज्यों में हुए हिंसा के लिए गृह राज्यमंत्री ने विपक्ष दलों को जिम्मेदार ठहराया। आरोप लगाया कि सभी दलों के बयानों से माहौल बिगड़ा है। राहुल गांधी पर तंज किया कि पिछले दिनों उनका बयान सामने आया, जिसमें वह लोगों से कह रहे हैं कि जीएसटी की तरह सीएए लागू होने के बाद टैक्स बढ़ जाएगा। मैंने उन्हें सलाह देता हूं कि पहले वह जीएसटी, सीएए, एनआरसी और एनपीआर के बारे में ठीक से अध्ययन करें।
एनसीआर के मुद्दे पर गृह राज्यमंत्री ने कहा कि इस पर सरकार ने अभी कोई निर्णय नहीं लिया है। कहा कि सरकार और पार्टी ने निर्णय लिया है कि सभी नेता और कार्यकर्ता विभिन्न माध्यमों के जरिए लोगों के बीच में जाएं और सीएए, एनआरसी और एनपीआर के बारे में लोगों को जागरूक करें। केंद्रीय गृह राज्यमंत्री दो दिनी दौरे पर मंगलवार को काशी पहुंचे थे। उन्होंने कल बाबा विश्वनाथ मंदिर में दर्शन-पूजन करने के बाद गंगा आरती में भी भाग लिया था।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close