Uttar Pradesh

यह भलुअनी पुलिस है यह वर्दी देख कर साथ निभाती है …

भलुअनी (देवरिया) । देवरिया जिले की पुलिस आजकल चर्चा में है चाहे किसी भी रूप में हो यहा की पुलिस चर्चा में रहना चाहती है। ताजा मामला भलुअनी थाने का है, पीड़ित महिला की एफआईआर लिखी नही जा रही है क्योकि महिला गरीब, बेबस, लाचार है और जो उसके खिलाफ खड़े है वह वर्दी धारक है, भलुअनी पुलिस इसी वर्दी की लाज बचाने की खातीर उस महिला को थाने से भगा दे रही है।
सिंघासन यादव पुत्र स्व.राममूरत यादव सोनडीहाँ गांव निवासी का एक जमीन का विवाद 16 वर्षो से न्यायालय में चल रहा है। विवादित जमींन को लेकर दिनेश यादव (रिटायर्ड दारोगा), चंदा यादव पुत्री दिनेश यादव (सब इंस्पेक्टर महिला थाना अयोध्या) एवं दिनेश यादव की पत्नी तीनो मिल कर अपने छत से ईंट और पत्थर बरसा कर नीचे इनका लड़का मयंक यादव उस विवादित दिवाल को सब्बल से गिरा दिया ।
सिंघासन यादव ने कहा की दिनेश यादव एवं इनका परिवार हमेशा दबंगई करते रहते है, इनका लड़का अपनी पिस्टल लेकर मारने को दौड़ा लिया, जबकी उस विवादित जमीन पर मुकदमा दर्ज है जो वाद संख्या 1989/2004 दिवानी न्यायालय में है। विवादित जमींन पर स्टे भी है पर यह लोग दबंगई से उस पर कब्जा करना चाह रहे है। आये दिन धमकियाँ देते रहते है। सिंघासन यादव ने कहा की जब हम भलुअनी थाने पर अपनी एफआइआर ले कर गये तो थाना प्रभारी हम को भगा दिए । थाना प्रभारी हम लोगो का एफ आईआर को ले नही रहे है, ना ही कोई सुनवाई कर रहे है । पीड़ित परिवार ने एसपी से भी मिल कर अपनी बात रखी मगर कोई सुनवाई नही हुई । पीड़ित परिवार ने कहा हमें न्याय कैसे मिलेगा जब न्याय करने वाले ही पक्षपात कर रहें हैं ।

 

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close