National

हज 2022 के लिए अब तक 20 हजार लोगों ने किया आवेदन

केंद्रीय अल्पसंख्यक कार्य मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी ने कहा कि पिछले सात वर्षों में भारतीय हज यात्रा व्यवस्था में महत्वपूर्ण सुधारों, सुविधाओं ने संपूर्ण हज प्रक्रिया को सरल और सुगम बनाया है एवं 20 हजार लोगों ने अब तक हज 2022 के लिए आवेदन किया है।श्री नकवी ने गुरुवार को यहाँ हज हाउस में हज-2022 की तैयारियों के सम्बन्ध में हज कमेटी ऑफ इंडिया के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक के बाद कहा कि हज सब्सिडी खत्म करने, बिना “मेहरम” (पुरुष रिश्तेदार) के मुस्लिम महिलाओं के हज यात्रा पर लगी बंदिश खत्म करने, संपूर्ण हज प्रक्रिया को सौ प्रतिशत ऑनलाइन/डिजिटल करने आदि जैसे सुधारों से ‘इज़ ऑफ डूइंग हज’ को बल मिला है।

उन्होंने कहा कि हज कमेटी ऑफ़ इंडिया का पोर्टल, हज ग्रुप ऑर्गनाइजर्स का पोर्टल, डिजिटल हेल्थ कार्ड, ‘ई-मसीहा’ स्वास्थ्य सुविधा, मक्का-मदीना में ठहरने की बिल्डिंग/ट्रांसपोर्टेशन की जानकारी भारत में ही देने वाली ‘ई-लगेज टैगिंग’ की सुविधा, ई-वीजा, आधुनिक सुविधाओं से युक्त अपग्रेडेड “हज मोबाइल ऐप” आदि से भारतीय हज यात्रियों की सुविधा, सुरक्षा, सरलता सुनिश्चित हुई है।श्री नकवी ने कहा कि भारत की हज 2022 की संपूर्ण प्रक्रिया 100 प्रतिशत ऑनलाइन/डिजिटल होगी। इंडोनेशिया के बाद सर्वाधिक हज यात्री भारत से जाते हैं हज यात्रा के इच्छुक लोगों की चयन प्रक्रिया कोरोना वैक्सीन के दोनों डोज लिए जाने एवं भारत और सऊदी अरब की सरकारों द्वारा हज 2022 के समय तय किये जाने वाले कोरोना प्रोटोकॉल, दिशानिर्देशों एवं मापदंडों को ध्यान में रखकर तैयारी की जा रही है।

उन्होंने कहा कि हज 2022 के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया एक नवम्बर से शुरू हो गई थी और अंतिम तिथि 31 जनवरी 2022 रखी गई है। हज के लिए आवेदन, ऑनलाइन और “हज मोबाइल ऐप” के जरिये किये जा रहे हैं। इसकी टैग लाइन “हज ऐप इन योर हैंड” है। इसमें हज आवेदन पत्र, आवेदन पत्र को भरने की संपूर्ण जानकारी, आवेदन पत्र भरने की प्रक्रिया का वीडियो आदि उपलब्ध हैं।केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अभी तक 20 हजार से अधिक लोगों ने हज 2022 के लिए आवेदन किया है जिसमें 100 से अधिक महिलाओं ने बिना ‘मेहरम’ के आवेदन किया है। जबकि बिना ‘मेहरम’ के लगभग 3000 से अधिक महिलाओं ने हज 2020-2021 के लिए आवेदन किया था।

बिना ‘मेहरम’ हज यात्रा हेतु जिन महिलाओं ने हज 2020 और 2021 के लिए आवेदन किये थे वह आवेदन हज 2022 के लिए भी मान्य रहेंगे, बिना ‘मेहरम’ के हज पर जाने वाली सभी महिलाओं को बिना लॉटरी के हज पर जाने की व्यवस्था की गई है।श्री नकवी ने कहा कि इस बार हज 2022 के लिए 21 की जगह 10 इम्बार्केशन पॉइंट्स तय किये गए हैं जिनमें अहमदाबाद, बेंगलुरु, कोच्चि, दिल्ली, गौहाटी, हैदराबाद, कोलकाता, लखनऊ, मुंबई और श्रीनगर शामिल हैं।अहमदाबाद इम्बार्केशन पॉइंट से गुजरात के हज यात्री, बेंगलुरु इम्बार्केशन पॉइंट से कर्नाटक एवं आंध्र प्रदेश के चित्तूर जिले के हज यात्री, कोच्चि इम्बार्केशन पॉइंट से केरल, लक्षद्वीप, पुडुचेर्री, तमिलनाडु, अंडमान एवं निकोबार के हज यात्री, दिल्ली इम्बार्केशन पॉइंट से दिल्ली, पंजाब, हरियाणा, हिमाचल प्रदेश, चंडीगढ़, उत्तराखंड, पश्चिम उत्तर प्रदेश और राजस्थान के हज यात्री हज यात्रा 2022 पर जा सकेंगे।

गुवाहाटी इम्बार्केशन पॉइंट से असम, मेघालय, मणिपुर, नगालैंड, अरुणाचल प्रदेश और सिक्किम के हज यात्री, हैदराबाद इम्बार्केशन पॉइंट से आंध्र प्रदेश और तेलंगाना के हज यात्री, कोलकाता इम्बार्केशन पॉइंट से पश्चिम बंगाल, ओड़िशा, त्रिपुरा, झारखण्ड और बिहार के हज यात्री हज यात्रा 2022 पर जा सकेंगे।लखनऊ इम्बार्केशन पॉइंट से पश्चिम उत्तर प्रदेश को छोड़ कर समस्त उत्तर प्रदेश के हज यात्री मुंबई इम्बार्केशन पॉइंट से महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़, दमन एवं दीव, दादरा एवं नगर हवेली और गोवा के हज यात्री और श्रीनगर इम्बार्केशन पॉइंट से जम्मू, कश्मीर, लेह-लदाख-कारगिल के हज यात्री हज यात्रा 2022 पर जा सकेंगे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: