State

खुली शराब की दुकानें, पियक्कड़ों के आतंक से पुलिस प्रशासन परेशान

भलुअनी (देवरिया) । देश भर में लगाये गये लॉकडाउन के बीच सरकार ने सोमवार से कुछ छूट देते हुये शर्तो के साथ दुकानें, आफिस व शराब की दुकानें खोलने की अनुमति दी । भलुअनी बाजार में भी दुकानों के खुलने से कुछ रौनक दिखायी दी, पर सबसे ज्यादा भीड़ शराब की दुकान पर होनें से पुलिस प्रशासन को खासी दिक्कत उठानी पड़ी । सोशल डिस्टेसिंग की धज्जिया उड़ाते हुये शराब खरीदने वालों की भीड़ इस कदर थी कि लम्बी लाइन देखकर लोग हैरान थे । पीने वाले इस कदर मस्त थे कि बाजार में झूमते हुये लोंगों को जाता देखकर देखने वाले लोग उन्हें मनोरंजन का साधन महसूस कर रहे थे । इसी दरम्यान शाम को शराब के नशे में धुत्त बिना मास्क लगाये नेपाल निवासी एक युवक जो आर्केस्ट्रा में कार्य करता है अपने दो साथियों के साथ एक ही बाइक पर सवार होकर तेज गति से चौराहे की तरफ आ रहा था, चौराहे पर ड्यूटी दे रहे हेड कांस्टेबल जितेंद्र सिंह ने उसे रोका । रुकने की बजाय वह तेज गति से बाइक लेकर आगे बढ़ गया जिसपर हेड कांस्टेबल ने उसका पीछा कर उसे रोका, रोकने के बाद वह पुलिसकर्मियों से उलझ गया । अकेले ही वह शराबी आधा दर्जन पुलिसकर्मियों पर भारी पड़ रहा था, उसको काबू करने में पुलिसकर्मियों के पसीने छूट रहे थे । करीब आधे घण्टे की कड़ी मशक्कत के बाद पुलिसकर्मियों ने उस पर काबू पाया, इस दौरान लोग तमाशबीन बनकर मुख्य बाजार में यह वाकया देख रहे थे । शराबी ने आधे घण्टे तक जमकर पुलिसकर्मियों को छकाया, शराबी के कपड़े तक फट गये पर उसके अंदर डर नाम की चीज नही दिखी । किसी तरह उसे काबू में करके पुलिसकर्मी थाने पर ले गये । इस घटना के बाद मौजूद लोग शराब की दुकानें खुलने पर तरह तरह के सवाल खड़े कर रहे थे । पुलिसकर्मियों ने कहा कि लॉकडाउन के नियमों का पालन कराना ही एक बड़ी समस्या है और अब शराब की दुकानें खुलने से तो हम सबकी मुश्किलें ही बढ़ गयी है ।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close