Breaking News

कोविड-19 के 5.5 लाख से ज्यादा मरीज ठीक हुए

19 राज्यों में ठीक होने (रिकवरी) की दर राष्ट्रीय औसत 63.02 प्रतिशत से अधिक है ,30 राज्यों में राष्ट्रीय औसत 2.64 प्रतिशत की तुलना में मृत्यु दर कम है ,प्रति दस लाख पर 8,555 से अधिक परीक्षण किए जा रहे हैं

केंद्र सरकार और राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों द्वारा केंद्रित और समन्वित उपायों के माध्यम से कोविड-19 रोगियों की जल्द से जल्द पहचान करने, सही समय पर निदान करने और प्रभावी नैदानिक प्रबंधन के कारण, ठीक हुए मामलों की संख्या में लगातार वृद्धि हो रही है। समय पर निदान के साथ-साथ तीव्र गति के साथ परीक्षण ने, रोग को उन्नत चरण में बढ़ने से पहले ही कोविड प्रभावित रोगियों की पहचान की है; कंटेनमेंट क्षेत्रों और निगरानी गतिविधियों के प्रभावी कार्यान्वयन के कारण यह सुनिश्चित किया जा सका है कि संक्रमण की दर नियंत्रण में रहे। होम आइसोलेशन के लिए देखभाल मानदंडों और मानकों के साथ-साथ ऑक्सीमीटर के उपयोग ने अस्पतालों के बुनियादी ढांचे पर बिना बोझ डाले बिना लक्षण या हल्के लक्षण वाले रोगियों को नियंत्रित रखने में सहायता प्रदान की है। इस प्रकार की वर्गीकृत नीति और समग्र दृष्टिकोण के कारण, पिछले 24 घंटों में 18,850 लोग स्वस्थ्य हुए है, जिससे कोविड-19 रोगियों के बीच ठीक हुए मामलों की कुल संख्या बढ़कर 5,53,470 हो गई है।

आज ठीक होने की दर बढ़कर 63.02 प्रतिशत हो गई है। 19 राज्यों में ठीक होने दर राष्ट्रीय औसत से अधिक है। ये राज्य हैं:

राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश ठीक होने की दर राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश ठीक होने की दर
लद्दाख (यूटी) 85.45% त्रिपुरा 69.18%
दिल्ली 79.98% बिहार 69.09%
उत्तराखंड 78.77% पंजाब 68.94%
छत्तीसगढ़ 77.68% ओडिशा 66.69%
हिमाचल प्रदेश 76.59% मिजोरम 64.94%
हरियाणा 75.25% असम 64.87%
चंडीगढ़ 74.60% तेलंगाना 64.84%
राजस्थान 74.22% तमिलनाडु 64.66%
मध्य प्रदेश 73.03% उत्तर प्रदेश 63.97%
गुजरात 69.73%    

सक्रिय मामलों की संख्या 3,01,609 है और सभी अस्पतालों, कोविड देखभाल केंद्रों या होम आइसोलेशन में चिकित्सा निगरानी के अंतर्गत हैं। सक्रिय मामलों की तुलना में, ठीक हुए मामलों की संख्या 2,51,861 अधिक है। गंभीर मामलों के नैदानिक प्रबंधन पर जोर देने के कारण भारत में मृत्यु दर भी घटकर 2.64 प्रतिशत हो गई है। दिल्ली का एम्स अस्पताल, कोविड-19 राष्ट्रीय टेलीकंसल्टेशन सेंटर के माध्यम से समर्पित कोविड अस्पतालों (डीसीएच) को लगातार नियंत्रित कर रहा है। देश के 30 राज्यों में मृत्यु दर, राष्ट्रीय औसत से कम है।

राज्य/केन्द्र शासित प्रदेश मृत्यु दर राज्य/ केन्द्र शासित प्रदेश मृत्यु दर
मणिपुर 0% झारखंड 0.8%
नागालैंड 0% बिहार 0.86%
दादरा और नगर हवेली और दमन और दीव 0% हिमाचल प्रदेश 0.91%
मिजोरम 0% तेलंगाना 1.03%
अंडमान-निकोबार द्वीपसमूह 0% आंध्र प्रदेश 1.12%
सिक्किम 0% पुडुचेरी 1.27%
लद्दाख (यूटी) 0.09% उत्तराखंड 1.33%
त्रिपुरा 0.1% तमिलनाडु 1.42%
असम 0.22% हरियाणा 1.42%
केरल 0.39% चंडीगढ़ 1.43%
छत्तीसगढ़ 0.47% जम्मू-कश्मीर (यूटी) 1.7%
ओडिशा 0.49% कर्नाटक 1.76%
अरुणाचल प्रदेश 0.56% राजस्थान 2.09%
गोवा 0.57% पंजाब 2.54%
मेघालय 0.65% उत्तर प्रदेश 2.56%

पिछले 24 घंटे में 2,19,103 नमूनों का परीक्षण किया गया। अब तक परिक्षण किए गए नमूनों की कुल संख्या 1,18,06,256 हो चुकी है। प्रति दस लाख पर परीक्षणों की संख्या बढ़ रही है जो कि वर्तमान समय में 8555.25 है। देश में परीक्षण प्रयोगशाला के नेटवर्क को और मजबूत किया गया है, वर्तमान समय में देश में 1,200 प्रयोगशालाएं हैं; जिसमें सरकारी क्षेत्र में 852 प्रयोगशालाएं और निजी क्षेत्र में 348 प्रयोगशालाएं हैं।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close