Breaking News

प्रभारी मंत्री ने कोरोना वायरस समस्या से निदान हेतु प्रबन्धन की समीक्षा की

मंत्री आशुतोष टण्डन ने पं0दीनदयाल उपाध्याय अस्पताल में कोरोना आइसोलेशन वार्ड का निरीक्षण किया

कोरोना से डरने की नही, सजग, सचेत व जागरूक रहने की जरूरत है-मंत्री आशुतोष टण्डन वाराणसी । उत्तर प्रदेश के नगर विकास एवं जनपद वाराणसी के प्रभारी मंत्री आशुतोष टण्डन से शुक्रवार को सर्किट हाउस सभागार में अधिकारियों के साथ बैठक कर कोरोना के संक्रमण से बचाव हेतु प्रबन्धन की समीक्षा की। बैठक में मंत्री आशुतोष टंडन ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा 22 मार्च को प्रातः 7 से रात्रि 9 तक जनता द्वारा जनता के लिए किए गए "जनता कर्फ्यू" की अपील को पूरी तरह अमल में लाए जाने हेतु लोगों का आह्वान करते हुए कहा कि कोरोना वायरस के संक्रमण एवं बचाव के लिए प्रधानमंत्री द्वारा किया गया यह अपील बहुत ही कारगर है। उन्होंने विशेष रूप से जोर देते हुए कहा कि कोरोना वायरस का संक्रमण तेजी से होता है। ऐसे में लोग अपने-अपने घरों में निश्चित रूप से सुरक्षित रहेंगे। उन्होंने बताया कि कोरोना वायरस का जीवन चक्र 12 से 14 घंटे का होता है। ऐसे में जब लोग घरों में रहेंगे, तो निश्चित रूप से वे सुरक्षित रहेंगे। मंत्री आशुतोष टंडन ने बताया कि केन्द्र एवं प्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने हेतु ठोस एवं प्रभावी कदम उठाए गए हैं। जिसका परिणाम रहा है कि अब तक अन्य देशों की अपेक्षा कोरोना वायरस का दुष्परिणाम भारत में नहीं देखने को मिली है। उन्होंने लोगों से पूरी तरह जागरूक रहते हुए इसके संक्रमण से निपटने हेतु अपने आसपास समुचित साफ-सफाई तथा सिनेटाइजेशन किए जाने पर विशेष जोर दिया है। बताया गया कि कोरोना वायरस के संक्रमण से निपटने हेतु जिला प्रशासन द्वारा ठोस एवं प्रभावी व्यवस्था सुनिश्चित कर ली गयी है। मण्डलीय रेलवे प्रशिक्षण केन्द्र मडुवाडीह केन्द्र 100 बेड, क्षेत्रीय परिवार कल्याण प्रशिक्षण केन्द्र शिवपुर में 38 बेड, सामुदायिक स्वास्थ्य केन्द्र शिवपुर में 20 बेड, डूडा आश्रय केन्द्र परमानन्दपुर शिवपुर 50 बेड, संजय मोटेल व होटल रनवे बाबतपुर, आई०एम०एस0 बी0एच0यू0, वाराणसी में वार्ताकर वहां पर भी 400 बेड का कोरेन्टाईन वार्ड बनाने की प्रक्रिया चल रही है। इसके साथ ही आयुर्वेद महाविद्यालय-चौकाघाट में भी वार्ता कर कोरेन्टाईन वार्ड बनाने की प्रक्रिया चल रही है। आई०एम०एस0 बी0एच0यू0, वाराणसी के सुपर स्पेशियलिटी विभाग में 20 बेड तथा पं0 दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय, वाराणसी में 10 बेड का आईसोलेशन वार्ड बनाया गया है। अब तक आईसोलेशन वार्ड में भर्ती यात्री के संबंध में बताया गया कि आई०एम0 एस0 बी0एच0यू0, वाराणसी में 24 संदेहास्पद मरीज भर्ती थे। जिसमें 19 की रिपोर्ट निगेटिव है। 05 की रिपोर्ट प्राप्त नहीं है। पं0 दीनदयाल उपाध्याय में 15 संदेहास्पद का सैम्पल लिया गया जिसमें 13 की रिपोर्ट निगेटिव है। 02 की रिपोर्ट अप्राप्त है।

जनपद स्तर पर जिलाधिकारी द्वारा 10 टीमों का प्रशासनिक अधिकारियों के नेतृत्व में गठन कर प्रत्येक कार्य का स्वयं पर्यवेक्षणीय किया जा रहा है।
सैम्पल कलेक्शन पं0 दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय व कलेक्शन व जांच की प्रक्रिया माईक्रोबायोलोजी विभाग, बी0एच०यू0 द्वारा किया जा रहा है। कई स्थानों पर जांच की अन्य मशीनों को वार्ताकर अतिरिक्त उपलब्धता की कार्यवाही की जा रही है। बताया गया कि जनपद में जनपद में पर्याप्त संख्या में डॉक्टर, एंबुलेंस, पैरामेडिकल तथा नर्सिंग स्टाफ की व्यवस्था आवश्यकतानुसार कर ली गयी है। काशी हिंदू विश्वविद्यालय के सुंदरलाल अस्पताल में कोरेनटाइन सेंटर तैयार किया जा रहा है।
इस अवसर पर महापौर मृदुला जायसवाल, विधायक सौरभ श्रीवास्तव, विधायक सुरेन्द्र नारायण सिंह, जिलाध्यक्ष भाजपा हंसराज विश्वकर्मा, महानगर अध्यक्ष विद्यासागर राय, जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा, नगर आयुक्त गौरांग राठी, मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा0वी0वी0सिंह सहित अन्य अधिकारी प्रमुख रूप से उपस्थित रहे।
बैठक के पश्चात् मंत्री आशुतोष टण्डन ने पं0दीनदयाल उपाध्याय राजकीय चिकित्सालय में बने कोरोना आइसोलेशन वार्ड एवं कन्ट्रोल रूम का निरीक्षण किया। इस दौरान मौके पर मौजूद मुख्य चिकित्सा अधिकारी एवं चिकित्सकों को उन्होने अस्पताल परिसर एवं वार्डो में प्रर्याप्त सफाई व्यवस्था के साथ ही निरन्तर आइसोलेशन कराये जाने का निर्देश दिया। उन्होने कोरोना वायरस के संक्रमण एवं बचाव हेतु व्यापक प्रचार-प्रसार के साथ ही जन-जागरूकता कार्य पर भी विशेष जोर दिया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close