National

कानपुर मुठभेड़-विकास दुबे गिरफ्तार

सीएम योगी आदित्यनाथ ने एमपी सीएम शिवराज सिंह चौहान से फोन पर बात की। विकास को जल्द सौंपने के लिए कहा।

लखनऊ । मध्यप्रदेश पुलिस ने कानपुर हत्याकांड के मुख्य आरोपी और 5 लाख के इनामी विकास दुबे को उज्जैन के महाकाल मंदिर से गिरफ्तार कर लिया है। विकास दुबे पर आठ पुलिसवालों की हत्या करने का आरोप है। पिछले कुछ दिनों से पुलिस उसकी  गिरफ्तारी के लिए हरियाणा और दिल्ली में दबिश दे रही थी। यूपी पुलिस विकास दुबे के पांच साथियों को एनकाउंटर में ढेर कर चुकी है। वहीं कई साथियों को गिरफ्तार कर चुकी है। सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार आज प्रातःकाल दर्शन के लिए मंदिर पहुंचा था । दर्शन के लिए 250 रूपए का रसीद भी कटाया । नाम अपना विकास दूबे ही बताया । सुरक्षा गार्ड को भी अपना नाम विकास दूबे ही बताया । मध्यप्रदेश पुलिस विकास से पूछताछ कर रहीं हैं । उत्तर प्रदेश के पुलिस टीम मध्यप्रदेश को रवाना हो गई है । ऐसी चर्चा है कि पुलिस के दबाव में वह खुद सरेंडर करने के लिए मंदिर पहुंचा था , इस लिए उसने अपनी पहचान को छुपाने का प्रयास नहीं किया । पुलिस अधिकारियों की पत्रकार वार्ता के बाद ही सच क्या है , पता चलेगा ।

गिरफ्तारी के बाद 8 पुलिसकर्मियों का हत्यारोपी बोला- मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला

उज्जैन । यूपी के कानपुर के बकरू कांड का मुख्य आरोपी विकास दुबे आखिरकार पुलिस की गिरफ्त में आ गया है। एनकाउंटर के सातवें दिन विकास को मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार किया गया। बताया जा रहा है विकास दुबे ने खुद ही स्थानीय मीडिया और पुलिस के सामने सरेंडर किया। पुलिस की गिरफ्त में आने के बाद भी विकास पर कोई असर नहीं दिखा और मीडिया के सामने चिल्लाया- मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला। विकास दुबे की गिरफ्तारी पर बोले एडीजी लॉ एंड आर्डर प्रशांत कुमार , न्यायिक प्रक्रिया के तहत विकास दुबे पर होगी कड़ी कार्रवाई ,विकास दुबे को ट्रांजिट रिमांड पर यूपी लाया जाएगा विकास दुबे के बाकी फरार साथियों पर भी जल्द कसा जाएगा शिकंजा ।

पकड़े जाने के बाद भी विकास दुबे के चेहरे पर कोई डर या शिकन नजर नहीं आ रही थी। वह उसी हेकड़ी से तनकर गाड़ी तक पहुंचा। गाड़ी के पास आकर जब पुलिस ने उसे पकड़कर अंदर बैठाने का प्रयास किया तो विकास दुबे जोर से चिल्लाया, ‘मैं विकास दुबे हूं कानपुर वाला….’ उसके इतना बोलते ही हेकड़ी कम करने के लिए पीछे खड़े एक पुलिसवाले ने उसे एक थप्पड़ मारा।
वहीं, मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भी विकास दुबे की गिरफ्तारी की पुष्टि की। उन्होंने कहा कि विकास दुबे अभी मध्य प्रदेश पुलिस की कस्टडी में है। अभी गिरफ्तारी कैसे हुई इसके बारे कुछ भी कहना ठीक नहीं। मंदिर के अंदर या बाहर, कहां से गिरफ्तारी हुई, इसके बारे में कहना ठीक नहीं। विकास क्रूरता की हदें शुरू से ही पार कर रहा था। वारदात होने के बाद से ही हमने पूरी मप्र पुलिस को अलर्ट पर रखा था।

पुजारी और अन्य लोगों की सूचना पर गिरफ्तार हुआ विकास दुबे, नरोत्तम मिश्रा ने कहा- बाकी चीजें बाद में बताएंगे

उज्जैन। उत्तर प्रदेश के कानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपी और कुख्यात अपराधी विकास दुबे को पुलिस ने बृहस्पतिवार सुबह मध्य प्रदेश के उज्जैन से गिरफ्तार किया है। मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने भोपाल में मीडिया को बताया कि मैं फिलहाल बता रहा हूं कि हमने दुबे को गिरफ्तार किया है। वह हमारी हिरासत में है। जब मिश्रा से सवाल किया गया कि क्या महाकाल मंदिर में गिरफ्तारी हुई, तो उन्होंने कहा कि मंदिर के बाहर-अंदर को बीच में न लाएं पर उज्जैन में गिरफ्तारी हुई है। पुजारी एवं कुछ लोगों ने उसका चेहरा पहचाना और उसके बाद पुलिस को सूचना दी या पुलिस ने सीधे उसे गिरफ्तार किया के सवाल पर मिश्रा ने कहा इंटेलीजेंस की बात भी बताएंगे। पहले हमें इसके मर्म तक आने दो। बाकी चीजें बाद में बताएंगे, पहले पता करने दो।
उन्होंने कहा कि निश्चित रूप से वह प्रारंभ से ही क्रूरता की हदें पार करता रहा है और उसने जो कृत्य किया वह बहुत निंदनीय था, बहुत चिंतनीय था। मध्य प्रदेश पुलिस को बड़ी कामयाबी मिली है। मिश्रा ने बताया कि वारदात होने के बाद से ही हमने पूरी मध्यप्रदेश पुलिस को अलर्टरखा था और इस मामले में पूरी निगाह रखी जा रही थी

 

आज सुबह फिर दो साथी का एनकाउन्टर

विकास दुबे के दो और साथी प्रभात मिश्रा व बउआ दुबे गुरुवार सुबह पुलिस मुठभेड़ में मारे गए। पुलिस ने बताया कि कानपुर पुलिस टीम फरीदाबाद में गिरफ्तार विकास दुबे के खास प्रभात मिश्रा को ट्रांजिट रिमांड पर लेकर कानपुर आ रही थी तभी बीच रास्ते में प्रभात ने पुलिस की पिस्टल छीनकर भागने की कोशिश की, इसी दौरान उसने पुलिस पर फायरिंग भी कर दी। पुलिस ने भी गोली चलाई तो प्रभात घायल हो गया, अस्पताल में डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। वहीं विकास का दूसरा साथी बउआ दुबे भी इटावा में मारा गया। यह जानकारी इटावा एसएसपी आकाश तोमर ने दी।

 

blank

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close