NewsState

भारत का सबसे बड़ा मददगार है इस्राइल : अधिकारी

लखनऊ, फरवरी । रक्षा मंत्रालय के एक वरिष्ठ अधिकारी ने बुधवार को कहा कि चुनौतियों का सामना करने के लिए भारत की तैयारियों में इस्राइल महत्वपूर्ण मददगार है । महानिदेशक (अधिग्रहण) एवं अपर सचिव (रक्षा) अपूर्व चंद्रा ने कहा, ‘‘किसी भी प्रतिकूल स्थिति से निपटने में भारत की तैयारियों में इस्राइल सबसे बड़ा मददगार है और हमेशा उसने अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी साझा की है ।’’ वह डिफेंस एक्सपो—2020 में फिक्की द्वारा इस्राइल रक्षा मंत्रालय और भारतीय रक्षा मंत्रालय के साथ संयुक्त रूप से आयोजित ‘इंडिया—इस्राइल अपॉरच्यूनिटीज इन डिफेंस कोऑपरेशन : फ्यूचर वेक्टर्स आफ दि डिजिटल बैटलफील्ड’ विषय पर बोल रहे थे । चंद्रा ने इस्राइल के साथ साझेदारी बनाये रखने का विश्वास जताया क्योंकि अब तक रक्षा मंत्रालय के साथ हुए सभी करार समय पर हुए और इस्राइल के साथ कुल मिलाकर अनुभव काफी संतोषजनक रहा है । उन्होंने मानवरहित वाहन, यूएवी, सीमा प्रबंधन और बिक्री बाद की मदद को भारत एवं इस्राइल के बीच सहयोग के नये क्षेत्र बताया । इस्राइली रक्षा मंत्रालय के निदेशक ब्रिगेडियर जनरल (सेवानिवृत्त) येर कुलास ने कहा कि इस्राइल डिजिटल बैटलफील्ड के भावी रास्ते में अपने ज्ञान और प्रौद्योगिकीय विशेषज्ञता को साझा करना चाहता है । भारत में इस्राइल के राजदूत रान मल्का ने कहा, ‘‘भारत और इस्राइल के बीच साझेदारी परस्पर सम्मान, विश्वास, मूल्यों, रूचि, परंपरा और संस्कृति की आधारशिला पर तेजी से बढ रही है ।’’ दोनों देशों के बीच और अधिक संयुक्त उपक्रम लगाने की जरूरत पर जोर देते हुए उन्होंने उम्मीद जतायी कि खरीदार—विक्रेता के संबंध को सामरिक साझेदारी में तब्दील करना है। उन्होंने कहा कि भारत और इस्राइल विज्ञान एवं प्रौद्योगिकी के क्षेत्र में विश्व में अग्रणी हैं और दोनों देशों के बीच विभिन्न क्षेत्रों में सहयोग की अपार संभावनाएं हैं ।
Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close