National

जनरल रावत का पार्थिव शरीर 11 बजे लोगों के दर्शनार्थ रखा जाएगा

राज्यसभा में जनरल रावत और सैन्यकर्मियों को श्रद्धांजलि

कुन्नूर हेलीकॉप्टर दुर्घटना में मृत देश के पहले प्रमुख रक्षा अध्यक्ष जनरल बिपिन रावत का पार्थिव शरीर लोगों के दर्शनार्थ शुक्रवार को उनके आवास तीन कामराज मार्ग पर रखा जाएगा।रक्षा सूत्रों ने गुरुवार को बताया कि जनरल रावत के पार्थिव शारीर को शुक्रवार 11 बजे से उनके आवास पर श्रद्धांजलि दी जा सकेगी।विशिष्ट गणमान्य व्यक्ति तथा आम लोग जनरल रावत को सुबह 11बजे से 12:30 बजे तक श्रद्धांजलि दे सकेंगे।

इसके बाद 12:30 से 1:30 बजे तक सैन्यकर्मी उनके अंतिम दर्शन कर उन्हें श्रद्धांजलि देंगे।दोपहर दो बजे उनकी अंतिम यात्रा बरार स्क्वेयर शवदाह गृह के लिए उनके आवास से शुरू होगी जहां उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा।जनरल रावत के साथ ही इस दुर्घटना में मारे गए सेना के ब्रिगेडियर एल एस लीडर का अंतिम संस्कार शुक्रवार बरार स्क्वेयर शवदाह गृह में सुबह 9:00 बजे किया जाएगा।

राज्यसभा में जनरल रावत और सैन्यकर्मियों को श्रद्धांजलि

राज्यसभा में गुरुवार को दिवंगत प्रथम चीफ ऑफ स्टाफ जनरल बिपिन रावत और उनकी पत्नी मधुलिका रावत तथा ग्यारह अन्य सैन्यकर्मियों को श्रद्धांजलि दी गयी ।सदन की कार्यवाही शुरु होते ही उप सभापति हरिवंश ने जनरल रावत के कल एक हेलिकाप्टर दुर्घटना में मौत की जानकारी देते हुए कहा कि उनके निधन से देश ने एक बहुत ही समर्पित योद्धा खो दिया है। उन्हें उत्कृष्ट कार्य के लिए परम विशिष्ट सेवा मेडल तथा कई अन्य पुरस्कारों से सम्मानित किया गया था। उन्होंने रक्षा क्षेत्र में अनेक नये प्रयोग किये थे।

उन्हेें वर्ष 2016 में चीफ ऑफ स्टाफ तथा 2019 में रक्षा प्रमुख बनाया गया था।श्री हरिवंश ने कहा कि जनरल रावत ने लगभग चार दशक तक सेना में विभिन्न पदों पर कार्य किया था। उन्होंने संयुक्त राष्ट्र के शांति सेना में कांगो में भी काम किया था। उनका जन्म 11 मार्च 1958 को उत्तराखंड के गढवाल में एक सैनिक परिवार में हुआ था। उनका कल तमिलनाडु के नीलगिरी में हेलिकाप्टर दुर्घटना में निधन हो गया था। बाद में सदस्यों ने दिवंगत सैन्यकर्मियों के सम्मान में दो मिनट मौन खड़े होकर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की।

इसके बाद विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने इस दुर्घटना को एक बड़ा मामला बताते हुए कहा कि सभी राजनीतिक दलों के नेताओं को श्रद्धांजलि देने का मौका दिया जाना चाहिए। कांग्रेस के आनंद शर्मा ने कहा कि यह राष्ट्रीय शोक का मामला है और नेताओं की भावनायें उनसे जुड़ी हुयी है । तृणमूल कांग्रेस के नदिमूल हक ने कहा कि इस मामले पर उनकी भावनायें नहीं व्यक्त करने दी जा रही है इसलिए उनकी पार्टी के सदस्य सदन से वाकआउट करते हैं। श्री हरिवंश ने कहा कि सदन की ओर से सामूहिक रूप से संवेदना व्यक्त की गयी है ।

प्रह्लाद पटेल, वी डी शर्मा ने जनरल रावत को श्रद्धांजलि दी

केन्द्रीय जलशक्ति राज्य मंत्री प्रह्लाद सिंह पटेल ने भारत के प्रथम प्रधान सेनापति चीफ ऑफ डिफेंस स्टाफ (सीडीएस) जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी एवं 11 अन्य सैन्य अधिकारियों के एक हेलीकॉप्टर हादसे में हुए निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है।श्री पटेल ने यहां यूनीवार्ता से कहा कि भारतीय सेना में वीरता एवं त्याग की प्रतिमूर्ति और देश के पहले सीडीएस जनरल बिपिन रावत, उनकी पत्नी श्रीमती मधूलिका रावत एवं 11 अन्य सैन्य अधिकारियों के असामयिक निधन से देश स्तब्ध और निशब्द है। हेलीकॉप्टर हादसे में जनरल रावत की सपत्नीक मृत्यु ने देश को झकझोर दिया है।

श्री पटेल ने कहा कि वह जनरल रावत सहित सभी शहीद सैनिक अधिकारियों के परिजनों के प्रति संवेदना और दिवंगत आत्माओं के प्रति श्रद्धांजलि अर्पित करते हैं। उन्होंने इस हादसे में घायल ग्रुप कैप्टन वरुण सिंह के शीघ्र स्वास्थ्य लाभ की कामना की।सांसद एवं भारतीय जनता पार्टी की मध्यप्रदेश इकाई के अध्यक्ष विष्णुदत्त शर्मा ने भी जनरल रावत एवं अन्य सैन्य अधिकारियों के निधन पर गहरा दुख जताया है। उन्होंने मध्यप्रदेश भाजपा की ओर से भावपूर्ण श्रद्धांजलि और दिवंगत सैन्य अधिकारियों के परिवारजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
%d bloggers like this: