State

शनिवार से डेढ़ लाख आबादी का दूर होगा अंधियारा

तीन दिन बाद ठीक हुआ मेन लाइन, अब लोकल फाल्ट दूर करने में जुटे विद्युतकर्मी ,दो पावर हाउस पर नहीं थी बिजली

बिल्थरारोड (बलिया)ः तहसील क्षेत्र के पशुहारी व रजईपुर पावर हाउस से जुड़े करीब डेढ़ लाख की आबादी में चार दिन बार शनिवार तक अंधियारा दूर हो सकता है। उक्त पावर हाउस पर 33 केवीए की मुख्य विद्युत लाइन ही खराब थी। जिसे शुक्रवार को लगभग ठीक कर लिया गया। जिससे उक्त पावर हाउस पर बिजली तो आ गई किंतु गत दिनों आई आंधी व शनिवार को पुनः तेज हवा संग मुसलाधार बारिश में जहां-तहां हुए लोकल फाल्ट ने बिजली आपूर्ति को पूरी तरह से पटरी पर नहीं आने दिया। जिसे दूर करने में स्थानीय विद्युतकर्मी जुटे हुए है। एसडीओ अजय मिश्र ने बताया कि पशुहारी व रजईपुर पावर हाउस पर मऊ जनपद के सेमरी मझवारा पावर हाउस से सीधे बिजली आती है किंतु गत दिनों आए आंधी में कई विद्युत पोल गिर जाने से उक्त पावर हाउस तक मेन बिजली ही नहीं पहुंच रही थी। जिसके कारण क्षेत्र में अंधेरा छाया रहा। शुक्रवार को मुख्य गड़बड़ी ठीक कर लिया गया है और क्षेत्र के कुछ क्षेत्रों में विद्युत आपूर्ति बहाल भी कर दिया गया है। किंतु अनेक लोकल फाल्ट के कारण पूरी विद्युत आपूर्ति सामान्य नहीं हो सकी है। जिसे दुरुस्त करने में विद्युतकर्मी लगे है। जिसे जल्द ही ठीक कर लिया जायेगा। बता दें कि उक्त रजईपुर व पशुहारी दोनों विद्युत उपकेंद्र से बिल्थरारोड तहसील चरौंवा, रजईपुर, इब्राहीमपट्टी, शाहपुर टिटिहा, भीमपुरा, बरौली, औराईकलां, उधरन, लोहटा, पचदौरा, बरवां, खंदवा व छिटकिया समेत छोटे-बड़े करीब 175 गांव के लगभग डेढ़ लाख की आबादी तक विद्युत आपूर्ति होती है। जबकि उक्त दोनों सब स्टेशन से आपूर्ति पूरी तरह से बंद होने से पूरा क्षेत्र तीन दिन से अंधेरे में डूबा रहा। वहीं स्थानीय लोगों ने चार दिन तक क्षेत्र के अंधेरे में डूबे रहने को विभागीय लापरवाही का परिणाम बताया। लाकडाउन में बिजली विभाग के एसडीओ के लगातार क्षेत्र से बाहर रहने को लेकर भी लोगों ने फेसबुक व अन्य सोशल साइट पर अपनी नाराजगी जताई है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close