PoliticsUttar Pradesh

मल्हनी से भाजपा ने मनोज सिंह को बनाया प्रत्याशी तो कांग्रेस ने मंगला गुरू को उतार दिया मैदान में

धनंजय सिंह न पाए और न अपनी पत्नी को ही दिला सके टिकट

जौनपुर। जिले में हो रहे मल्हनी उपचुनाव के लिए दो प्रमुख राजनीतिक दलों ने नामांकन प्रक्रिया के पांचवें दिन अपने अधिकृत प्रत्याशियों की घोषणा कर दी है। भारतीय जनता पार्टी द्वारा क्षत्रिय प्रत्याशी उतारे जाने के बाद कांग्रेस ने ब्राह्मण प्रत्याशी पर दांव लगा दिया। हालांकि बहुजन समाज पार्टी ने भी एक ब्राह्मण प्रत्याशी जयप्रकाश दुबे को चुनाव मैदान में उतारा है। बसपा प्रत्याशी सोमवार को नामांकन पत्र दाखिल भी कर चुके हैं।

blank

भारतीय जनता पार्टी ने इलाहाबाद विश्वविद्यालय के पूर्व छात्र नेता मनोज सिंह को अपना प्रत्याशी घोषित किया है। भाजपा प्रत्याशी मनोज सिंह बरसठी क्षेत्र के गबबुरीगांव (बेलौना) के निवासी कृषक हवलदार सिंह के 4 पुत्रों में दूसरे नंबर पर हैं।  छात्र जीवन से राजनीति में दिलचस्पी रखने वाले मनोज सिंह इलाहाबाद विश्वविद्यालय में वर्ष 2004 के छात्रसंघ चुनाव में उपाध्यक्ष पद पर चुने गए थे। उनकी पत्नी रूबी सिंह वर्ष 2010 में बरसठी ब्लाक की प्रमुख निर्वाचित हो चुकी हैं।

blank

कांग्रेस द्वारा घोषित प्रत्याशी राकेश मिश्रा उर्फ मंगला गुरू भी लगभग तीन दशक से राजनीति में हैं। उनके रूप में कांग्रेस ने अपने सच्चे सिपाही को मैदान में उतारा है। राकेश मिश्र मल्हनी विधानसभा क्षेत्र अन्तर्गत सिकरारा ब्लाक के निवासी हैं। वे कांग्रेस के प्रमुख नेता प्रमोद तिवारी के करीबी बताए जाते हैं।

blank

भाजपा और कांग्रेस द्वारा अपने अधिकृत प्रत्याशियों की घोषणा के साथ ही ‘बाहुबली’ धनंजय सिंह की किसी राजनीतिक पार्टी के टिकट पर चुनाव मैदान में उतरने की मंशा एक बार फिर अधूरी रह गई। सूत्रों से मिली एक दिलचस्प जानकारी के अनुसार धनंजय सिंह भाजपा में अपने लिए कोई गुंजाइश न देख कर अपनी पत्नी को टिकट दिलाने की कोशिश कर रहे थे, दूसरी तरफ वे अपने लिए कांग्रेस का टिकट फाइनल करवा रहे थे। उनकी किसी पार्टी से कम से कम एक टिकट की आस नहीं पूरी हो सकी। अब उनके पास निर्दल चुनाव का ‌विकल्प बचा है।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close