StateUP Live

पहली बार मात्र 9 माह में किसी आयोग और बोर्ड ने पूरी की भर्ती प्रक्रिया: सीएम योगी

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नव चयनित 39 उपजिलाधिकारियों, 41 पुलिस उपाधीक्षकों एवं 16 कोषाधिकारी-लेखाधिकारियों को वितरित किये नियुक्ति पत्र.

  • पहले प्रदेशवासी के सामने पहचान का संकट था, आज सीना तान कर बोलता है कि वह उत्तर प्रदेश का है
  • युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वालों से सख्ती से निपट रही सरकार: सीएम योगी

लखनऊ : योगी सरकार की निष्पक्ष एवं पारदर्शी भर्ती प्रक्रिया लगातार जारी है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मिशन रोजगार के तहत अब तक साढ़े 6 लाख से अधिक युवाओं को सरकारी नौकरी उपलब्ध करायी है। इसी क्रम में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गुरुवार को अपने सरकारी आवास पर उत्तर प्रदेश लोक सेवा आयोग द्वारा चयनित 39 उपजिलाधिकारियों, 41 पुलिस उपाधीक्षकों एवं 16 कोषाधिकारी-लेखाधिकारियों को नियुक्ति पत्र वितरित किये। इस दौरान नवचयनित अभ्यर्थियों ने अपने अनुभव साझा किये। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि जब सरकार ईमानदारी के साथ काम करती है तो ओवरऑल परसेप्शन चेंज होता है। उन्होंने कहा कि पिछले 7 वर्षों में आपने देखा होगा कि जहां पहले प्रदेश के लोगों के सामने अपनी पहचान का संकट था। वहीं, आज वह सीना तान कर कहते हैं कि मैं उत्तर प्रदेश का हूं। यह सब सरकार के निर्णय के मेकैनिज्म से हुआ है।

आज भर्ती में न किसी सिफारिश की जरूरत पड़ रही और न ही कोई हस्तक्षेप हो रहा
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने नवचयनितों को संबोधित करते हुए कहा कि उनके पास 30 से 35 वर्ष का समय जनता जनार्दन की सेवा करने का है। उनकी दुआएं लेने का है, ताकि अपने भविष्य को उज्जवल बना सकें। उन्होंने कहा कि पहली बार किसी आयोग और बोर्ड ने मात्र 9 माह में चयन की प्रक्रिया पूरी की है। इसमें न किसी की सिफारिश की जरूरत पड़ी और न कोई हस्तक्षेप हुआ। वहीं जिन लोगों ने परीक्षा की शुचिता से खिलवाड़ करने की कोशिश की, वह लोग उसका खामियाजा भुगत रहे हैं। उनकी प्रॉपर्टी जब्त कर ली गई, उनके घर पर रेड पड़ी। इतना ही नहीं सरकार तय कर चुकी है कि युवाओं के भविष्य के साथ खिलवाड़ करने वालों के साथ सख्ती से निपटा जाएगा।

उन्हाेंने कहा कि हमारी कार्ययोजना का ही परिणाम है कि पिछले 7 वर्षों के अंदर करोड़ों युवाओं को नौकरी और रोजगार की सुविधा प्रदेश में उपलब्ध करायी गयी है। इसी का परिणाम है कि आज पर कैपिटा इनकम और प्रदेश की जीडीपी में इजाफा हुआ है। इतना ही नहीं यूपी देश की दूसरी बड़ी अर्थव्यवस्था के रूप में उभरकर सामने आया है। यह तब होता है जब सरकार ईमानदारी के साथ कार्य करती है। उन्हाेंने कहा कि आपको गवर्नमेंट के इंजन के रूप में अपनी भूमिका का निर्वहन करना है। आज टेक्नोलॉजी काफी इंप्रूव हो चुकी है। उन्हाेंने कहा कि आप जब तक फील्ड में आएंगे तब तक हम राजस्व के सभी कार्यों को डिजिटाइज करने में सफल हो चुके होंगे। इसके बाद भी राजस्व संबंधी विवाद के मामले सामने आएंगे। ऐसे में इन मामलों को निपटाने के लिए आपको अपनी तहसील में रहकर फाेकस करना होगा। साथ ही पेंडेंसी को समयबद्ध तरीके से निस्तारित करना होगा।

थाने की एक-एक गतिविधियों को करना है वॉच
मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि एक गरीब को न्याय देना हमारा दायित्व होना चाहिए। हमें गरीबों के साथ खड़े होना चाहिये। उन्हाेंने कहा कि कानून व्यवस्था बनाए रखने के साथ राजस्व संबंधी मामलों के निस्तारण में डिप्टी एसपी का अहम रोल होता है। ऐसे में उन्हे थाने जाकर वहां की एक-एक गतिविधियों को वॉच करना होगा। इसके साथ ही पब्लिक से कैसा व्यवहार हो रहा है, चार्ज शीट की क्या स्थिति है आदि पर ध्यान देना होगा। उन्हाेंने नवचयनितों पर विश्वास जताते हुए कहा कि वह ईमानदारी के साथ प्रदेश सरकार के कार्यों की स्पीड को आगे बढ़ाएंगे। साथ ही जनता जनार्दन के हितों का ध्यान रखें और त्वरित निर्णय लें ताकि अच्छे प्रशासन के अधिकारी के रूप में आपकी छवि बने। उन्हाेंने सभी नवचयनितों को प्रशासन का हिस्सा बनने पर बधाई दी।

कार्यक्रम में वित्त एवं संसदीय कार्य मंत्री सुरेश खन्ना, मुख्य सचिव दुर्गा शंकर मिश्र, अपर मुख्य सचिव नियुक्ति डॉ. देवेश चतुर्वेदी, अपर मुख्य सचिव दीपक कुमार, डीजीपी प्रशांत कुमार, प्रमुख सचिव गृह संजय प्रसाद आदि मौजूद रहे।

पारदर्शी और समयबद्ध परीक्षा प्रक्रिया पूर्ण कराने पर नव चयनितों ने जताया सीएम योगी का आभार
नवचयनित अभ्यर्थियों ने मात्र 9 माह में परीक्षा प्रक्रिया को पूरी पारदर्शिता से संपन्न कराने के लिए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का आभार जताया। डिप्टी एसपी पद पर चयनित प्रयागराज के आकाश प्रियदर्शी ने कहा कि सरकार और लोक सेवा आयोग द्वारा निष्पक्ष और पारदर्शी तरीके से यह भर्ती प्रक्रिया पूरी कराई गई है। इसके लिए मुख्यमंत्री जी और लोक सेवा आयोग के चेयरमैन का बहुत आभारी हूं। इसी तरह, डिप्टी एसपी पद के लिए चयनित संत कबीरनगर की प्रभा पटेल ने भी सीएम योगी के प्रति सम्मान जताते हुए कहा कि समयबद्ध परीक्षा प्रक्रिया पूर्ण कराने के लिए धन्यवाद कहना चाहूंगी।

सीएम योगी के मार्गदर्शन में परीक्षाएं पूरी शुचिता के साथ संपन्न कराई गईं। इसकी वजह से हम जैसे युवाओं को पुलिस सेवा में आकर लोगों के लिए कार्य करने का सुअवर प्राप्त हो रहा है। डिप्टी एसपी पद के लिए प्रथम स्थान पर चयनित स्मृति राणा ने कहा कि नियुक्ति पत्र प्रदान करने के साथ ही पारदर्शिता के साथ मात्र 9 माह में परीक्षा प्रक्रिया को पूर्ण कराने के लिए सीएम योगी की आभारी हूं। कानपुर के अनुभव राजर्षि भी डिप्टी एसपी पद पर चयनित हुए हैं। उन्होंने कहा कि इतने कम समय में परीक्षा प्रक्रिया पूर्ण होने के साथ ही आज नियुक्ति पत्र भी मिल गया है। सीएम योगी ने आज जो सफलता के मंत्र दिए हैं, उन्हें आत्मसात करने का पूरा प्रयास करूंगा।

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ बोले नया भारत छेड़ता नहीं, छेड़ने वालों को छोड़ता नहीं

VARANASI TRAVEL
SHREYAN FIRE TRAINING INSTITUTE VARANASI

Related Articles

Back to top button
%d bloggers like this: