BusinessNational

ईपीएफओ-ई-साइन पंजीकरण की प्रक्रिया को आसान बनाया

नई दिल्ली । कोविड–19 महामारी के प्रसार को नियंत्रित करने के लिए सरकार द्वारा घोषित लॉकडाउन और अन्य व्यवधानों के वर्तमान परिदृश्य में, नियोक्ता सामान्य तरीके से कार्य करने में सक्षम नहीं हैं और ईपीएफओ पोर्टल पर अपने डिजिटल हस्ताक्षर या आधार आधारित ई-साइन का उपयोग करने में समस्याओं का सामना कर रहे हैं।

ईपीएफओ पोर्टल पर डिजिटल हस्ताक्षर (डीएससी) या आधार आधारित ई-साइन का उपयोग करके नियोक्ताओं के अधिकृत व्यक्तियों द्वारा केवाईसी सत्यापन, स्थानांतरण दावा सत्यापन जैसे कई महत्वपूर्ण कार्य ऑनलाइन किए जा रहे हैं। डीएससी / ई-साइन का उपयोग करने के लिए, क्षेत्रीय कार्यालयों से एक बार अनुमोदन आवश्यक है। लॉकडाउन के कारण, कई नियोक्ता क्षेत्रीय कार्यालयों को एक बार पंजीकरण के लिए अनुरोध भेजने में कठिनाइयों का सामना कर रहे हैं।

उपरोक्त स्थिति को ध्यान में रखते हुए और अनुपालन प्रक्रिया को और आसान बनाने के लिए, ईपीएफओ ने ईमेल के माध्यम से भी इस तरह के अनुरोधों को स्वीकार करने का निर्णय लिया है। नियोक्ता मेल के माध्यम से संबंधित क्षेत्रीय कार्यालय को विधिवत हस्ताक्षरित अनुरोध पत्र की स्कैन की हुई प्रति भेज सकते हैं।

इसके अलावा, ऐसे प्रतिष्ठान, जिनके अधिकृत अधिकारी डिजिटल हस्ताक्षरों को मंजूरी दे चुके हैं, लेकिन डोंगल का पता लगाने में सक्षम नहीं हैं, नियोक्ता पोर्टल पर लॉग इन कर सकते हैं और पहले से पंजीकृत अधिकृत हस्ताक्षरकर्ताओं के पंजीकरण के लिए दिए गए लिंक के माध्यम से अपना ई-साइन पंजीकृत कर सकते हैं। यदि अनुमोदित डिजिटल हस्ताक्षर के साथ  उनका नाम वैसा ही है, जैसा कि उनके आधार में है, तो ई-साइन के पंजीकरण के लिए किसी और अनुमोदन की आवश्यकता नहीं होगी। अन्य अधिकृत हस्ताक्षरकर्ता अपने ई-साइन को पंजीकृत कर सकते हैं तथा नियोक्ताओं द्वारा अनुमोदित अनुरोध पत्र भेज सकते हैं और संबंधित ईपीएफओ कार्यालयों की मंजूरी ले सकते हैं। यह सुविधा महामारी से प्रतिकूल रूप से प्रभावित नियोक्ताओं और ईपीएफ सदस्यों को और राहत प्रदान करेगी।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close