Breaking News

सड़क पर मछली पकड़ने उतरे कांग्रेसी

गोरखपुर : लगातार दूसरे दिन झमाझम बारिश से गोरखपुर के प्रमुख बाजार और मोहल्लों में जलभराव की स्थिति आ गई। अस्पताल, कलेक्ट्रेट से लेकर बेतियाहाता जैसे वीआईपी मोहल्लों में जलभराव से लोगों को काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ा। बारिश थमने के बाद पूरे शहर के लोग जाम से जूझते नजर आये। जलभराव की समस्या को लेकर आक्रोशित कांग्रेसियों ने बेतियाहाता की सड़कों पर मछली मारकर अपना विरोध दर्ज कराया। मंगलवार को दिन में करीब 11 बजे हुई बारिश से कई प्रमुख इलाकों में जलभराव की स्थिति बन गई। जिला अस्पताल, कलेक्ट्रेट समेत करीब करीब सभी दफ्तरों में घुटने तक पानी लग गया। करीब आधे घंटे की बारिश में गोलघर, टाउन हॉल गांधी प्रतिमा के पास, दाउदपुर समेत प्रमुख बाजार की सड़कों पर पानी भर गया। बारिश खत्म होने के बाद लोगों को ट्रैफिक जाम की समस्या से जूझना पड़ा।
इसके साथ ही शहर के निचले इलाकों में भी पानी भर गया। महुईसुघरपुर, कूड़ाघाट, देवरिया बाईपास आदि इलाकों में लोगों की मुश्किलें जलभराव से बढ़ गईं। वहीं बिछिया जंगल तुलसीराम के तुलसीपुरम और काशीपुरम मोहल्लों में लोगों की दुश्वारियां फिर बढ़ गईं। जिला कांग्रेस कमेटी के पूर्व महासचिव अनवर हुसैन और एनएसयूआई के निवर्तमान प्रदेश उपाध्यक्ष योगेश प्रताप सिंह के नेतृत्व में कांग्रेसियों ने शहर में जलभराव का अनूठे ढंग से विरोध किया। जाल लेकर कांग्रेसी सड़क पर उतर गए और अपना विरोध जताया। इस दौरान अनवर हुसैन ने कहा कि थोड़े से पानी में जलभराव हो जाता है। ऐसे में हम जाल लेकर मछली मारने उतरे हैं। योगेश प्रताप सिंह ने कहा कि जलभराव देखकर लगता ही नहीं है कि हम मुख्यमंत्री के शहर में रहते हैं। विरोध प्रदर्शन करने वालों में मोती लाल यादव, सोनू कुमार, शानू खान, इकबाल अहमद, श्याम मोहन पासवान, श्याम मिश्रा, सुबोध पांडे, अयूब अली, विजय गुप्ता,जिसु खान, राजकुमार पासवान इत्यादि कार्यकर्ता उपस्थित रहे।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close