State

दुर्घटना को दावत दे रहा मुख्य सड़क,अधिकारी मौन

महराजगंज। जनपद मुख्यालय से लगभग 70 किमी दूर निचलौल व्लाक का ग्राम सभा सोहगीबरवा,भोथहा,शिकारपुर तक पहुचने वाले मार्ग इन दिनों सरकार की उपलब्धियो को आइना दिखाने के लिए काफी है।बरसात की चंद बुदे पड़ते ही इस छेत्र के लोग आवागमन को लेकर चिन्ता मे पड़ जाते है। बताते चले इन ग्राम सभाओ को जोड़ने वाली सड़को की दशा यह है इन ग्राम सभा के लोगो को बरसात के दिनों में काफी दिक्कतों का सामना करना पड़ता है। इसका प्रमुख कारण यह है कि बरसात मे नदी नारायणी अपने उफान पर होती है। नाव से यात्रा करना खतरे से खाली नही होता और मुख्य सम्पर्क मार्ग जो बिहार होकर जाता,शिकारपुर से लेकर बिहार के रोहुआ नाला तक चलने लायक नही है। नाला उफान के कारण जगह-जगह सड़क कट गया है और कीचड़ से सराबोर हो जाता है। बाइक व साइकिल लेकर चलना मुश्किल है। वही ग्रामिणो ने बताया कि सड़क पर मिट्टी कार्य हेतु वन विभाग को पैसा मिला था,मगर खाना पूर्ति करके छोड़ दिया गया। जिससे और रास्ता खराब हो गया है। सूत्रों की माने तो मात्र 21घण्टे जेसीबी से चला था। सोहगीबरवा के ग्रामीण रामदुलारे साहनी बताते है कि केवल शरीर लेकर चलना मुश्किल है,हर बार तो कुछ ठीक भी था मगर इस बार ऐसा हुआ की अगर कोई बीमार पड़ जाये तो इलाज के अभाव में दम तोड़ देगा। वही शिकारपुर के ग्रामीण रंजन यादव बताते है कि अगर सही से मिट्टी सड़क पर नही पड़ा तो आवागमन पूर्ण रूप से बंद हो जाएगा। रामसवारे निषाद कोटेदार बताते है कि अगर सड़क पर मरम्मत कार्य नही हुआ तो लोगो को राशन लाने के लिए नवरंगिया बिहार जाना पड़ेगा। क्योंकि राशन सोहगीबरवा नही आ पायेगा,रास्ता बहुत ही खराब है। सोहगीबरवा ग्राम प्रधान प्रतिनिधि विनय सिंह ने बताया कि जल्दी ही सड़क पर मिट्टी कार्य होगा,अब तक हो गया होता,मगर बारिस के चलते रुका है। वही ग्रामिणो ने बताया कि अगर समय रहते शासन/प्रशासन ने इन सड़को पर ध्यान नही दिया तो हमे सड़क पर उतर कर धरना प्रदर्शन करने को बाध्य होना पड़ेगा।

Related Articles

Back to top button
Close
Close