National

बंदरगाह- स्थिति अनुकूल होते ही फंसे हुए भारतीय नाविकों को शीघ्र निकालने का आश्वासन

मनसुख मांडवियाने भारतीय बंदरगाहों पर चालक दल के सदस्यों को बदले जाने के संबंध में विभिन्न संघों के साथ बातचीत की

नई दिल्ली । केन्द्रीय जहाजरानी राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार)  मनसुख मांडविया ने भारतीय बंदरगाहों पर चालक दल के सदस्यों को बदले जाने तथा अंतरर्राष्ट्रीय जल क्षेत्रों मेंड्यूटी कर रहे या लॉकडाउन की वजह से जहां तहां फंसे भारतीय चालक दल के सदस्यों की स्थिति का आकलन करने के लिएजहाजरानी कंपनियों, समुद्री परिवहन संघों और नाविकों के यूनियनों के साथ वीडियो कॉन्फ्रेंस के माध्यम से बातकी। श्री मांडविया ने भविष्य में निकासी योजना के लिए अंतरराष्ट्रीय जल क्षेत्रों में फंसे भारतीय नाविकों का विवरण उपलब्ध कराने का निर्देश दिया है। श्री मांडविया ने विभिन्न नाविक संघों को आश्वस्त किया कि जैसे ही स्थिति अनुकूल होगी इन नाविकों को शीघ्र निकालने की व्यवस्था की जाएगी। केन्द्रीय मंत्री ने आपूर्ति श्रृंखला बनाए रखने में जहाजों में काम कर रहे चालक दल के सदस्यों के महत्व को स्वीकार किया। उन्होंने इनके समक्ष मौजूद चुनौतियों का उल्लेख करते हुए परीक्षा की इस घड़ी में उनके काम की सराहना भी की।

श्री मांडविया ने जहाजरानी मंत्रालय के अधिकारियों को भारतीय बंदरगाहों पर नाविकों की आवाजाही की प्रक्रिया  को आसान बनाने के निर्देश भी दिए। वीडियो कॉन्फ्रेंस में इंडियन नेशनल शिप ओनर्स एसोसिएशन (आईएनएसए), राष्ट्रव्यापी नौवहन एजेंसियों के समुद्री संगठन (एमएएनएसए), नेशनल यूनियन ऑफ सीफेसर्स ऑफ इंडिया (एनयूएसआई), द इंडियन मेरीटाइम फाउंडेशन (आईएएफ),द मेरीटाइम यूनियन ऑफ इंडिया (एमयूआई) और द मेरीटाइम एसोसिएशन ऑफ शिप ओनर्स शिप मैनेजर एंड एजेंट् (एमयूआईए)जैसे संगठनों के प्रतिनिधियों ने हिस्सा लिया।

Tags

Related Articles

Back to top button
Close
Close