Breaking News

निर्भया के गांव मेडवरा कलां में खुशी का माहौल


बलिया (उप्र) । देश ही नही, दुनिया भर को झकझोर देने वाले दिल्ली के निर्भया सामूहिक बलात्कार एवं हत्याकांड मामले के चारों दोषियों को शुक्रवार को तड़के फांसी दिये जाने के बाद निर्भया के पैतृक गांव में खुशी का माहौल है।

गांव में लोगों ने फांसी की खबर सुनने के बाद एक तरह से होली और दीपावली साथ साथ मनाई । निर्भया के दादा ने 20 मार्च को निर्भया दिवस के रूप में मनाने की मांग करते हुए कहा ‘‘ काली रात बीत गई और नया सबेरा हो गया । आज देश में सबसे बड़े कोरोना वायरस का अंत हो गया ।’’ जिला मुख्यालय से तकरीबन 45 किलोमीटर दूर बिहार सीमा से सटे मेड़वरा कलां में आज की सुबह बेहद खास रही । निर्भया के गांव में रह रहे उसके परिजनों के साथ ही ग्रामीण कल रात से ही टीवी के सामने बैठे रहे तथा पलपल की ताजा जानकारी लेते रहे ।

चारों दोषियों को आज तड़के फांसी पर लटकाए जाने की खबर टी वी पर देखते ही गांव में मौजूद निर्भया के दादा-दादी और चाचा-चाची सहित अन्य परिजनों की आंखों में खुशी के आंसू छलक पड़े । लोगों ने एक दूसरे को मिठाई खिलाकर और रंग लगाकर जश्न मनाया। निर्भया के परिजन के साथ ही भारी संख्या में ग्रामीण पैतृक गांव में निर्भया की स्मृति में स्थापित सरकारी अस्पताल परिसर में एकत्रित हुए तथा रंग व अबीर गुलाल लगाकर होली मनाई ।

निर्भया के दादा लाल जी सिंह ने पत्रकारों से बातचीत करते हुए कहा कि आज उनके परिवार के साथ ही देश को न्याय मिला । उन्होंने कहा ‘‘आज भारत से सबसे बड़ा कोरोना वायरस खत्म हो गया। काली रात बीत गई तथा नये सबेरे का आगाज हो गया । निर्भया कांड के बाद से सात वर्ष से परिवार ने होली दीपावली नहीं मनायी थी । आज हम होली और दीपावली मना रहे हैं । ’’

उन्होंने न्यायपालिका को धन्यवाद देते हुए कहा कि उस ने उन्हें न्याय दिया ।

लाल जी सिंह ने कहा ‘‘अब निश्चित रूप से देश में दरिंदगी करने के पहले लोग सोचने पर विवश होंगे । बलात्कार सरीखी घटनाओं पर अंकुश लगेगा ।’’

उन्होंने कहा कि दिल्ली की आम आदमी पार्टी सरकार ने यदि दया याचिका को तकरीबन डेढ़ साल तक लटकाया नही होता तो सम्भव था कि दरिंदे पहले ही फाँसी पर लटक गये होते ।

सिंह ने मांग की कि 20 मार्च को निर्भया दिवस के रूप में घोषित किया जाय तथा महिला अपराध सम्बन्धी मामलों में त्वरित न्याय के लिए कानून में संशोधन कर समयबद्ध सजा का प्रावधान किया जाय ।

उन्होंने इसके साथ ही कहा कि योगी सरकार को गांव के सर्वांगीण विकास से जुड़े कार्य को तत्काल अमलीजामा पहनाने का कार्य करना चाहिए ।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
Close
Close